Saturday, June 22, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMuzaffarnagar’’मेरा खाता-मेरी बचत’’ थीम पर ग्रामीणों को किया प्रशिक्षित

’’मेरा खाता-मेरी बचत’’ थीम पर ग्रामीणों को किया प्रशिक्षित

- Advertisement -
  • सीएफएल ने महिला दिवस पर महिलाओं को बताये बचत के तरीके
  • कैम्प में ग्रामीणों ने पूछे सवाल, प्रशिक्षकों ने दूर किये भ्रम

जनवाणी संवाददाता  |

मुजफ्फरनगर: महिला दिवस के अवसर पर किसिल फाउन्डेशन द्वारा ’’मेरा खाता-मेरी बचत’’ थीम पर ग्रामों में कैम्प लगाकर ग्रामीण महिलाओं को घर का बजट बनाकर बचत करने के तरीके तथा उन्हें खातों में सुरक्षित रखने तथा उसके निवेश के तरीके बताये जा रहे हैं।

WhatsApp Image 2022 03 08 at 5.15.49 PM

खतौली वित्त साक्षरता केन्द्र द्वारा इसी कड़ी में एक कैम्प का आयोजन किया गया, जिसमें ग्रामीण महिलाओं को बचत के तरीके बताने के साथ उनके निवेश करने के तरीके भी बताये गये।

WhatsApp Image 2022 03 08 at 5.15.50 PM

खतौली ब्लाॅक के ग्राम हुसैनपुर बोपाड़ा में आयोजित कैम्प को संबोधित करते हुए खतौली सीएफएल मैनेजर शीजा खानम ने कहा कि एक घर की नींव एक महिला होती है और महिला ही घर को स्वर्ग बना सकती है। घर का बजट बनाना महिलाओं के हाथ में होता है|

WhatsApp Image 2022 03 08 at 5.15.51 PM

अतः महिलाएं घर का ऐसा बजट बनाये, जिससे वह प्रतिमाह कुछ न कुछ बचत कर सकें और इस बचत को बैंक में खाता खोलकर सुरक्षित रखें। उन्होंने कहा कि महिलाएं अपनी बचत को बैंक में बचत खाते में रखने के साथ ही एफडी या आरडी खाते खोलकर उनमें भी रख सकती है। महिलाओं द्वारा घर के बजट से की जाने वाली छोटी-छोटी बचत एक समय में जाकर बड़ी राशि बन जाती है|

जो जरूरत पड़ने पर काम आ सकती है। उन्होंने बताया कि एक बच्ची के पैदा होने पर मां-बाप को ज्यादा चिन्ता हो जाती है, परन्तु मां-बाप इस चिन्ता को छोड़कर यदि बचत करते हुए बच्चे के भविष्य को सुरक्षित कर दे तो ज्यादा अच्छा रहेगा। उन्होंने सभी महिलाओं से आह्वान किया कि वह अपनी दस वर्ष से कम उम्र की बेटी को सुकन्या समद्धि योजना का लाभ अवश्य दिलायें।

उन्होंने इस योजना को कैसे लिया जा सकता है और इसका क्या लाभ मिलेगा, इसकी पूरी जानकारी ग्रामीणों को दी। इसके अलावा उन्होंने बताया कि बचत खाता खोलने के साथ ही बैंकों द्वारा एटीएम उपलब्ध कराया जाता है, जिससे किसी भी समय बैकिंग का फायदा तो उठाया ही जा सकता है|

साथ ही इस एटीएम में सरकार द्वारा एक बीमा भी दिया जाता है, जिसे दुर्घटना होने पर एटीएम कार्ड धारक के परिवार को दो लाख रूपये की राशि मिलती है, परन्तु यह राशि तभी मिलती है, जब दुर्घटना से 45 दिन के अंदर यह एटीएम इस्तेमाल किया होता है।

शीजा खानम ने कैम्प के दौरान प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना व प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि किस तरह एक रूपये से भी कम प्रतिदिन खर्च करके चार लाख रूपये का दुर्घटना बीमा तथा दो लाख रूपये का सामान्य बीमा लिया जा सकता है।

कैम्प में महिलाओं द्वारा अपनी समस्याओं को रखा गया, जिसका सीएफएल अधिकारियों द्वारा निराकरण किया गया तथा साथ ही बैंक में होने वाली परेशानियों का भी हल कराया।

कैम्प में समाजसेवी वसीम अहमद ने बेटी बचाओ-बेटी पढाओ को लेकर लोगों को संबोधित किया तथा एक शानदार की प्रस्तुत किया, जिसकी महिलाओं ने जोरदार सराहना की। इस दौरान बैंक कोर्डिनेटर धनसिंह, शिव कुमार, सीएफएल डीईओ समरीन समेत गांव के जिम्मेदार लोग मौजूद रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments