Friday, September 17, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutशुभकामना नर्सिंग होम को सीएमओ का नोटिस

शुभकामना नर्सिंग होम को सीएमओ का नोटिस

- Advertisement -
  • नोटिस शुभकामना नर्सिंग होम के गेट पर कर दिया गया चस्पा

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: हापुड़ रोड आरटीओ के समीप स्थित शुभकामना हॉस्पिटल के संचालकों को सीएमओ ने नोटिस देकर चिकित्सकीय गतिविधियां तत्काल बंद कर दिए जाने के निर्देश दिए हैं।

इसके अलावा एक पत्र एसओ नौचंदी को भी सीएमओ कार्यालय से भेजा गया है। इस पत्र के बाद नौचंदी पुलिस नर्सिंग होम पर जा पहुंची और वहां संचालकों से सीएमओ की अनुमति मिलने तक किसी प्रकार की चिकित्सकीय गतिविधियां संचालित न करने को कहा।

सीएमओ के यहां से जारी किया गया नोटिस शुभकामना के गेट पर चस्पा कर दिया गया है। सीएमओ डा. अखिलेश मोहन ने बताया कि इस चिकित्सालय के मालिकाना हक को लेकर पहले से ही विवाद चल रहा है। इसको लेकर पूर्व में थाना नौचंदी में वाद भी दर्ज है।

इससे पूर्व भी इस नर्सिंग होम को बगैर अनुमति संचालक को लेकर नोटिस दिया गया था। उसके बाद संचालकों ने आन लाइन पंजीकरण के लिए आवेदन किया था, लेकिन वर्तमान में जो हालात बने हुए हैं। उसमें इसको संचालन की अनुमति विवाद का निपटारा होने तक संभव नहीं है।


हिंद हॉस्पिटल का पंजीकरण होगा रद, सीएमओ को लिखा पत्र

मेरठ: शास्त्री नगर स्थित सेक्टर-13 में नियम विरुद्ध बनाए गए अस्पताल के खिलाफ आवास विकास ने कार्रवाई की तैयारी शुरू कर दी है। आवास विकास ने सीएमओ को पत्र लिखकर अस्पताल का पंजीकरण रद कराने की बात कही है। साथ ही बिल्डिंग की सीलिंग की कार्रवाई भी की जा सकती है। अस्पताल संचालकों ने यहां विवाह मंडप के मानिचत्र पर अस्पताल बनाकर खड़ा कर दिया, जबकि इसे लेकर छह माह पूर्व ही नोटिस जारी किया गया था। इसके बावजूद अस्पताल शुरू हो गया।

शास्त्री नगर हापुड़ रोड योजना संख्या-सात में 8/13 कमर्शियल प्रॉपटी है और यहां निर्माणकर्ता ने आवास विकास से मंडप का नक्शा पास कराया था, लेकिन यहां पर निर्माणकर्ता की ओर से अस्पताल बना दिया गया और इसका संचालन भी शुरू कर दिया गया है।

आवास विकास को जब इसकी भनक लगी तो विभाग के अधिशासी अभियंता एमबी कौशिक ने इस संबंध में एक पत्र जनवरी 2021 में सीएमओ मेरठ को लिखकर अस्पताल की अनुमति न दिए जाने की मांग की थी। लेकिन सीएमओ आॅफिस की ओर से पत्र पर कोई संज्ञान नहीं लिया गया और यहां अस्पताल का संचालन शुरू हो गया है। यहां हिंद हॉस्पिटल एवं ट्रॉमा सेंटर के नाम से अस्पताल शुरू हो गया है।

अगर यह अस्पताल नियम विरुद्ध बना है तो ऐसे में बिना नियमों के तीन मंजिला इमारत बनना लोगों की जान के साथ खिलवाड़ करना है। अगर मंडप का मानचित्र स्वीकृत था और यहां पर अस्पताल का संचालन शुरू हो चुका है तो यह अपने आप में एक बड़ा सवाल खड़ा करता है। इस प्रकार से तीन मंजिला इमारत बनाया जाना जिसका मानचित्र स्वीकृत न हो अपने आप में बड़ी लापरवाही है।

अब आवास विकास ने अस्पताल के खिलाफ कार्रवाई की तैयारी शुरू कर दी है। आवास विकास परिषद के अधिशासी अभियंता एमबी कौशिक ने बताया कि मौके पर जांच में पाया गया है कि यहां मंडप के मानचित्र पर अस्पताल का निर्माण किया गया है। अब इसे लेकर पुन: सीएमओ मेरठ को पत्र लिखा जा रहा है और अस्पताल के रजिस्ट्रेशन को रद कराने की मांग की जाएगी। इसके साथ ही नियम विरुद्ध निर्माण किए जाने पर सीलिंग तक की कार्रवाई की जा सकती है।


कीर्ति पैलेस के पास बनी अवैध कालोनी होगी ध्वस्त

मेरठ: आवास विकास परिषद की ओर से काम बंद कराए जाने के बाद भी अवैध रूप से कालोनी बनकर तैयार हो गई। मामला लखमी विहार और कीर्ति पैलेस के मध्य बनी कालोनी का है। अब विभाग की ओर से इसकी रिपोर्ट एमडीए को भेजी है। साथ ही इस कालोनी के ध्वस्तीकरण को रिपोर्ट तैयार की जा रही है। एमडीए की ओर से कालोनी की फाइल आवास विकास से मांगी गई है जल्द ही इस पर कार्रवाई की जाएगी।

आवास विकास परिषद मेरठ के निर्माण खंड-एक के अंतर्गत कीर्ति पैलेस और लखमी विहार के मध्य खसरा संख्या 6378 में अवैध रूप से प्लॉट काटकर वहां कालोनी तैयार कर दी गई है। इस संबंध में सोमदत्त सिटी निवासी कुलदीप शर्मा की ओर से एक पत्र आवास विकास को लिखा गया। जिसके बाद जांच में पाया गया कि यहां बिल्डर द्वारा बिना मानचित्र स्वीकृत कराए ही निर्माण कराया गया।

बिना मानचित्र स्वीकृति के यहां प्लॉट काटकर मकान तैयार करा दिए गए। इसके बाद जांच में शिकायत सही पाए जाने पर आवास विकास की ओर से जनवरी 2021 में नोटिस जारी कर यहां निर्माण कार्य बंद करा दिया गया, लेकिन बाद में चोरी छिपे यहां निर्माण कार्य जारी रहा। अब आवास विकास की ओर से इस कालोनी को लेकर एक रिपोर्ट एमडीए को भेजी गई है।

एमडीए के साथ मिलकर इसके खिलाफ कार्रवाई की तैयारी है। एमडीए को फाइल भेजकर यहां ध्वस्तीकरण की कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। अधिकारियों की माने तो किसी भी सूरत में अवैध रूप से होने वाले कार्यों को बख्शा नहीं जाएगा। जहां भी नियम विरुद्ध कार्य होता पाया जाएगा वहां कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि इस कालोनी में शहर के बड़े-बड़े नामचीन लोगों की पत्ती शामिल है और जागृति विहार व्यापार संघ से जुडेÞ व्यापारी नेता की यह कालोनी बताई जा रही है।

वहीं, इस संबंध में अधिशासी अभियंता, आवास विकास परिषद, एमबी कौशिक का कहना है कि कालोनी में बिना मानचित्र स्वीकृति के कार्य होता पाया गया था जिसके चलते वहां कार्य बंद करा दिया गया था। अब कालोनी के ध्वस्तीकरण को लेकर योजना बनाई जा रही है। इसे लेकर एमडीए को भी रिपोर्ट भेज दी गई है। जल्द ही यहां ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की जाएगी।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments