Thursday, April 25, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsBaghpatकोरोना: गुफा बाबा मंदिर के कपाट बंद, गेट पर ही चढ़ाया प्रसाद

कोरोना: गुफा बाबा मंदिर के कपाट बंद, गेट पर ही चढ़ाया प्रसाद

- Advertisement -
  • सरूरपुर कलां गांव स्थित गुफा वाले बाबा मंदिर पर होली पर्व पर लगता है ऐतिहासिक मेला
  • होली पर्व से पहले रविवार को मंदिर में उमड़ा भक्तों का सैलाब, मेले में खरीददारी की
  • दिल्ली-सहारनपुर हाइवे पर लगा लंबा जाम, वाहन चालकों को उठानी पड़ी परेशानी

जनवाणी संवाददाता |

बागपत: बागपत के सरूरपुर कलां गांव स्थित गुफा वाले बाबा मंदिर पर होली पर्व पर तीन दिवसीय मेला लगता है और इससे पहले रविवार को वहां पर भक्तों में आस्था देखने को मिलती है। लेकिन यहां पर कोरोना बीमारी के एक बार फिर पैर पसारने के कारण मंदिर के कपाट बंद कर दिए गए है और किसी भी श्रद्धालुओं को जलाभिषेक व पूजा अर्चना करने की अनुमति नहीं दी गयी। मंदिर में उमड़ा भक्तों का जनसैलाब बाहर से ही हाथ जोड़कर व गेट पर जलाभिषेक कर वहां से वापस लौट गए, क्योंकि उनके अंदर बाबा गुफा वाले के प्रति जो आस्था थी।

64 4

वहीं श्रद्धालुओं ने मेले में जमकर खरीददारी की और पुलिस बल भी मुस्तैदी से तैनात रहा। वहां सीसीटीवी कैमरों से भी निगाह रखी जा रही थी। वहीं दिल्ली-सहारनपुर हाइवे पर कई किलोमीटर लंबा जाम लग गया और वाहनों को एक किलोमीटर पहले रोक दिया गया। श्रद्धालुओं को पैदल ही सफर तय करना पड़ा। वाहन चालकों को भी काफी दिक्कत उठानी पड़ी।

63 5

मार्च 2020 में कोरोना की बीमारी काफी तेजी से फैली थी और कोरोना की बीमारी ने भगवान को भी ताले में बंद करा दिया था। बीमारी के चलते सभी मंदिरों को बंद कर दिया गया था और सरूरपुर कलां गांव स्थित गुफा वाले बाबा मंदिर भी कई माह तक बंद किया गया था और जब बीमारी कम हो गयी थी तो जनवरी माह में कपाट खोल दिए गए थे, जिसके बाद वहां पूजा अर्चना शुरू कर दी गयी थी। लेकिन एक बार फिर कोरोना की बीमारी फैलनी शुरू हो गयी है और इसको देखते हुए मंदिर समिति ने कपाट बंद करने का निर्णय लिया।

66 4

दिल्ली-सहारनपुर मार्ग स्थित गुफा मंदिर की दूसरे राज्यों तक मान्यता है। मंदिर में प्रत्येक रविवार को दूर-दराज से श्रद्धालु बाबा की पूजा अर्चना करते है। होली व दीवाली के पर्व पर श्रद्धालुओं की संख्या काफी बढ़ जाती है। होली का पर्व नजदीक आने के कारण रविवार को मंदिर में श्रद्धालुओं की काफी भीड़ रही।

रविवार को मंदिर के कपाट बंद कर दिए गए और श्रद्धालुओं का मंदिर में प्रवेश वर्जित रहा। मंदिर में प्रसाद चढ़ाने के लिए आए श्रद्धालुओं को मंदिर के गेट पर ही प्रसाद और जल चढ़ाने की अनुमति रही। मंदिर में बाबा की पूजा अर्चना के लिए जिले के अलावा दूसरे राज्यों के श्रद्धालु मंदिर पहुंचे।

कोरोना संक्रमण को देखते हुए मंदिर में श्रद्धालुओं का प्रवेश बंद रहा। श्रद्धालुओं ने मंदिर के गेट पर ही बाबा को प्रसाद और जल चढ़ाया। सुरक्षा के लिए मंदिर में बेरिकेडिंग की गई और पुलिस बल तैनात रहा। वहीं मंदिर समिति के संरक्षक एवं अध्यक्ष सुरेश चंद पालीवाल का कहना है कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए रविवार को मंदिर के कपाट बंद कर दिए गए। गर्भ गृह में श्रद्धालुओं का प्रवेश वर्जित कर दिया गया।

65 4

जाम से जूझते रहे लोग, वाहनों की लगी रही कतारें

गुफा बाबा मंदिर पर श्रद्धालुओं की अधिक भीड़ होने के कारण पुलिस प्रशासन ने हाईवे को वन वे कर दिया। पुलिस ने दिल्ली-सहारनपुर हाईवे पर निनाना मोड से शिकोहपुर मार्ग से डायवर्ट कर दिया। हाईवे वन वे होने के कारण मार्ग पर दिन भर जाम लगा रहा, हाईवे पर वाहनों की कतारें लगी रही, जिससे लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा।

सीसीटीवी से की गई निगरानी, तैनात रही पुलिस

गुफा बाबा मंदिर पर रविवार को श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए पुलिस बल तैनात रहा। पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे से मंदिर परिसर की निगरानी की। मंदिर के मुख्य गेट के अलावा हाईवे, मेला परिसर में पुलिस की कड़ी निगरानी रही।

दुकानों पर लगी रही भीड़, खूब हुई खरीददारी

गुफा मंदिर रविवार को मेलें में ब”ों ने खूब खरीदारी की। दुकानों पर ब”ों और महिलाओं की भीड़ लगी रही।

नहीं हुआ कोरोना गाइड लाइन का पालन

रविवार को मंदिर में प्रसाद चढ़ाने के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ में कोरोना गाइड का पालन नही हुआ। एक-दो श्रद्धालुओं ने ही मॉस्क का प्रयोग किया।

जगह-जगह लगाए गए भंडारे, प्रसाद वितरित किया

इस बार गुफा मंदिर परिसर में भंडारे लगाने की अनुमति नही रही। लोगों ने मंदिर परिसर के बाहर हाईवे किनारे भंडारे लगाकर प्रसाद वितरित किया।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments