Monday, May 27, 2024
- Advertisement -
HomeNational Newsरोजगार मेला में पीएम मोदी ने बांटें 71,000 कर्मियों को नियुक्ति पत्र

रोजगार मेला में पीएम मोदी ने बांटें 71,000 कर्मियों को नियुक्ति पत्र

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: आज मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ‘रोजगार मेला’ के तहत सरकारी विभागों में चयनित 71,000 कर्मियों को नियुक्ति-पत्र जारी किया। पीएम मोदी ने इस अवसर पर संबोधित करते हुए कहा कि आप सभी को ये नियुक्ति पत्र कड़ी मेहनत से मिला है इसके लिए मैं आपको और आपके परिवार को बधाई देता हूं। कुछ दिन पहले गुजरात में ही ऐसे रोजगार मेले का आयोजन हुआ था और इसी महीने असम में भी एक बड़े रोजगार मेले का आयोजन किया जा रहा है।

पीएम मोदी ने आगे कहा कि इन बीते नौ वर्षो में भारत सरकार ने रोजगार की नई संभावनाओं की नीतियां तैयार की, सरकारी भर्ती प्रक्रिया को ज्यादा तेज करने, ज्यादा पारदर्शी और निष्पक्ष बनाने को भी प्राथमिकता दी है।

प्रधानमंत्री ने बताया कि नौ साल पहले आज के ही दिन लोकसभा चुनाव के नतीजे आए थे। तब पूरा देश उत्साह, उमंग और विश्वास से झूम उठा था। सबका साथ-सबका विकास के मंत्र के साथ कदम बढ़ाने वाला भारत, आज विकसित भारत बनने के लिए प्रयास कर रहा है।

नौ वर्षों में भाजपा सरकार ने किए यह काम: पीएम मोदी

भारत सरकार ने मूलभूत सुविधाओं के लिए पूंजीगत व्यय पर करीब-करीब 34 लाख करोड़ रुपए खर्च किए हैं। इस साल के बजट में भी पूंजीगत व्यय के लिए 10 लाख करोड़ रुपए तय किए गए हैं।

गरीबों के लिए बनवाएं 4 करोड़ पक्के घर 

सरकार ने इन वर्षों में देश में गरीबों के लिए जो 4 करोड़ पक्के घर बनाए गए हैं उन्होंने भी रोजगार के अनेक नए अवसर बनाए हैं। गांव-गांव में खुले 5 लाख कॉमन सर्विस सेंटर आज रोजगार का बड़ा माध्यम बने हैं। युवाओं को ग्राम स्तर का उद्यमी बना रहे हैं।

स्टार्ट अप कल्चर की आयी नई क्रांति

काम की प्रकृति में बहुत तेजी से बदलाव आया है। बदलती हुई इन परिस्थितियों में युवाओं के लिए नए सेक्टर्स उभर कर आए हैं। केंद्र सरकार इन नए सेक्टर्स को भी निरंतर सपोर्ट कर रही है। इन 9 वर्षों में देश ने स्टार्ट अप कल्चर की नई क्रांति देखी है।

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि 2014 से पहले, देश का ग्रामीण सड़क नेटवर्क 4 लाख किलोमीटर से भी कम फैला था, लेकिन अब यह 7.15 लाख किलोमीटर से अधिक हो गया है। 2014 से पहले देश में सिर्फ 74 एयरपोर्ट थे। आज यह संख्या बढ़कर करीब 150 हो गई है।

लाखों युवाओं को रोजगार में की सहायता

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी PLI स्कीम के तहत केंद्र सरकार मैन्युफैक्चरिंग के लिए करीब 2 लाख करोड़ रुपये की मदद दे रही है। ये राशि भारत को दुनिया का मैन्युफैक्चरिंग हब बनाने के साथ ही लाखों युवाओं को रोजगार में भी सहायता करेगी।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments