Saturday, October 23, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsSaharanpurमुठभेड़ के बाद पुलिस ने तीन बदमाशों को किया गिरफ्तार

मुठभेड़ के बाद पुलिस ने तीन बदमाशों को किया गिरफ्तार

- Advertisement -
  • एक दिन पूर्व दिया था लूट की वारदात को अंजाम
  • 24 घंटे बीतने से पूर्व ही पुलिस टीम ने बदमाशों को पकडा

जनवाणी संवाददाता |

नानौता: थाना पुलिस ने मुठभेड़ के बाद तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया है। उक्त बदमाशों द्वारा क्षेत्र में एक दिन पूर्व लूट की दुस्साहसी वारदात को अंजाम दिया गया था। पकडेÞ गए बदमाशों के पास से पुलिस ने लूटा गया समस्त सामान भी बरामद कर लिया है।

क्षेत्राधिकारी गंगोह चोब सिंह ने शुक्रवार दोपहर थाना परिसर में प्रेस वार्ता करते हुए घटना के खुलासे की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि एक दिन पूर्व गुरूवार दोपहर करीब 2:45 बजे अपाचे बाईक सवार तीन बदमाशों द्वारा क्षेत्र के गांव खुडाना निवासी मुनीष पुत्र जसरत के साथ नैनपुर के जंगलो में लूट की घटना को अंजाम दिया था। सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष नानौता बिरेश पाल गिरी मयटीम घटनास्थल पर पहुंचे और पीडित से घटना की जानकारी ली।

जिसके बाद से रात भर पुलिस बदमाशों की तलाश में जुटी रही। शुक्रवार की सुबह करीब 4 बजे अपाचे सवार तीन बदमाशों के साथ पुलिस की मुठभेड हुई। जिसमें बदमाशों की तरफ से पुलिस टीम पर फायर झोंका गया, जिसके बाद पुलिस टीम द्वारा भी फायर झोंका गया। जिससे घबराकर तीनों बदमाश अंधेरे का लाभ उठाकर भागने की फिराक में थे। परंतु पीछा करते हुए पुलिस ने तीनों बदमाशों को धर दबोचा।

पकडे गए बदमाश नानौता थाना क्षेत्र के गांव ओलरा निवासी सोनी पुत्र ओमप्रकाश, मांगा पुत्र पृथ्वीराम एवं नानौता थाना क्षेत्र के ही गांव मित्रगढ निवासी अंकुश पुत्र बलवंत बताए जा रहे हैं। जिनके पास से पुलिस ने लूटी गई प्लेटिना बाईक, लूट में शामिल बाईक अपाचे, लूटा गया सामान(माइक्रो एटीएम मशीन, 3 रजिस्टर, एक शिवालिक बैंक की चैक बुक, 3 बैंक की पासबुक, बाईक के कागजाद, पैन कार्ड, आधार कार्ड आदि), 2 तमंचे 315 बोर, 2 जिंदा कारतूस 315 बोर, 2 खोखा कारतूस तथा एक तमंचा 12 बोर, 2 जिंदा कारतूस 12 बोर बरामद किए। उक्त सभी बदमाशों के अपराधिक इतिहास की जानकारी पुलिस द्वारा जुटाई जा रही है। बताया जा रहा है कि ये बदमाश अपने महंगे शौक पूरे करने के लिए घटनाओं को अंजाम देते थे। गिरफ्तारी करने वाली पुलिस टीम में थानाध्यक्ष बिरेश पाल गिरीे के साथ वरिष्ठ उपनिरीक्षक धीरेंद्र सिंह, उप निरीक्षक गुलाब सिंह, राजीव कुमार, हैड कांस्टेबल संजीव, कांस्टेबल कपिल कुमार, सतेंद्र कुमार, नरेश कुमार शामिल रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments