Monday, June 17, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh Newsयूपी में निवेशकों व पूंजी की सुरक्षा की गारंटी: मुख्यमंत्री

यूपी में निवेशकों व पूंजी की सुरक्षा की गारंटी: मुख्यमंत्री

- Advertisement -
  • सीएम योगी ने किया अंकुर उद्योग के इंटीग्रेटेड स्टील प्लांट का उद्घाटन
  • सही ट्रैक पर बढ़ते हुए देश की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने को तैयार है उत्तर प्रदेश

जनवाणी ब्यूरो |

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 2017 के पूर्व उत्तर प्रदेश में निवेश लाना चुनौतीपूर्ण था। कानून व्यवस्था बदहाल थी, कोई स्पष्ट नीति नहीं थी। ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में यूपी देश में 14वें पायदान पर था। पर आज, उत्तर प्रदेश में निवेशकों व उनकी पूंजी की सुरक्षा की गारंटी है। ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में 33.50 लाख करोड़ रुपये के मिले निवेश प्रस्ताव इसके प्रमाण हैं। यह इस बात का भी द्योतक है कि आज उत्तर प्रदेश सही ट्रैक पर आगे बढ़ रहा है और देश की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने को तैयार है।

मुख्यमंत्री रविवार को गीडा के सेक्टर 23 में प्रतिष्ठित उद्योग समूह मेसर्स अंकुर उद्योग लिमिटेड के अत्याधुनिक इंटीग्रेटेड स्टील प्लांट के उद्घाटन समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा को एक सप्ताह पूर्व उन्हें संडीला (हरदोई) में एशिया की सबसे बड़ी पेंट फ़ैक्ट्री, बर्जर पेंट के 1000 करोड़ रुपये के प्लांट का शुभारंभ करने का अवसर मिला। इंग्लैंड में बनने वाली बबले स्कॉट रिवाल्वर अब यूपी में बनेगी। इसके लिए संडीला में निवेश की प्रकिया आगे बढ़ रही है। रूस में बनने वाले एके राइफल का लेटेस्ट वर्जन, ब्रह्मोस मिसाइल, बड़े-बड़े एयरक्राफ्ट सब यूपी में ही बनने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि छह वर्ष पूर्व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश में जनता जनार्दन के आशीर्वाद से जिस सरकार का गठन किया था। आज वह सरकार उन्ही की प्रेरणा से हरेक क्षेत्र में विकास कर रही है। डबल इंजन की सरकार विकास की लंबी छलांग लगा रही है।

84 2

मुख्यमंत्री ने कहा कि की यह हमारी सोच और कार्यपद्धति पर निर्भर करता है कि हम अपना भविष्य कैसा बनाना चाहते हैं। बेहतर भविष्य के लिए वर्तमान को संघर्षों से जूझते हुए आगे बढ़ाना पड़ता है। जब सुरक्षा का माहौल होता है, किसी के साथ भेदभाव नहीं होता है, सकारात्मक सोच की ताकतों की एकजुटता होती है तो अच्छे परिणाम सबके सामने होते हैं।

सीएम योगी ने कहा कि ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट को लेकर सवाल उठते थे कि लक्ष्य क्या होगा। हमने कहा था कि हम सिर्फ लोअर लिमिट तय करेंगे, अपर लिमिट जनता तय करेगी। शुरू में 10 लाख करोड़ रुपये के निवेश का लोअर लिमिट रखा गया। पर, जब हमारी टीमें देश और दुनिया में निकलीं तो निवेशक पलक पांवड़े बिछाकर इंतजार करते मिले। उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था, सेक्टोरल पॉलिसीज, पारदर्शी व्यवस्था से प्रभावित निवेशकों ने ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में 33.50 लाख करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव दिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सिर्फ एनसीआर में निवेश के लिए प्रस्ताव नहीं मिले हैं बल्कि पूर्वी उत्तर प्रदेश को दस लाख करोड़ रुपये तथा बुंदेलखंड को भी चार लाख करोड़ रुपये से अधिक के निवेश प्रस्ताव मिले हैं। यह सब इसलिए संभव हो रहा है कि सरकार निवेशकों को सुरक्षा दे रही है, सिंगल विंडो सिस्टम, निवेश सारथी पोर्टल से ऑनलाइन मॉनिटरिंग, और ऑनलाइन इंसेंटिव देने जैसी सहूलियत दे रही है। अब सरकार उद्यमियों की मदद के लिए सीएम फेलो की सहायता भी उपलब्ध कराने जा रही है। शासन प्रशासन की तरफ से निवेशकों को हर तरह का सपोर्ट दिया जा रहा है।

खुशहाली और विकास का आधार है निवेश

मुख्यमंत्री ने निवेश प्रक्रिया में जनता से सहयोग की अपील करते हुए कहा कि हमें निवेश को प्रोत्साहित करना है, हतोत्साहित नहीं करना है। निवेश खुशहाली और विकास का आधार होता है। निवेश बढ़ाने के ही दृष्टिगत बजट में दो नए औद्योगिक क्षेत्र (गोरखपुर व झांसी में) विकसित करने का प्रावधान किया गया है। निवेश से रोजगार की अनंत संभावनाएं बढ़ेंगी, युवाओं का पलायन रुकेगा और उनकी प्रतिभा का लाभ उत्तर प्रदेश को ही मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि युवाओं को रोजगार देने के लिए ही सरकार नए उद्योगों को जीएसटी में भारी छूट दे रही है।

उद्यमी अशोक जालान की जमकर तारीफ की मुख्यमंत्री ने

इंटीग्रेटेड स्टील प्लांट की स्थापना के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अंकुर उद्योग लिमिटेड के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक अशोक जालान की जमकर तारीफ की। सीएम ने कहा कि कोविड काल में भी 550 करोड़ रुपये के निवेश का रिस्क लेकर उन्होंने यह अत्याधुनिक प्लांट लगाया है। मुख्यमंत्री ने दो संस्मरणों से अंकुर उद्योग की यार्न इंडस्ट्री की प्रगति की भी चर्चा की और कहा कि अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी से श्री जालान काफी पहले से चीन निर्मित यार्न को रोकने का काम करते रहे हैं। सीएम योगी ने इस बात पर भी खुशीi जताई कि इंटीग्रेटेड स्टील प्लांट प्रदूषण मुक्त है। उन्होंने कहा कि शरीर में जो स्थान हड्डी का है वही इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट में स्टील का।

चोरी की स्टील पर प्रतिबंध लगाने को सरकार प्रतिबद्ध

सीएम योगी ने कहा कि चोरी की स्टील के कारोबार को प्रदेश में प्रतिबंधित करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। प्रदेश में कारोबार की स्वस्थ प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा दिया जा रहा है। सरकार यह भी सुनिश्चित करेगी कि जीएसटी की चोरी न होने पाए और साथ ही स्थानीय स्तर पर उत्पादित गुणवत्तापूर्ण वस्तुओं को बढ़ावा दिया जाएगा।

सीडी रेशियो 60 फीसद करने का लक्ष्य

मुख्यमंत्री ने इंटीग्रेटेड स्टील प्लांट की स्थापना के लिए 400 करोड़ रुपये का लोन देने के लिए केनरा बैंक के महाप्रबंधक की सराहना करते हुए कहा कि बैंक ने भी कोविड काल में जोखिम लिया। उन्होंने कहा कि सरकार बैंकर्स के माध्यम से सीडी रेशियो बढ़ाने के प्रयास कर रही है। पहले सीडी रेशियो 46 फीसद से कम था आज बढ़कर 55 फीसद हो गया है। इसे 60 फीसद से अधिक करने का लक्ष्य है। सीडी रेशियो बढ़ने से युवाओं को अधिक लोन मिल सकेगा और वह रोजगार तथा स्वरोजगार के अभियानों से जुड़कर स्वावलंबन की राह पर मजबूती से आगे बढ़ सकेंगे। सीएम योगी ने प्लांट में रेल साइडिंग की सुविधा देने के लिए पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक को धन्यवाद दिया।

स्केल के साथ स्किल भी बढ़ाएगा इंडस्ट्री व इंस्टीट्यूशन का जुड़ाव

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उद्योगों को संस्थाओं के साथ जोड़ने की आवश्यकता पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि आईटीआई, पॉलिटेक्निक और कालेजों के युवाओं को उद्योग अप्रेंटिसशिप से जोड़ें। कुछ मानदेय उद्योग दें, कुछ सरकार देगी। इससे बड़े पैमाने पर स्किल्ड मैन पावर तैयार होगा। यूपी के युवा को कहीं अन्यत्र जाने की जरूरत नहीं होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि इंडस्ट्री और इंस्टिट्यूशन का जुड़ाव स्केल के साथ स्किल्ड मैनपॉवर में भी अपना योगदान देगा।

मुख्यमंत्री के विजन से कई गुना बढ़ गईं यूपी की संभावनाएं : मनोज सिंह

उद्घाटन समारोह में औद्योगिक विकास आयुक्त मनोज कुमार सिंह ने कहा कि कोविड काल मे भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मार्गदर्शन में यूपी में बड़े बड़े उद्योगों की स्थापना का काम चल रहा था। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में काफी संभावनाएं हैं और मुख्यमंत्री जी के विजन से यह संभावनाएं कई गुना बढ़ गई हैं।

550 करोड़ के निवेश से सात हजार को रोजगार: निखिल जालान

स्वागत संबोधन में अंकुर उद्योग के निदेशक निखिल जालान ने कहा कि 82 एकड़ क्षेत्रफल में फैले और 550 करोड़ रुपये के निवेश वाले अंकुर उद्योग के इंटीग्रेटेड स्टील प्लांट में टीएमएक्स (थरमैक्स पॉवर्ड) सरिया का उत्पादन हो रहा है। इसमें 30 मेगावाट का कैप्टिव पॉवर प्लांट भी क्रियाशील है। विश्व स्तरीय प्रौद्योगिकी वाले इस प्लांट से दो हजार लोगों को प्रत्यक्ष और पांच हजार लोगों को परोक्ष रोजगार मिला है। फैक्ट्री संचालन के लिए ऊर्जा की सम्पूर्ण जरूरत यहीं के कैप्टिव पॉवर प्लांट से पूरी हो रही है।

इंटीग्रेटेड स्टील प्लांट का उद्घाटन करने से पूर्व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समूचे प्लांट का अवलोकन व निरीक्षण किया। इस अवसर पर सांसद रविकिशन शुक्ल, कमलेश पासवान, भाजपा के क्षेत्रीय अध्यक्ष एवं एमएलसी डॉ धर्मेंद्र सिंह, विधायक प्रदीप शुक्ल, अंकुर उद्योग लिमिटेड के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक अशोक जालान, प्रमुख सचिव औद्योगिक विकास नरेंद्र भूषण, पूर्व औद्योगिक विकास आयुक्त अरविंद कुमार, जालान समूह एवं परिवार के अंकुर जालान, हरिप्रसाद सरावगी, संचित जालान, अरविंद रूंगटा, नवल किशोर सुरेखा, चैंबर ऑफ इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष विष्णु प्रसाद अजितसरिया, पूर्व अध्यक्ष एसके अग्रवाल समेत बड़ी संख्या में गणमान्य जन मौजूद रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments