Saturday, April 13, 2024
HomeNational Newsमाफिया अतीक के रास्ते पर चला बेटा असद अहमद, पढ़ें पूरी कहानी

माफिया अतीक के रास्ते पर चला बेटा असद अहमद, पढ़ें पूरी कहानी

- Advertisement -

नमस्कार, दैनिक जनवाणी डॉटकॉम वेबसाइट पर आपका हार्दिक अभिनंदन और स्वागत है। आज गुरूवार को यूपी से एक बड़ी खबर मिली है। आज झांसी के बड़ागांव में स्थित परीक्षा डैम के पास माफिया अतीक अहमद का बेटा असद अहमद और शूटर मोहम्मद गुलाम बिना नंबर की बाइक और विदेशी हथियार के साथ कहीं जा रहे थे। इनका यूपी एसटीएफ काफी दिनों से पीछा कर रही थी। इस दौरान यूपीएसटीएफ ने सरेंडर करने के लिए कहा तो अचानक एसटीएफ पर हमला कर दिया। एसटीएफ टीम द्वारा बचाव में किए गए फायरिंग में दोनों आरोपी एनकाउंटर में मारे गए।

55 2

बता दें कि अतीक का तीसरे नंबर का बेटा असद अहमद लखनऊ से पूरी गैंग ऑपरेट करता था। असद ने लखनऊ के टॉप स्कूल से इसी साल 12वीं कक्षा पास की थी। उमेश पाल केस में असद द्वारा गोली चलाए जाने का वीडियो भी सामने आया था। इसके बाद से ही वह पुलिस के निशाने पर था। आज हम असद की पूरी कहानी बताएंगे। कैसे उसने अपराध की दुनिया में कदम रखा और अपने पिता के नक्शेकदम पर आगे बढ़ा।

स्कूल में असद अहमद करता था गुंडागर्दी

अतीक के बेटे असद ने स्कूल से ही गुंडागर्दी शुरू कर दी थी। रिपोर्ट के मुताबिक, अतीक के पांचों बेटे प्रयागराज के एक प्रतिष्ठित स्कूल में पढ़ते थे। कुछ साल पहले स्कूल में एक प्रतियोगिता हारने पर उसने न सिर्फ जीतने वाले सहपाठियों बल्कि बीच बचाव करने वाले अध्यापकों को भी पीट दिया था। अतीक के अन्य बेटे भी कम नहीं थे। कॉलेज में क्रिसमस मेले पर जब वे चलते थे तो पीछे सौ डेढ़ सौ लड़कों का हुजूम चलता था। किसी भी स्टाल पर मुफ्त में खा लेना। किसी भी झूले पर एक डेढ़ घंटे के लिए कब्जा कर लेना आम बात थी।

मारपीट में असद रहा कुख्यात

असद मारपीट करने में काफी कुख्यात था। उससे बड़ी उम्र के लड़के आपस के विवाद उसके सामने लेकर जाते तो वह मामलों को सुलझाता था। बड़ी-बड़ी महंगी गाड़ियों से असद स्कूल पहुंचता तो उसे लड़के घेर लेते।

अध्यापकों को भी पीटता था असद

कुछ साल पहले स्कूल के स्पोर्ट्स डे पर रस्साकशी प्रतियोगिता में एक टीम को असद लीड कर रहा था। असद की टीम हार गई। वह हार से इतना बौखला गया कि जीतने वाली टीम के लड़कों को वह पीटने लगा। जब अध्यापकों ने उसे रोकने की कोशिश की तो उसने अध्यापकों पर हाथ उठा दिया था। उस दिन स्कूल का मैदान अभिभावकों से भरा था। लोगों में काफी आक्रोश भी था लेकिन, अतीक का नाम सामने आने के बाद सब शांत हो गए थे। यहां तक स्कूल के प्रधानाचार्य ने भी मामला दबाने की काफी कोशिश की। किसी ने भी थाने में शिकायत नहीं दर्ज कराई थी। उस समय सोशल मीडिया पर मामले को दबाने के लिए प्रधानाचार्य को काफी खरी खोटी सुनाई गई थी।

खुलेआम फायरिंग का वीडियो हुआ था वायरल

असद का एक वीडियो आज भी वायरल होता है। ये 2017 का बताया जाता है। तब उसने एक शादी समारोह में खुलेआम फायरिंग की थी। उस समय वह नाबालिग था। पीछे से तमाम लोग उसकी सराहना करते हुए चलाओ-चलाओ की आवाज लगा रहे थे।

बड़े भाइयों के जेल जाने के बाद असद ने संभाला गैंग

साल 2018 में अतीक का सबसे बड़ा बेटा उमर सुर्खियों में आया था। उस समय उमर ने लखनऊ में एक प्रॉपर्टी डीलर मोहित जायसवाल का अपहरण किया था। मोहित जायसवाल का अपहरण करके उमर उसे देवरिया जेल ले गया था, उस समय अतीक अहमद इसी जेल में बंद था। अतीक के दूसरे नंबर के बेटे अली के खिलाफ भी हत्या के प्रयास और जबरन वसूली के मामले दर्ज हैं।

जांच एजेंसियों ने दोनों भाइयों पर इनाम घोषित किया था। दोनों भाइयों ने जुलाई में पकड़े जाने और एंकाउटर के डर से आत्मसमर्पण कर दिया था। बताया जाता है कि दोनों भाइयों के सरेंडर करने के बाद असद ने गिरोह की बागडोर संभाल ली थी।

महंगी घड़ियों और फोन का शौकीन था असद

उमेश पाल हत्याकांड का मुख्य शूटर असद अहमद मंहगी गाड़ियों और फोन का शौकीन था। वो विदेशी घड़ियां पहनता था और मंहगे फोन इस्तेमाल करता था। कुछ रिपोर्ट ये भी दावा करती हैं कि छापे के दौरान असद के पास से एक एप्पल आईफोन मिला था। असद ने फोन ट्रैक होने के डर से अपना फोन लखनऊ वाले फ्लैट में ही छोड़ दिया था। असद के पास स्विट्जरलैंड की ब्राडेंड सेंट्रिक्स घड़ी थी। इस घड़ी की कीमत एक लाख से ज्यादा है।

चाचा अशरफ से ट्रेनिंग लेता था असद

रिपोर्ट्स के मुताबिक, असद चाचा अशरफ का सबसे चहेता भतीजा था। अशरफ ने ही उसे गोली चलाना, कार रेसिंग और घुड़सवारी में महारत दिलवाई थी। उमेश पाल हत्याकांड के बाद सामने आए सीसीटीवी फुटेज में साफ देखा जा सकता है कि क्रेटा कार से एक युवा सदरी पहने हुए तेजी से निकलता है और धड़ाधड़ गोली चलाना शुरू कर देता है। गोली चलाता हुआ शख्स असद ही था।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
3
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments