Wednesday, February 21, 2024
HomeUttar Pradesh Newsरामायणकालीन स्थलों को विकसित करेगा श्रीलंका, उच्चायुक्त ने सीएम योगी से की...

रामायणकालीन स्थलों को विकसित करेगा श्रीलंका, उच्चायुक्त ने सीएम योगी से की मुलाकात

- Advertisement -
  • अयोध्या और श्रीलंका के बीच फिर से प्रगाढ़ होंगे रिश्ते

  • श्रीलंकाई उच्चायुक्त ने सीएम योगी को सौंपी अशोक वाटिका की शिला

  • श्रीलंका से लाकर यूपी में लगाये जाएंगे संजीवनी बूटी के पौधे

  • वाराणसी एयरपोर्ट पर लगाने के लिए दो तस्वीरें भी श्रीलंका के उच्चायुक्त ने योगी को भेंट की

जनवाणी ब्यूरो |

लखनऊ: त्रेतायुग से चले आ रहे श्रीलंका और अयोध्या के बीच प्रगाढ़ संबंधों को एक बार फिर नई ऊंचाई मिलने जा रही है। श्रीलंका के उच्चायुक्त अशोक मिलिंडा मोरागोडा ने बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से उनके सरकारी आवास पर मुलाकात की।

इस दौरान उन्होंने श्रीलंका में स्थित अशोक वाटिका की शिला मुख्यमंत्री को भेंट की। साथ ही वाराणसी एयरपोर्ट पर लगाने के लिए दो पेंटिंग्स भी सीएम को भेंट की। मुख्यमंत्री और श्रीलंका के उच्चायुक्त के बीच हुई लंबी वार्ता में दोनों देशों के बीच सांस्कृतिक संबंधों और पर्यटन को बढ़ावा देने को लेकर विशेष तौर पर चर्चा हुई।

74 2

इस दौरान श्रीलंका में रामायण काल से संबंधित विभिन्न स्थलों को विकसित करने को लेकर विस्तार से चर्चा की गई, जिससे भारत और खासकर उत्तर प्रदेश के नागरिक श्रीलंका में मौजूद रामायणकालीन स्थलों के दर्शन का अवसर प्राप्त कर सकें। साथ ही श्रीलंका से बड़े पैमाने पर संजीवनी बूटी के पौधों को यूपी में लाकर लगाने के लिए भी मुख्यमंत्री से कहा है।

अशोक मिलिंडा मोरागोडा ने हाल के वर्षों में उत्तर प्रदेश में हुए अभूतपूर्व विकास कार्यो को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि श्रीलंका और यूपी के मध्य रामायण काल से ही मधुर संबंध रहे हैं। ये वार्ता दोनों देशों के मध्य सांस्कृतिक और पर्यटन के क्षेत्र में अधिक सहयोग करने की दिशा में काफी अहम साबित होगी। अशोक मिलिंडा मोरागोडा 2020 से भारत में श्रीलंका के उच्चायुक्त हैं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments