Tuesday, June 28, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutदूसरे दिन दिखी सख्ती, कार्यवाहक नगरायुक्त उतरे सड़कों पर

दूसरे दिन दिखी सख्ती, कार्यवाहक नगरायुक्त उतरे सड़कों पर

- Advertisement -
  • शहर में कई जगह से हटाया गया अतिक्रमण
  • अवैध कब्जे हटाये, दुकानों के आगे अवैध निर्माण गिराया
  • अब भी शहर में कई क्षेत्रों में सड़कों पर फैला है अतिक्रमण

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ की सख्ती के बाद नगर निगम टीम ने शहर में दूसरे दिन भी कई जगह अवैध पार्किंग व सड़कों पर हुए अवैध कब्जों के खिलाफ सघन अभियान चलाया। हालात ये रहे कि कार्यवाहक नगर आयुक्त प्रमोद कुमार व सहायक नगरायुक्त इंद्र विजय खुद टीम के साथ सड़कों पर उतरे और अवैध पार्किंग व अतिक्रमण करने वालों के खिलाफ एक्शन के मूंड में दिखाई दिये। इस दौरान टीम की ओर से कई जगहों से अवैध पार्किंग हटाई गई तो कई जगहों पर दुकानदारों से जुमार्ना व चालान तक काटे गये।

नगर निगम की टीम ने शुक्रवार को अभियान की शुरुआत यहां मेडिकल कॉलेज के पीछे हीरा स्वीट्स शॉप के बाहर सड़क पटरी पर एक काउंटर को तोड़कर की। यहां से टीम ने अवैध रूप से हुए अतिक्रमण को भी हटाया साथ ही अवैध पार्किंग करने वालों को कार्रवाई की चेतावनी भी दी। इसके अलावा बैजल भवन, कमिश्नरी चौराहा स्थित एलेग्जेंडर क्लब, गढ़ रोड स्थित विशाल मेगा मार्ट, सम्राट हुंडई सेंटर, शास्त्री नगर स्थित पीवीएस मॉल आदि जगहों पर जाकर प्रतिष्ठान संचालकों से वार्ता की और उन्हें अवैध पार्किंग न कराने की चेतावनी दी गई।

पीवीएस मॉल प्रबंधन द्वारा सर्विस रोड पर व खाली पड़े स्थान पर पूर्व में नोटिस दिए जाने के बावजूद अवैध रूप से पार्किंग चला रखी थी। जिसे टीम ने हटवाया और मेडिकल थाने में मुकदमा तक दर्ज कराया। वहीं, नगर निगम प्रवर्तन दल की दूसरी टीम ने सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट शक्ति सिंह मलिक के नेतृत्व में घंटाघर रोड, वैली बाजार, कोटला बाजार तथा कबाड़ी बाजार में अवैध अतिक्रमण के खिलाफ अभियान चलाया। टीम ने पैदल मार्च करते हुए सड़कों तथा चौक चौराहों पर मुनादी कर लोगों को सड़क पटरी पर सामान न फैलाने की चेतावनी दी।

टीम को देखते ही दुकानदारों में भगदड़ मच गई और कुछ ही समय के अंतराल में सभी ने अपना सामान उठाकर अंदर रख लिया तथा सड़कें चौड़ी नजर आने लगीं। सड़क पटरी पर रखें अवैध साइन बोर्डों को भी टीम ने तोड़ दिया। मुनादी कर टीम ने बताया की अतिक्रमण को लेकर आगामी तीन दिवस तक व्यापारियों के व्यवहार का परीक्षण किया जाएगा। उसके बाद भी अगर किसी दुकानदार ने आदेश का उल्लंघन किया या सड़क तथा नाला पटरी पर कब्जा मिला तो बुलडोजर लेकर अवैध अतिक्रमण के विरुद्ध सख्त अभियान चलाया जाएगा।

इससे होने वाले नुकसान के लिए स्वयं दुकानदार या व्यापारी जिम्मेदार होगा। टीम ने बताया कि विगत एक सप्ताह से शहर के अलग-अलग मार्गों पर अतिक्रमण के विरुद्ध अभियान चलाया जा रहा है लिहाजा अब कोई पूर्व चेतावनी नहीं दी जाएगी। सीधे कार्रवाई की जाएगी तथा शासन के निर्देंशों का हर सूरत में पालन कराया जाएगा।

सर्विस रोड पर कब्जे को लेकर दर्ज कराया मुकदमा

मेरठ: बता दें कि पीवीएस मॉल के ठीक सामने पुलिस चौकी के पास से ही सर्विस रोड होकर गुजरता है। यहां सर्विस रोड पर अवैध रूप से वाहन खड़े कर लंबे समय से पार्किंग की जा रही है। पार्किंग व सरकारी जमीन पर अवैध कब्जे की इस खबर को जनवाणी ने अप्रैल माह में प्रमुखता से उठाया था।

यहां पुलिस के साथ सांठगांठ कर अवैध रूप से सर्विस रोड पर ही पार्किंग की जा रही थी। नगर निगम ने इस मामले में सख्ती से कदम उठाते हुए शुक्रवार को यहां अभियान चलाकर पार्किंग को हटवाया। साथ ही मेडिकल थाने में संबंधित पार्किंग संचालकों के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कराया गया है।

प्रतिबंधित प्लास्टिक इस्तेमाल करने वालों से जुर्माना वसूला

मेरठ: नगर निगम की टीम ने शुक्रवार को अतिक्रमण के खिलाफ तो अभियान चलाया। इसके साथ ही टीम ने शहर में कई जगहों पर अभियान चलाकर प्रतिबंधित प्लास्टिक को भी जब्त किया। टीम ने वैली बजार समेत कई बाजारों से आठ दुकानदारों के यहां से प्रतिबंधित प्लास्टिक के थैले जब्त किये और दुकानदारों से 9000 रुपये का जुर्माना भी वसूला।

निगम का अभियान चला, पुलिस सोती रही

मेरठ: शहर में अतिक्रमण हटाने के लिये सीएम के आदेश के बाद नगर निगम ने दोनों दिन अभियान चलाया, लेकिन अन्य विभागों की बात करें तो शहर में कहीं भी ट्रैफिक पुलिस व अन्य पुलिस बल द्वारा या परिवहन विभाग की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की गई। शहर में धड़ल्ले से अवैध टेम्पो का संचालन होता रहा और सड़कों के किनारे ही वाहनों को खड़े कर उनके सवारियां ढोई जा रही थी। यह हाल हापुड़ अड्डा चौराहा समेत, बेगमपुल, गढ़ रोड स्थित सोहराब गेट डिपो और हापुड़ चुंगी का रहा। यहां ई रिक्शा और टेम्पो संचालकों ने सड़कों पर कब्जा जमा रखा है, लेकिन इन्हें यहां से हटाया नहीं जा रहा है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments