Monday, August 15, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeWorld Newsअमेरिकी सेना के प्रमुख को युद्ध छिड़ने का डर

अमेरिकी सेना के प्रमुख को युद्ध छिड़ने का डर

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कार्यकाल के दौरान चीन के साथ संबंध इतने बिगड़ गए थे कि अमेरिकी सेना के प्रमुख को युद्ध छिड़ने का डर लगने लगा था।

टॉप यूएस जनरल मार्क मिली को यह डर था कि चुनाव में अपनी हार को देखते हुए ट्रंप कहीं चीन के साथ युद्ध न छेड़ दें।

आनन-फानन में मिली ने पीपल्स लिबरेशन आर्मी के जनरल ली झुओचेंग को अमेरिकी चुनाव से चार दिन पहले यानी 30 अक्तूबर 2020 और फिर आठ जनवरी को कॉल कर भरोसा देना पड़ा था।

कॉल के दौरान मिली ने ली को भरोसा देते हुए कहा था कि अमेरिका स्थिर है और वह चीन पर किसी भी तरह का हमला नहीं करने जा रहा है।

उन्होंने यह भी कहा था कि अगर कोई हमला होगा तो वह अपने समकक्ष को समय रहते सावधान कर देंगे। यह रिपोर्ट पत्रकार बॉब वुडवर्ड और रॉबर्ट कोस्टा की एक नई किताब पेरिल पर आधारित है, जिसके बारे में कहा गया है कि 200 से अधिक सूत्रों के हवाले से यह किताब लिखी गई है और अगले सप्ताह जारी होने वाली है।

हालांकि, ट्रंप ने अपने एक बयान में इस कहानी को मनगढ़ंत बताया है। उन्होंने कहा है कि अगर यह कहानी सच है तो जनरल मिली पर देशद्रोह का मुकदमा चलना चाहिए।

ट्रंप ने यह भी कहा है कि उन्होंने कभी चीन पर हमला करने के बारे में नहीं सोचा था। जनरल मिली के दफ्तर ने इस पर प्रतिक्रिया देने से मना कर दिया है।

वहीं रिपब्लिकन सीनेटर मार्को रुबियो ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन को पत्र लिखकर एक  मिली को तुरंत बर्खास्त करने का आह्वान किया है।

रुबियो ने लिखा कि मुझे आपको यह बताने की आवश्यकता नहीं है कि वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों द्वारा अमेरिकी सैन्य अभियानों की जानकारी लीक करने से क्या खतरा है, लेकिन मैं इस बात को रेखांकित करूंगा कि इस तरह की तोड़फोड़ राष्ट्रपति की बातचीत करने और इस राष्ट्र की राष्ट्रीय शक्ति के उपकरणों की क्षमता को कमजोर करती है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments