Thursday, January 27, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsSaharanpurजनपद के 454 केंद्रों पर किया जा रहा टीकाकरण

जनपद के 454 केंद्रों पर किया जा रहा टीकाकरण

- Advertisement -
  • 15 से 18 साल के किशोरों को लगाया जा रहा टीका, बुजुर्गों को वरीयता

जनवाणी संवाददाता |

सहारनपुर: जनपद में स्वास्थ्य विभाग ने टीकाकरण पर पूरी तरह फोकस किया हुआ है। जनपद के 454 केंद्रों पर टीकाकरण किया जा रहा है। 15 से 18 साल तक के किशोरों का टीकाकरण किया जा रहा है |

और साठ साल से ज्यादा के बुजुर्गों को एहतियाती डोज लगाई जा रही है। इस बीच संक्रमण को रोकने के लिए भी ठोस उपाय किए जा रहे हैं। बुधवार को करीब 38 हजार लोगों का टीकाकरण किया गया।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. संजीव मांगलिक ने बताया कोरोना के संक्रमण से बचाव के लिए टीकाकरण जरूरी है । साथ ही कोरोना प्रोटोकाल मसलन, दो गज की दूरी का पालन करें और मास्क अवश्य लगाएं। साबुन-पानी से हाथ धोना भी न भूलें। उन्होंने बताया संक्रमण की रफ्तार बढ़ गई है।

बुधवार तक जनपद में कोरोना के 943 केस हैं। यहां तक कि कोरोना पाजिटिव की सूची में जेल के कई बंदी, दो न्यायाधीश तथा एसएसपी आकाश तोमर की पत्नी भी शामिल हैं। लगातार बढ़ते मामलों को लेकर स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन सतर्क है।

डा. मांगलिक ने बताया हर रोज करीब पांच हजार लोगों के सेंपल लिए जा रहे हैं। रोजाना सौ के करीब पाजिटिव आ रहे हैं। उधर, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. सुनील वर्मा ने बताया जिले में 454 केंद्रों पर टीकाकरण किया जा रहा है। 15 से 18 वर्ष के बीच के किशोरों का भी टीकाकरण तेजी से किया जा रहा है। इस बारे में जिलाधिकारी अखिलेश सिंह का कहना है|

कोरोना प्रोटोकाल का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया लापरवाही के नाते ही दूसरी लहर में जनपद में 441 लोगों की जान चली गई थी और 32 900 के करीब संक्रमित पाए गए थे।
उधर, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. सुनील वर्मा ने बताया बुजुर्गों के टीकाकरण के प्रति स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह संवेदनशील है।

फ्रंट लाइन वर्कर्स को भी एहतियाती डोज दी जा रही है, ताकि संक्रमण को रोका जा सके। वहीं साठ साल से ज्यादा उम्र के बुजुर्गों को एहतियाती डोज दी जा रही है। उन्होंने बताया दूसरी डोज की तारीख से नौ महीने यानि 39 सप्ताह पूरा होने पर एहतियाती डोज दी जा रही है।

यह पहली दो खुराक की तरह ही है। यानि जिन लोगों ने पहली दो खुराक कोविशील्ड ली है उन्हें कोविशील्ड और जिन्होंने कोवैक्सीन ली है, उन्हें कोवैक्सीन दी जा रही है। किशोर और बुजुर्ग दोनों कोविन एप पर रजिस्ट्रेशन कराकर अपना टीका लगवा सकते हैं। उन्होंने कहा वैक्सीन लगवाने के बाद भी मास्क जरूर पहनें। लापरवाही घातक हो सकती है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments