Sunday, February 25, 2024
HomeUttar Pradesh NewsMeerutचौराहों पर जाम की समस्या का बना प्लान धड़ाम

चौराहों पर जाम की समस्या का बना प्लान धड़ाम

- Advertisement -
  • तेजगढ़ी चौराहें पर अंडरपास की पहले योजना बनी थी। फिर ये बात तय हुई कि रोटरी बनाई जाएगी

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: तेजगढ़ी चौराहें पर अंडरपास की पहले योजना बनी थी। फिर ये बात तय हुई कि रोटरी बनाई जाएगी। तेजगढ़ी चौराहे समेत शहर के चार चौराहों का सौंदर्यीकरण के लिए मेडा ने 6.15 करोड़ रुपये स्वीकृत भी कर दिये गए थे। तेजगढ़ी चौराहे पर रोटरी नहीं बनी। सौंदर्यीकरण कैसा हुआ, ये आप भी देख सकते हैं। ग्रीन बेल्ट बनाने की बात हुई थी, वो ग्रीन क्षेत्र नहीं दिखता। ट्रैफिक कंट्रोल करने के लिए सिग्नल तो लगाये गए हैं। ट्रैफिक पुलिस कर्मियों की ड्यूटी तो रहती हैं, लेकिन ट्रैफिक की समस्या कम नहीं हुई हैं।

बता दें, शहर के चार चौराहों का सौंदर्यीकरण के लिए मेडा में चार साल पहले प्लानिंग हुई थी। वो प्लानिंग धड़ाम हो गई। धनराशि स्वीकृत हुई, फिर ग्राउंड स्तर पर ये काम दिखाई नहीं दिया। दरअसल, सेंट्रल रोड रिसर्च इंस्टीट्यूट (सीआरआरआई) के प्लान पर मेडा ने शहर के चार चौराहों का विकास करने की पहल की थी। इनके डेवलपमेंट के लिए तब मेडा ने 6.15 करोड़ रुपये मंजूर भी किए थे, जिनमें करीब 1.36 करोड़ का पेमेंट भी कर दिया गया था। उस दौरान सौंदर्यीकरण के नाम पर भ्रष्टाचार हुआ था, जिसकी जांच बैठ गई थी।

सीआरआरआई ने इन चारों चौराहों पर इम्प्रूवमेंट का प्लान बनाकर भेजा था। बेगमपुल, एचआरएस चौराहा, तेजगढ़ी तथा हापुड़ अड्डा पर इस योजना में काम होना दर्शाया था। अहम बात यह है कि चौराहों पर काम होने के बाद भी यहां ट्रैफिक कंट्रोल नहीं हुआ। लगातार इन चौराहों पर जाम की स्थिति रहती है। ऐसे में बार बार यह मांग उठती रही कि चौराहों पर काम की जांच हो। बेगमपुल पर रैपिड स्टेशन का काम तेजी से चल रहा हैं, इसलिए भी वहां कुछ काम हुआ ही नहीं। ट्रैफिक वहां सबसे खराब स्थिति में हैं।

13 3

रैपिड का काम पूरा होने के बाद ही वहां पर ट्रैफिक सुधारने की दिशा में काम संभव हो सकता हैं, ऐसा अधिकारी भी मानते हैं, लेकिन जब प्लान बना, सिर्फ कागजों तक ही ये सिमिट गया। फुटपाथ बने थे, लेकिन वर्तमान में कहा हैं फुटपाथ? ये भी जांच का विषय है। बने ओर फिर क्षतिग्रस्त हो गए। इस तरह से पैसा पानी में बहाया जा रहा हैं। तब प्लान बहुत कुछ बना था, लेकिन वर्तमान में ट्रैफिक भी शहर में बढ़ गया है, लेकिन कंट्रोल ट्रैफिक नहीं हो रहा हैं। ई-रिक्शा शहर में बढ़ गए हैं।

ये था प्लान

  • बेगमपुल चौराहा
  1. यहां ट्रैफिक माउंट बनेगा
  2. हापुड़ रोड की तरफ से यदि आबूलेन जाना है तो बेगमपुल से पहले ही दिल्ली रोड की तरफ टर्न होगा
  3. बस स्टॉपेज बेगमपुल से पहले ही होंगे ताकि वहां जाम न लगे
  4. सभी रोड पर डिवाइडर होगा, बिना टर्न लिए दूसरी रोड पर एंट्री नहीं होगी
  5. शेल्टर लगने थे
  • हापुड़ अड्डा
  1. यहां मेन सर्किल को चौड़ा करना होगा
  2. क्रॉसिंग पूरी तरह से बंद होंगी
  3. डिवाइडर बनेंगे, पैदल चलने वालों पर विशेष ध्यान दिया जाएगा
  4. फुटपाथ बनेगा
  • एचआरएस चौक
  1. यहां फ्री गोल चक्कर तैयार होगा
  2. रोटेरी सिस्टम लागू होगा
  3. कर्व माउंट बनेगा
  4. रंबल स्ट्रीप तथा ट्रैफिक कंट्रोलर बनाए जाएंगे
  5. फुटपाथ बनेगा
  • तेजगढ़ी चौराहा
  1. यहां भी रोटेरी सिस्टम लागू होगा
  2. कर्व माउंट बनेगा तथा ग्रीनरी कट लगेंगे
What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments