Sunday, February 25, 2024
HomeUttar Pradesh NewsMeerutकरोड़ों की संपत्ति के लालच में वृद्ध का अपहरण

करोड़ों की संपत्ति के लालच में वृद्ध का अपहरण

- Advertisement -
  • गाड़ी का पेट्रोल खत्म हुआ तो खुली पोल, नाकाम हुआ अपहरण

जनवाणी संवाददाता |

कंकरखेड़ा: थाना क्षेत्र के जाटोली गांव से एक किसान का अपहरण कर लिया गया। दौराला थाना क्षेत्र में गाड़ी का पेट्रोल खत्म हुआ तो मामले की पोल खुल गई। पुलिस ने सभी आरोपियों को हिरासत में ले लिया और छानबीन के बाद कंकरखेड़ा पुलिस को सौंप दिया गया। रविवार रात करीब आठ बजे दौराला थाना क्षेत्र में नेशनल हाइवे स्थित लोहिया गांव के कट के पास एक गाड़ी खड़ी थी। इस दौरान गश्त करती हुई दौराला पुलिस पहुंच गई। तब उन्होंने देखा गाड़ी में एक वृद्ध बैठा हुआ था और चार अन्य व्यक्ति उसके साथ झगड़ा कर रहे थे।

10 2

पुलिस ने पूछताछ की तो वृद्ध ने अपना नाम ब्रजवीर पुत्र हुकुम सिंह निवासी जाटोली गांव बताया। पीड़ित किसान ब्रजवीर ने बताया कि उसका अपहरण किया गया है और उसकी हत्या करने के लिए हरिद्वार ले जा रहे हैं। पुलिस ने सभी को हिरासत में ले लिया और दौराला थाना ले गई। पुलिस पूछताछ में बताया गया कि जाटोली गांव निवासी मुनेश, चरथावल निवासी उस्मान, नौकर धर्मपाल, ब्रजवीर किसान को अपहरण कर ले जा रहे थे।

11 2

नौकर धर्मपाल ने किसान के अपहरण के लिए तीन दिन पहले ही अजोता गांव से गाड़ी मंगाई थी। पुलिस पूछताछ में बताया कि ब्रजवीर का अपहरण नौकर धर्मपाल ने रकम वसूलने के लिए कराया था। पुलिस ने छानबीन करने के बाद आरोपियों और पीड़ित किसान ब्रजवीर को कंकरखेड़ा पुलिस को सौंप दिया है। पीड़ित किसान के पुत्र शुभम ने नामजद तहरीर दे दी है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

दिल्ली पुलिस के सिपाही की बाइक पुलिस की गाड़ी से टकराई

कंकरखेड़ा: थाना क्षेत्र में रोहटा रोड निवासी एक युवक दिल्ली पुलिस में सिपाही के पद पर तैनात है। रविवार को सिपाही बाइक पर किसी काम से परतापुर की ओर जा रहा था। इसी बीच खड़ौली के सामने सिपाही की बाइक पुलिस गाड़ी से टकरा गई। बाइक की टक्कर से पुलिस गाड़ी का टायर फट गया। वहीं, बाइक सवार सिपाही भी सड़क पर गिरकर घायल हो गया। सिपाही की बाइक पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई।

हादसे के बाद सड़क पर जाम की स्थिति बन गई। पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों पक्षों को चौकी ले गई। करीब दो घंटे तक दोनों पक्ष एक-दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगाते रहे। मामले की जानकारी होने के बाद सिपाही के परिजन भी थाने पहुंच गए। कुछ देर बाद दोनों पक्षों में समझौता हो गया। थाना प्रभारी देवेश सिंह का कहना है कि हादसे की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच गई थी।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments