Thursday, April 25, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh Newsगैरहाजिर डॉक्टर बर्खास्त, लापरवाह कर्मचारियों का वेतन कटा

गैरहाजिर डॉक्टर बर्खास्त, लापरवाह कर्मचारियों का वेतन कटा

- Advertisement -
  • डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने दिए निर्देश, लापरवाही बर्दाश्त नहीं

जनवाणी ब्यूरो |

लखनऊ: सरकारी अस्पतालों में डॉक्टरों की लापरवाही पर डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने कड़ा रुख अख्तियार किया है। डिप्टी सीएम के आदेश के बाद प्रमुख सचिव स्वास्थ्य ने प्रयागराज के एक डॉक्टर को बर्खास्त कर दिया। इसके अलावा बाराबंकी के एक प्रकरण पर भी डिप्टी सीएम ने कार्रवाई की है।

प्रयागराज के तेज बहादुर चिकित्सालय में तैनात डॉक्टर लगातार गैरहाजिर चल रहे थे। कई बार पत्राचार भी किया गया। इसके बावजूद कोई जवाब नहीं आया। मामला डिप्टी सीएम के संज्ञान में आया। उन्होंने शासकीय ड्यूटी में लापरवाही बरतने व लगातार गैरहाजिर रहने के दोषी डॉक्टर को तत्काल प्रभाव से बर्खास्त करने के आदेश प्रमुख सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य को दिये हैं।

प्रमुख सचिव ने डॉक्टर अभिषेक मिश्रा की बर्खास्तगी का आदेश जारी कर दिया है। वहीं, अयोध्या के सैदपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में समय से पहले डॉक्टर-कर्मचारियों के गायब होने का मामला भी सामने आया है। डिप्टी सीएम ने सीएमओ को दो दिन के भीतर जांच पूरी करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही तीन लापरवाह कर्मचारियों का वेतन कटौती के आदेश दिए हैं। अस्पताल में तैनात सभी चिकित्सकों से स्पष्टीकरण तलब किया है।

बाराबंकी के रामपुर भवानीपुर स्वास्थ्य उप केंद्र में बिजली की व्यवस्था ही न होने पर डिप्टी सीएम ने नाराजगी जाहिर की। डिप्टी सीएम ने बाराबंकी सीएमओ को मामले की जांच के लिए निर्देशित किया है। किन कारणों से अभी तक बिजली नहीं लगी? किस स्तर पर लापरवाही बरती गई। पूरे बिन्दुओं पर दो दिन के भीतर जांच पूरी करने के आदेश दिए है।

झांसी के टहरौली प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र डॉक्टर, फार्मासिस्ट की गैरमौजूदगी और दूसरी अव्यवस्थाओं की जांच होगी। डिप्टी सीएम ने झांसी सीएमओ को मामले की जांच के आदेश दिए हैं। दो दिन में रिपोर्ट देनी होगी। डिप्टी सीएम ने कहा कि मरीजों के इलाज में लापरवाही बरतने वालों पर कठोर कार्रवाई होगी।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments