Sunday, May 26, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsSaharanpurपरिवार नियोजन की दिशा में एक और ठोस पहल

परिवार नियोजन की दिशा में एक और ठोस पहल

- Advertisement -
  • जनपद में आज से 31 जनवरी तक होंगा सास-बेटा-बहू-बेटा सम्मेलन

जनवाणी संवाददाता |

सहारनपुर: सास-बेटा-बहू और बेटा सम्मेलन के जरिये जनपद में परिवार नियोजन की दिशा में ठोस प्रयत्न होंगे। इन सम्मेलनों में बेटा संकल्प लेगा कि वह पत्नी के मान-सम्मान की रक्षा करेगा। परिवार के नियोजन के बारे में भी एक मंच पर खुलकर बात करेंगे। आदर्श दंपति इस सम्मेलन में परिवार नियोजन के लाभ बतलाएंगे। जिले में आज बुधवार (18 जनवरी) से 31 जनवरी तक यह सम्मेलन आयोजित किए जाएंगे।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डा. संजीव मांगलिक ने यह जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि सास-बेटा-बहू-बेटा सम्मेलन 18 से 31 जनवरी तक स्वास्थ्य इकाइयों पर मनायामनाये जाएंगे। सभी 205 हेल्थ एवं एंड वेलनेस सेंटर तथा सीएचसी और पीएचसी पर सभी उपकेन्द्रों पर यह सम्मेलन उक्त अवधि में आयोजित किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि प्रजनन स्वास्थ्य के लिए परिवार नियोजन जरूरी है, यह संदेश घर-घर पहुंचाया जाएगा। आयोजन के जरिये सास-और बहू में बेहतर संवाद स्थापित कराया जाएगा, ताकि प्रजनन स्वास्थ्य के प्रति पुरानी सोच, उनके व्यवहार और विश्वास में बदलाव लाया जा सके।

डाक्टर संजीव मांगलिक उन्होंने बताया कि उपकेंद्र स्तर पर होने वाले इन सम्मेलनों के लिए सभी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। माइक्रो प्लान तैयार कर लिया गया है। सभी प्राथमिक और सामुदायिक केंद्रों के प्रभारियों को इस बाबत आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए जा चुके हैं।सम्मेलन में एक वर्ष के दौरान नवविवाहित दंपत्ति, तीन या उससे ज्यादा बच्चों वाले दंपत्ति, ऐसे आदर्श दंपत्ति जिनका पहला बच्चा विवाह के दो साल बाद हुआ हो, दूसरे बच्चे में कम से कम तीन साल का अंतराल हो शामिल रहेंगे और सम्मेलन के दौरान आदर्श दंपत्ति अपने-अपने अनुभवों को साझा करेंगे।

यही नहीं, परिवार नियोजन के साधनों को न अपनाने वाले दंपति भी अपने अनु को साझा करेंगे। सम्मेलन में खास तौर पर बेटा चार शपथ लेगा। – यह कि मैं जिम्मेदार पति व पिता होने के नाते शपथ लेता हूं कि अपनी पत्नी के मान-सम्मान की रक्षा करूंगा। अपने बच्चों के स्वास्थ्य और भविष्य संवारने के लिए तत्पर रहूंगा। मैं अपने बच्चे की बेहतर शिक्षा और लालन-पालन का पूरा ध्यान दूंगा। परिवार नियोजन के साधनों का बेहतर उपयोग करूंगा। साथ ही अपने परिचितों और दोस्तों को परिवार नियोजन के साधनों कोे अपनाने पर बल दू्ंगा। मैं अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र तथा गांव की आशा कार्यकर्ता से परामर्श और जानकारी आदि प्राप्त करता रहूंगा।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments