Sunday, August 7, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutतीन माह तक मुहिम चलाई, अब फिर बिक रही पॉलीथिन

तीन माह तक मुहिम चलाई, अब फिर बिक रही पॉलीथिन

- Advertisement -
  • लोगों के चालान भी हुए खूब, जुर्माना भी लगा, लेकिन सब बेकार

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: शहर में पॉलीथिन के उपयोग पर पूरी तरह से नगर निगम ने प्रतिबंध लगाया हुआ हैं। नगर निगम के अधिकारियों ने पॉलीथिन के खिलाफ तीन माह तक मुहिम भी चलाई थी। बावजूद इसके अब फिर पॉलीथिन बिक रही हैं। लोगों के चालान भी किये और जुर्माना भी लगाया, लेकिन वर्तमान में फिर से बिना डर-खौफ के पॉलीथिन बिकने लगी हैं। पुराने शहर में कई बड़े थोक विक्रेता हैं, जिन पर अंकुश लगाने के लिए छापा भी मारा था, लेकिन ये छापेमारी सिर्फ खानापूर्ति साबित हो रही हैं।

यहां सिर्फ कार्रवाई के नाम पर सिर्फ औपचारिकता पूरी की जा रही हैं, जिसको लेकर सवाल उठ रहे हैं। पुराने शहर और बाकी इलाकों में पॉलीथिन की बिक्री खूब हो रही हैं। इसको नगर निगम के अधिकारियों द्वारा गठित की गई टीम पॉलीथिन की बिक्री को नहीं रोक पा रही हैं। पॉलीथिन, प्लास्टिक डिस्पोजल इस्तेमाल नहीं करने के लिए अभियान नगर निगम ने चलाया था। एक टीम भी इसको लेकर गठित की गई थी, लेकिन यह टीम भी वर्तमान में काम नहीं कर पा रही हैं। पुराने शहर में निगम ने छापा मारकर करीब सौ कुंतल पॉलीथिन पकड़ी थी, इसका मामला भी उसके खिलाफ दर्ज कराया गया था।

वर्तमान में फिर से ये व्यापारी चोरी-छिपे पॉलीथिन की बिक्री करने लगा हैं। लालकुर्ती पैंठबाजार में भी खुलेआम पॉलीथिन में सामान पैक करके व्यापारी दे रहे हैं। जब पॉलीथिन पर रोक लगी है तो लालकुर्ती क्षेत्र में कहां से पॉलीथिन आ रही हैं? इसी तरह से शास्त्रीनगर स्थित सेंट्रल मार्केट में भी इसी तरह से पॉलीथिन में सामान बंद कर दिया जा रहा हैं। यहां भी व्यापक स्तर पर पॉलीथिन कहां से आ रहीं है? इन पर नगर निगम द्वारा गठित की गई टीम आखिर काम क्यों नहीं कर रही हैं?

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments