Wednesday, June 16, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsShamliगांवों में संवेदनशीलता से कराएं सफाई, सैनेटाइजेशन: सुरेश राणा

गांवों में संवेदनशीलता से कराएं सफाई, सैनेटाइजेशन: सुरेश राणा

- Advertisement -
0
  • गन्ना मंत्री ने की संक्रमण से बचाव को निगरानी समितियों के कार्यो की समीक्षा

जनवाणी ब्यूरो |

शामली: कलक्ट्रेट के सभागार में प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा ने कोविड-19 वैश्विक महामारी के दृष्टिगत जनपद में संक्रमण से बचाव हेतु चल रहे सेनेटाइजेशन, साफ-सफाई एवं निगरानी समितियों के कार्यों की गहन समीक्षा की।

कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा ने उपस्थित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री की मंशा के अनुसार गांवों में गली-गली सैनिटाइजेशन एवं साफ सफाई अभियान को और अधिक गंभीरता से कराना है।

उन्होंने सभी खंड विकास अधिकारियों को प्रतिदिन अपने क्षेत्र के एक-एक गांव का औचक निरीक्षण कर साफ-सफाई के सम्बंध में स्थानीय लोगों से बात करने के बाद रिपोर्ट जिलाधिकारी को प्रस्तुत करने तथा जिन स्थानों पर सफाईकर्मी की कमी है वहां पर सफाईकर्मी बढ़ाए जाने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि सफाई अभियान को और संवेदनशीलता से करने की जरूरत है, ताकि कोरोना की चैन को जल्द से जल्द तोड़ा जा सके।

कैबिनेट मंत्री ने कहा समस्त अधिशासी अधिकारियों को निर्देशित किया कि बाजारों के साथ-साथ बस्तियों में भी सैनिटाइजेशन हो कोई बस्ती ना बचे इसका विशेष ध्यान रखा जाए। बैठक में अपर जिलाधिकारी द्वारा गन्ना मंत्री को अवगत कराया गया कि शहरी क्षेत्रों में निगरानी समिति के माध्यम से सिंप्टोमेटिक लोगों को मेडिकल किट उपलब्ध कराई जा रही है। निगरानी समितियों में नामित सभासदों को भी जोड़ा जाए।

अधिशासी अधिकारियों के कार्यालय के बाहर स्वास्थ विभाग द्वारा एंटीजन एवं आरटी पीसीआर की जांच भी की जाएगी। अधिशासी अधिकारियों को यह निर्देश दिया कि कोई भी अधिकारी मुख्यालय नहीं छोड़ेगा। उन्होंने शुगर मिलों द्वारा प्रतिदिन 03 गांवों को सैनिटाइजेशन कराने के लिए जिला गन्ना अधिकारी को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

बैठक में जिलाधिकारी जसजीत कौर, सीडीओ शंभू नाथ तिवारी, एडीएम अरविंद कुमार सिंह, पीडी ज्ञानेश्वर तिवारी, डीपीआरओ आलोक शर्मा, सहित समस्त खंड विकास अधिकारी एवं समस्त अधिशासी अधिकारी मौजूद रहे।

1.59 लाख मकानों का सर्वे, 2152 सिंप्टोमेटिक चिन्हित

समीक्षा बैठक में मुख्य विकास अधिकारी गन्ना मंत्री सुरेश राणा को अवगत कराया कि ग्रामीण क्षेत्रों में 230 एवं शहरी क्षेत्रों के लिए 170 निगरानी समिति बनाई गई है, जो सक्रिय होकर कार्य कर रही है।

जनपद में कोरोना की चैन को तोड़ने के लिए दिनांक 05 से 10 मई तक चलने वाले विशेष अभियान में 910 टीम ने 05 दिन में 01 लाख 59 हजार मकानों का सर्वे कर 2152 कोरोना सिंप्टोमेटिक लोगों को चिन्हित कर उनको मेडिकल किट उपलब्ध कराई है। लोगों को कोविड-19 के सभी प्रोटोकॉल के पालन करने की भी हिदायत दी जा रही है, ताकि जल्द से जल्द कोरोना के प्रसार को रोका जा सके।


What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments