Friday, April 23, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsBaghpatशेषनाग मंदिर पर दरवाजा लगाने पर ग्रामीणों में विवाद

शेषनाग मंदिर पर दरवाजा लगाने पर ग्रामीणों में विवाद

- Advertisement -
0
  • पुलिस ने पहुंचकर ग्रामीणों को शांत किया

जनवाणी संवाददाता |

दाहा: बामनौली के शेषनाग मंदिर पर बने मुख्य गेट पर दरवाजा लगाने पर ग्रामीणों ने विरोध किया और हंगामा खड़ा दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस व आरआर एफ के जवानों ने ग्रामीणों ने समझा बुझाकर शांत किया।

बडौत- बुढाना मार्ग स्थित बामनौली गांव के शेषनाग बाबा का प्राचीन मंदिर बना हुआ है। जिस पर श्रद्धालु दूर- दराज से प्रसाद चढ़ाने व मन्नत मांगने के लिए आते है। नागपंचमी पर मंदिर पर विशाल मेला लगता है। उसी पर सड़क के किनारे बडा गेट बना है, जिसे तेजपाल अंत्ता ने अपनी श्रद्धा से बनवाया है।

इसी गेट पर कुछ ग्रामीणों ने दरवाजा लगाने का प्रयास किया तो इस पर विवाद खड़ा हो गया। गेट बनवाने वाले तेजपाल सिंह ने कहा दरवाजा भी वह खुद लगवाएंगे। इस बात को लेकर तनाव पैदा हो गया। जिसकी सूचना थाना पुलिस को दी गई। सूचना पर पुलिस व आरआरएफ के जवान मौके पर पहुंच।

मामले का ग्रामीणों ने आपस में बैठकर फैसला कर गेट लगा दिया। दरवाजा बनवाने में ग्रामीणों का जो खर्च आया। उतने ही रूपये तेजपाल अंत्ता ने मंदिर में दान कर दिए। दोघट थाना प्रभारी निरीक्षक दिनेश कुमार ने बताया की गांव वालों ने आपसी सहमति से गेट लगाने के लिए कह दिया, जिससे विवाद खत्म हो गया। इस मौके पर विरेश प्रधान, सुरेन्द्र प्रधान, नरेश डायरेक्टर, राममेहर हरपाल सिह ,जगवीर सिंह ,रामेश्वर, हरिओम, जशवीर आदि मौजूद थे।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments