Wednesday, May 29, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutस्कूटी, बाइक सवार छात्रों की जानलेवा स्टंटबाजी

स्कूटी, बाइक सवार छात्रों की जानलेवा स्टंटबाजी

- Advertisement -
  • बेगमपुल से हापुड़ अड्डे तक मचाया हुड़दंग
  • सिविल लाइन में नौ अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: स्क ूली छात्रों ने सड़कों के बीचोंबीच जमकर जानलेवा स्टंटबाजी की और जमकर हुड़दंग मचाया। हुड़दंग मचाते इन छात्रो को रोकने वाला कोई नहीं था। बल्कि पुलिस भी सड़कों से नदारदत दिखाई दी। बेगमपुल रोड से होते हुए सिविल लाइन क्षेत्र हाशिमपुरा पुलिस चौकी के सामने से स्टंटबाजी करते हुए ये छात्र सड़कों पर तेजगति से बाइक उड़ाते रहे। पुलिस इन स्टंटबाजों को देखकर मूकदर्शक बनी रही।

वर्तमान में यूपी बोर्ड व सीबीएसई बोर्ड की परीक्षाएं चल रही हैं। शुक्रवार को छात्र परीक्षाएं देकर स्कूल से निकले और होली की छुट्टियां होने पर सड़कों पर जमकर धमाल मचाया। इतना ही नहीं इन स्कूली दर्जनों छात्रों ने स्कूटी और बाइक पर सवार होकर बेगमपुल से हुड़दंग मचाते हुए जीआईसी कालेज के सामने से होते हुए जानलेवा स्टंटबाजी कर कई लोगों की जान जोखिम में डालने का प्रयास किया। छात्रों का यह गु्रप बाइकों व स्कूटी पर खड़े होकर स्टंटबाजी करते हुए ईवज चौराहे से होते हुए हाशिमपुरा पुलिस चौकी के सामने से गुजरा,

25 3

लेकिन लालकुर्ती थाना और सिविल लाइन पुलिस इन स्टंटबाजों को रोकने के लिए कंही नहीं दिखाई दी। सड़कों पर खुलेआम स्टंटबाजी करते हुए वीडियो वायरल हुआ तो एसपी ट्रेफिक ने इसका संज्ञान लिया। एसपी ट्रैफिक के आदेश पर सिविल लाइन थाने पर नौ छात्रों के खिलाफ अज्ञात में मुकदमा दर्ज किया गया है। तीन वाहनों नंबर प्रकाश में आने पर पुलिस ने 336, 279 की कार्रवाई की है।

जानलेवा हो सकती थी स्टंटबाजी

जिस तरह से छात्रों का यह गु्रप सरेआम सड़कों पर चल रही लोगों की भीड़ में वाहनों पर स्टंटबाजी करते हुए निकल रहे थे। मानों लग रहा था कि अगर इनके वाहन किसी से अन्य वाहनों से टकरा जाते तो गंभीर हादसे हो सकते थे, लेकिन ट्रैफिक पुलिस और थानों की पुलिस की लापरवाही उजागर सामने दिखाई दी। इससे किसी भी आम नागरिक की जान जा सकती थी।

दामाद ने सास पर ब्लेड से किया हमला

स्मैक नशे की लत भी इंसान को हैवान बना देती है। ऐसे ही एक युवक ने नशे में अपनी सास के घर आकर उस पर ब्लेड से हमला कर दिया। हमले में घायल महिला ने शोर मचाया तो आरोपी मौके से साथियों संग भाग खड़ा हुआ। उधर घायल महिला को जिला अस्पताल में भर्ती न करने पर परिजनों नें हंगामा काटा।

ब्रहमपुरी थाना क्षेत्र खत्ता रोड निवासी शाहना की बेटी का निकाह करीब छह वर्षों पहले लालकुर्ती निवासी फारुख से हुआ था। दामाद फारुख के नशा करने पर कई बार बेटी से उसका विवाद हो गया था। विवाद के चलते फारुख अपने पिता और तीन अन्य साथियों संग ब्रहमपुरी खत्ता रोड अपनी ससुराल में गुरुवार रात करीब साढ़े आठ बजे पहÞुंचा। घर पर शाहना और उसकी बेटी रेशमा अकेले थे।

फारुख ने ससुराल में जाते ही सास शाहना से रेशमा को मायके में रखने की बात पर मारपीट कर दी। जिसके बाद फारुख ने जेब से ब्लेड निकाला और शाहना की छाती और चेहरे पर वार कर दिए। शाहना के शोर मचाने पर आरोपी फारुख और उसके कई साथी मौके से फरार हो गए। उधर, शाहना को परिजन थाना ब्रहमपुरी ले गए। जहां से उन्हें पुलिस जिला अस्पताल ले गई।

रात को शाहना को डाक्टरों ने इलाज के लिए इमरजेंसी में भर्ती कर दिया। शुक्रवार सुबह शाहना को जिला अस्पताल में तैनात स्टॉफ ने घर जाने की बात कहकर वहां से निकाल दिया। परिजनों की जिला अस्पताल कर्मचारियों से कहासुनी हो गई। जिसके चलते परिजनों ने शाहना को भर्ती न करने पर हंगामा किया। उधर ब्रहमपुरी पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments