Saturday, October 23, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsShamliभुगतान पर असंतोष, घटतौली पर डीसीओ से मांगा स्पष्टीकरण

भुगतान पर असंतोष, घटतौली पर डीसीओ से मांगा स्पष्टीकरण

- Advertisement -
  • बाट-माप अधिकारियों को निरीक्षण रिपोर्ट के साथ आख्या के निर्देश
  • सहारनपुर मंडलायुक्त ने किया धान एवं गन्ना क्रय केंद्रों का निरीक्षण

जनवाणी संवाददाता |

ऊन: मंडलायुक्त सहारनपुर ने धान क्रय केंद्र एवं गन्ना क्रय केंद्र का निरीक्षण किया भुगतान की समीक्षा के दौरान भुगतान न होने पर जिला गन्ना अधिकारी को प्रतिदिन की रिपोर्ट भेजने तथा क्रय केंद्रों पर घटतौली पर स्पष्टीकरण देने के निर्देश दिए। मंडलायुक्त के औचक निरीक्षण से अधिकारियों में खलबली मची रही।

सोमवार को मंडलायुक्त एवी राजमौली ने ऊन स्थित धान क्रय केंद्र का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान केंद्र प्रभारी दीपक कुमार ने बताया कि कुल 89 किसानों से 3210 कुंटल गेहूं खरीदा गया है। जिसका भुगतान किसानों के खाते में भेजा जा चुका है। केंद्र पर 1177 बोरे रखे हुए हैं। जिस पर मंडलायुक्त ने अवशेष धान को भंडारण हेतु भेजने के निर्देश दिए। क्रय केंद्र की व्यवस्थाएं दुरुस्त पाई गई लेकिन क्रय केंद्र का नोडल अधिकारी द्वारा कोई निरीक्षण न मिलने पर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए।

इसके बाद मंडलायुक्त ने ढिंढाली गन्ना क्रय केंद्र का निरीक्षण किया निरीक्षण के दौरान कांटे पर 5 कुंटल के बाट रखे गए तोल सही पाया गया। लेकिन क्रय केंद्र पर मौजूद किसानों ने घटतौली करने का आरोप लगाया। निरीक्षण पुस्तिका में बाट माप निरीक्षक द्वारा कोई निरीक्षण न करने पर फोन पर बाट माप अधिकारियों को हड़काया तथा पूरे जिले के क्रय केंद्रों के निरीक्षण कर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए।

उन्होंने जिला गन्ना अधिकारी व उपजिलाधिकारी मणी अरोरा को भी भुगतान व घटतौली की रिपोर्ट देने के निर्देश दिए। इस दौरान किसानों ने बिजली विभाग के अधिकारियों पर भी अवैध वसूली करने का आरोप लगाते हुए बताया कि बिल जमा होने के बावजूद भी कनेक्शन काटे जा रहे हैं। मंडलायुक्त ने एसडीएम को ऊन बस स्टैंड से बाइपास मार्ग तक सड़क के दोहरीकरण तथा बस स्टैंड के बीचो बीच खड़े ट्रांसफार्मर व खंभे हटाने के निर्देश दिए गए। मंडलायुक्त के औचक निरीक्षण से अधिकारियों में खलबली मच गई।

खडंजे के लिए आई पीली ईंटों को भेजा वापस

मंडलायुक्त द्वारा औचक निरीक्षण करने की सूचना मिलते ही ब्लॉक के अधिकारियों में खलबली मच गई ब्लॉक कार्यालय पर क्षेत्र पंचायत निधि से सड़क निर्माण का कार्य चल रहा है। जिसमें घटिया क्वालिटी की ईंटें लगाई जा रही है। मंडलायुक्त के औचक निरीक्षण से घबराए अधिकारियों ने तुरंत ही ट्रैक्टर ट्रॉली बुलाकर सड़क निर्माण हेतु मंगाई गई पीली ईंटों को वापस भरवाना शुरू कर दिया।

जबकि पीली ईंटो से खडंजा निर्माण किया जा चुका है तथा कुछ खड़ंजा शेष बचा है। गनीमत यह रही कि मंडलायुक्त द्वारा धान क्रय केंद्र की निरीक्षण के बाद ब्लॉक कार्यालय का निरीक्षण नहीं किया गया। वह गन्ना क्रय केंद्र के निरीक्षण हेतु चले गए इस संबंध में एडीओ मुकेश कुमार ने बताया कि क्षेत्र पंचायत निधि से ठेकेदार द्वारा सड़क निर्माण किया जा रहा है घटिया ईंटें होने के कारण इन्हें वापस भेजा गया है।

मंडलायुक्त ने खामियों को लेकर लगाई फटकार

थानाभवन: सोमवार को थानाभवन पहुंचे सहारनपुर मंडलायुक्त एवी राजमौलि ने सर्व प्रथम थानाभवन में बनाये जा रहे नवनिर्मित गैस्ट हाऊस का निरिक्षण किया। इस दौरान मंडलायुक्त ने भवन की बारीकी से जांच की। अधिकारी ने खिडकी के जंगलों में खामियां मिलने पर उन्हे तुरन्त बदलवाने के निर्देष दिये। भवन के बेसमैन्ट में पहुंचें मंडलायुक्त ने सीलन मिलने पर ठेकेदार व सम्बन्धित अधिकारियों को फटकार लगाते हुए खामियों को तुरन्त ठीक करने के निर्देष दिये।

 

यहां के बाद मंडलायुक्त थानाभवन की बजाज शुगर मिल के सामने भैंसानी मार्ग पर स्थित गौशाला का निरीक्षण किया। अस्थाई बनायी गयी गौशाला को बडी गौशाला बनाये जाने के लिए एक करोड बीस लाख की लागत से गौशाला का निर्माण किया जा रहा है।

मंडलायुक्त ने गौशाला का निरीक्षण करते हुए गुणवत्ता पूर्ण कार्य करने के निर्देष दिये वहीं गौशाला के उपर से जा रहे हाईटेंशन लाईन के तारों के लिए दुर्घटना से बचाव के लिए आवश्यक कार्य कराने के भी निर्देश दिये। इस अवसर पर परियोजना प्रबन्धक वीबी एस यादव, सहायक प्रयोजना प्रबन्धक अशोक कुमार, इंजिनियर ललित अग्रवाल आदि मौजूद रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments