Wednesday, May 29, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsSaharanpurशहर की सेहत सुधारने के लिए सब मिलकर धरातल पर काम करें:...

शहर की सेहत सुधारने के लिए सब मिलकर धरातल पर काम करें: नगरायुक्त

- Advertisement -
  • नगरायुक्त ने पर्यावरण सुधार के लिए स्वयंसेवी व सामाजिक संगठनों से की चर्चा

जनवाणी संवाददाता |

सहारनपुर: नगरायुक्त ग़ज़ल भारद्वाज ने कहा है कि महानगर की सेहत सुधारने के लिए पर्यावरण संतुलन में और सुधार करना होगा, लेकिन यह तभी संभव होगा जब महानगर का हर नागरिक इसके लिए आगे आए। नगरायुक्त ने यह बात विभिन्न सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों से महानगर के पर्यावरण संतुलन में और सुधार करने के लिए चर्चा करते हुए कही।

नगरायुक्त ने बताया कि पर्यावरण दिवस पांच जून को हम केवल औपचारिक रुप से ही न मनाए बल्कि शहर की सेहत सुधारने के लिए सब एक साथ मिलकर धरातल पर भी काम करें। उन्होंने कहा कि पर्यावरण संतुलन के लिए अब केवल पौधारोपण से काम चलने वाला नहीं है, उसके साथ-साथ हमें अपने घरों, प्रतिष्ठानों व दुकानों से निकलने वाले कूडे़ को कम करना होगा और उसके निष्पादन में सहयोग करना होगा।

उन्होंने बताया कि नगर निगम प्रत्येक वार्ड में एक नयी शुरुआत करेगा। वार्डो में थ्री आर सेंटर (रीडियूज, री-साइकिल व री-यूज़) बनाये जायेंगे। जहां लोगों के घरों से व्यर्थ का फालतू कचरा, जूते, कपड़ा, क्रॉकरी, बोतल आदि एकत्रित की जायेगी। इस एकत्रित कचरे से उपयोगी कचरे को छांटकर आकर्षक रुप देते हुए उसे शहर की साज सज्जा में उपयोग किया जायेगा और शेष कचरे को पुर्नचक्रण के लिए भेजा जायेगा।

56 6

सहायक नगरायुक्त अशोक प्रिय गौतम ने बताया कि प्रथम चरण में पैरामाउंट, ग्रीन पार्क, भगवती कॉलोनी व ऑफिसर्स कॉलोनी सहित 12 वार्डो में थ्री आर सेंटर बनाये जायेंगे। उन्होंने बताया कि अभियान 20 मई से शुरु कर 5 जून तक चलाया जायेगा। इस अभियान में स्वयंसेवी व सामाजिक संगठनों और छात्रों को जागरुक करते हुए उनकी मदद ली जायेगी। स्कूली बच्चों के लिए प्रतियोगिता का भी आयोजन किया जायेगा।

शाकंुतलम् संस्था के अध्यक्ष शरद भार्गव ने थर्मोकोल व प्लास्टिक की डिस्पोजल क्रॉकरी के निष्पादन पर जोर दिया। सर्राफा एसोसियेशन के रामराजीव सिंघल व जामा मस्जिद के प्रबंधक मौलवी फरीद ने दाल मण्डी पुल क्षेत्र में तथा सीनियर सिटीजन एसोसियेशन के आर के हांडा व वीरेंद्र बहल ने शास्त्री नगर पार्क में बड़ा थ्री आर सेंटर बनाने का सुझाव दिया। दिशा भारती इंजीनियरिंग कॉलेज से सम्बद्ध राजीव अग्रवाल ने कहा कि घर के अनुपयोगी कचरे को थ्री आर सेंटरों पर देने के लिए लोगों को शिक्षित करना होगा और लोगों को भी इसे अपनी आदत में शुमार करना होगा। टीचर्स एसोसियेशन के अध्यक्ष रजनीश चौहान ने अभियान से बच्चों और पार्षदों को भी जोड़ने का सुझाव दिया।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments