Thursday, April 25, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutकिसानों ने नहीं मानी बात, बैरंग लौटे अधिकारी

किसानों ने नहीं मानी बात, बैरंग लौटे अधिकारी

- Advertisement -
  • ईओ की किसानों ने गाड़ी छीनी बाइक से गए ईओ शैलेंद्र सिंह

जनवाणी संवाददाता |

दौराला: आवारा पशुओं को लेकर दौराला फ्लाईओवर के नीचे धरना दे रहे भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं का तीसरे दिन भी धरना जारी रहा। एसडीएम सरधना व सीओ दौराला कार्यकर्ताओं के बीच वार्ता को पहुंचे और जल्द समस्याओं का निस्तारण कराने का आश्वासन दिया।

17 4

धरने में पहुंचे अधिशासी अधिकारी दौराला पर अभद्र भाषा का प्रयोग करने का आरोप लगाते हुए किसानों ने नाराजगी जाहिर की और धरना समाप्त नहीं किया। दौराला फ्लाईओवर के नीचे भारतीय किसान यूनियन कार्यकर्ताओं के साथ किसान आवारा पशुओं को लेकर धरना दे रहे हैं। शनिवार को तीसरे दिन भी कार्यकर्ताओं का धरना जारी रहा। दोपहर बाद एसडीएम सरधना पंकज राठौर व सीओ दौराला अभिषेक पटेल कार्यकर्ताओं से वार्ता के लिए पहुंचे।

एनसीआर महासचिव मनोज त्यागी ने एसडीएम सरधना को पांच सूत्रीय मांगों के बारे में जानकारी दी। जिस, पर एसडीएम ने जल्द अधिकारियों से वार्ता कर समस्याओं का निस्तारण कराने का आश्वासन दिया। इस दौरान एसडीएम ने दौराला नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी शैलेंद्र सिंह को धरना स्थल पर बुलाया। वार्ता के दौरान कार्यकर्ताओं ने अधिशासी अधिकारी पर अभद्र भाषा का प्रयोग करने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया

और धरना समाप्त न करने की बात कही। जिस पर अधिशासी अधिकारी वहां से चल दिए। कार्यकर्ताओं ने अधिशासी अधिकारी की गाड़ी की चॅबी निकाल ली और आरोप लगाया कि वह नगर पंचायत में कूड़ा उठाने वाली गाड़ी को अपने आने-जाने के उपयोग में ले रहे हैं। इसके बाद अधिशासी अधिकारी बाइक पर बैठकर वहां से रवाना हो गए।

किसी भी अधिकारी ने अभद्रता की तो होगा बड़ा धरना

दौराला फ्लाईओवर के नीचे चल रहे भारतीय किसान यूनियन के धरना स्थल पर शनिवार रात भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत पहुंचे। उन्होंने कार्यकर्ताओं से बातचीत कर आगे की रणनीति बनाई। धरना स्थल पर राकेश टिकैत ने कहा कि जो भी अधिकारी कार्यकर्ताओं के साथ अभद्र व्यवहार करेगा और गलत भाषा का प्रयोग करेगा। उसके खिलाफ भारतीय किसान यूनियन धरना-प्रदर्शन करेगी।

18 5

कहा कि धरना अभी आरंभ हुआ है, धरने पर पांच नहीं अन्य मांगे भी बढ़ाई जाएंगी। धरना जारी रहेगा और गन्ना भुगतान, महंगी बिजली, मीटर लगना आदि का जब तक समाधान नहीं होगा विरोध जारी रहेगा। आधे से अधिक सत्र बीतने के बाद भी गन्ने का मूल्य घोषित नहीं हो सका है। वहीं, बहुत से गन्ना मिलों ने अभी तक भुगतान नहीं किया है।

राकेश ने आरपार की लड़ाई करने का भी ऐलान कर दिया। अगर किसी भी अधिकारी ने भी की बत्तमीजी तो दूरगामी परिणाम होंगे। धरने पर उपेंद्र प्रधान, रविंद्र दौरालिया, आकाश चौधरी, मनोज त्यागी, पवन खटाना, मास्टर जगमोहन सिंह, मिंटू दौरालिया, लव भराला आदि कार्यकर्ता मौजूद रहे।

रोहटा में भाकियू नेताओं पर मुकदमें लिखने का मामला महापंचायत में उठा

खतौली (मुजफ्फरनगर) की महापंचायत में रोहटा थाने में भाकियू नेताओं पर दर्ज किये गए मुकदमों का मामला भी उठा। खुद भाकियू के राष्टÑीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने मंच से कहा कि सांड की टक्कर से एक व्यक्ति की मेरठ के रोहटा में मौत हो गई। आक्रोशित लोगों ने जाम लगा दिया। इस मामले में पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए भाकियू नेताओं पर मुकदमें दर्ज कर दिये। ये बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

19 5

इन तमाम मुद्दों को लेकर भाकियू आंदोलन करेगी, जिसमें रोहटा पुलिस भाकियू नेताओं के खिलाफ दर्ज किये गए मुकदमों को वापस ले, अन्यथा थाने की घेराबंदी करने से भी भाकियू पीछे नहीं हटेगी। बता दे कि आवारा पशुओं से लोग परेशान हैं। रात्रि में आवारा पशुओं को लेकर खेतों पर पहरेदारी कर रहे हैं। क्योंकि गेहूं के खेत में घुसने के बाद आवारा पशु खेत नष्ट कर रहे हैं।

फिर रोहटा में हाल ही में एक आवारा सांड ने एक व्यक्ति को टक्कर मार दी थी, जिससे इस व्यक्ति की मौत हो गई थी। यह मुद्दा भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता चौधरी राकेश टिकैत ने महापंचायत में उठा दिया। राकेश टिकैत ने कहा कि अब किसान मर भी रहा है और उन्हीं के परिजनों के पर मुकदमे भी लगाए जा रहे हैं। इसको लेकर के भारतीय किसान यूनियन की महापंचायत में मेरठ में भी होगी, लेकिन इसके लिए कोई तिथि अभी घोषित नहीं की।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
3
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments