Thursday, February 22, 2024
HomeUttar Pradesh Newsकिसानों की प्रशासन से तीसरे दौर की वार्ता विफल, गुस्से में जलाया...

किसानों की प्रशासन से तीसरे दौर की वार्ता विफल, गुस्से में जलाया गन्ना

- Advertisement -
  • टोल प्लाजा पर लगातार बढ़ रहा किसानों का जमावड़ा
  • टोल प्लाजा पर किसानों ने गन्ना जलाकर रोष प्रकट किया

जनवाणी संवाददाता |

सरूरपुर: भूनी टोल प्लाजा पर अपनी मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन धरने पर डटे भारतीय किसान यूनियन कार्यकर्ताओं की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। दूसरे दिन भी टोल प्लाजा पर भारतीय किसान यूनियन कार्यकर्ताओं का कब्जा रहा और कार्यकर्ताओं ने टोल प्लाजा पर बीच सड़क में तंबू आदि गाडकर भट्टी चढ़ा रखी है।

गुरुवार को टोल प्लाजा पर भारतीय किसान यूनियन कार्यकर्ताओं के तीसरे दौर की वार्ता भी एडीएम अमित कुमार सिंह और एसपी देहात, एसडीएम की मौजूदगी में हुई लेकिन तीसरे दौर की वार्ता भी बात नहीं बन पाने के कारण प्रशासन से विफल रही। इसके बाद भारतीय किसान यूनियन कार्यकर्ताओं ने 1 दिसंबर से शुगर मिलों द्वारा इस सीजन का गन्ना भुगतान शुरू करने और गन्ना मूल्य घोषित नहीं होने को लेकर रोष जताते हुए अधिकारियों के सामने मांगे रखी और बाद में टोल प्लाजा पर किसानों ने गन्ना जलाकर रोष प्रकट किया।

01 37

भारतीय किसान यूनियन के जिला अध्यक्ष अनुराग चौधरी व कार्यकर्ताओं का कहना था कि अभी तक गन्ना मूल्य घोषित नहीं किया गया है। इस दौरान होली जलाकर कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी की ओर विरोध जताते हुए गन्ना जलाया। उधर धरना स्थल पर लगातार भारतीय किसान यूनियन कार्यकर्ताओं का जहां जमावड़ा बढ़ता जा रहा है, तो वहीं पुलिस प्रशासन भी डटा हुआ है।

03 31

तीसरे दौर की वार्ता विफल होने के बाद भाकियू कार्यकर्ताओं ने प्रशासन से दो टूक कह दिया कि जब तक उनकी मांगे लिखित में पूरी नहीं होंगी जब तक वह धरना स्थल से नहीं हटेंगे।कार्यकर्ताओं को कहना है कि सिवाया टोल प्लाजा की तर्ज पर इसी टोल को भी चलाया जाए इसे लेकर कार्यकर्ताओं ने प्रशासन के टेंशन और बढ़ा दी है। साथ ही कार्यकर्ताओं ने पैदल मार्च और रोड जाम की भी चेतावनी दी है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments