Tuesday, April 23, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsShamliचित्रकूट जेल में बंद सपा विधायक नाहिद का उत्पीड़न

चित्रकूट जेल में बंद सपा विधायक नाहिद का उत्पीड़न

- Advertisement -
  • नाहिद से चित्रकूट जेल में मिला सपा प्रतिनिधि मंडल
  • कहा, गले में तकलीफ के बावजूद कैंसर की जांच नहीं

जनवाणी संवाददाता |

कैराना: चित्रकूट जेल में बंद सपा विधायक नाहिद हसन से समाजवादी पार्टी के प्रतिनिधि मंडल ने मुलाकात की। प्रतिनिधि मंडल ने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार विधायक नाहिद हसन का उत्पीड़न कर रही है। चिकित्सकों के परामर्श के अनुरूप भोजन नहीं दिया जा रहा हैं और ना ही गले में तकलीफ होने के कारण उनकी कैंसर की जांच कराई जा रही है। प्रतिनिधि मंडल अपनी रिपोर्ट प्रदेश हाईकमान को प्रस्तुत करेगा।

फरवरी 2021 में सपा विधायक नाहिद हसन व उनकी मां पूर्व सांसद तबस्सुम हसन समेत 40 लोगों के विरूद्ध कैराना कोतवाली में गैंगस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। 15 जनवरी 2022 को पुलिस ने मामले में सपा विधायक को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश कर दिया था। जहां से उन्हें मुजफ्फरनगर जेल भेज दिया गया था। पिछले दिनों करीब साढ़े 8 माह बाद शासन के निर्देश पर जेल प्रशासन ने अचानक सपा विधायक का मुजफ्फरनगर जेल से 700 किलोमीटर दूर चित्रकूट जेल में स्थानांतरण कर दिया था। विधायक पर कार्रवाई को लेकर सपा प्रमुख अखिलेश यादव की चुप्पी से समर्थकों में काफी आक्रोश है और तमाम सवाल उठाए जा रहे थे। इसके बाद पार्टी ने विधायक विशंबर सिंह यादव बबेरू बांदा, विधायक विनोद चतुर्वेदी कालपी जालौन, विधायक अनिल कुमार उर्फ अनिल प्रधान चित्रकूट, पूर्व विधायक वीरसिंह पटेल, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष शिव शंकर सिंह और चित्रकूट सपा के जिलाध्यक्ष अनुज सिंह यादव का प्रतिनिधि मंडल नियुक्त किया था।

सोमवार को उक्त प्रतिनिधि मंडल ने चित्रकूट जेल में पहुंचकर विधायक नाहिद हसन से मुलाकात की। इसके पश्चात प्रतिनिधि मंडल मीडिया से रूबरू हुआ। आरोप लगाया कि भाजपा सरकार द्वारा विधायक नाहिद हसन को जेल में परेशान किया जा रहा है। गैंगस्टर एक्ट के उक्त मामले में 40 लोगों में से 38 लोगों की जमानत हो चुकी है। इन्हें जमानत नहीं मिल पा रही है। विधायक पर 406 का मामला सुप्रीम कोर्ट में है। आगे कहा कि छह महीने 23 दिन बीत जाने के बाद भी विधायक को आज तक शपथ नहीं दिलाई गई है। वह जनता से चुने हुए विधायक हैं। शपथ नहीं दिलाएंगे, तो ऐसे में उनकी सदस्यता जा सकती है। उन्होंने कहा कि चिकित्सकों के परामर्श के अनुसार विधायक को खाना नहीं दिया जा रहा है। उन्हें गले में तकलीफ है, लेकिन किसी भी स्पेशलिस्ट से कैंसर की जांच नहीं कराई जा रही है।

आरोप लगाया कि भाजपा सरकार में सपा के लोगों को प्रताड़ित किया जा रहा है। प्रतिनिधि मंडल का आरोप है कि विधायक नाहिद हसन की मां पूर्व सांसद तबस्सुम हसन को जेल में अपने बेटे से मिलने तक नहीं दिया गया। वह दो बार सांसद रह चुकी हैं। वहीं, चित्रकूट जेल से बाहर आने केब बाद विधायक नाहिद हसन की बहन इकरा हसन से भी प्रतिनिधि मंडल ने मुलाकात की। प्रतिनिधि मंडल अपनी रिपोर्ट पार्टी हाईकमान को सौंपेगा।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments