Saturday, April 13, 2024
HomeNational Newsइमरान को जमानत, पाकिस्तान फिर इमरजेंसी की ओर, कैबिनेट ने की सिफारिश

इमरान को जमानत, पाकिस्तान फिर इमरजेंसी की ओर, कैबिनेट ने की सिफारिश

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: पाकिस्‍‍‍‍‍तान की न्‍‍‍‍‍यूज एजेंसी ने कहा कि पूर्व पीएम इमरान खान को हाई कोर्ट ने एक मामले में जमानत दी है, लेकिन अभी अन्‍य मामले बाकी हैं। इस बीच पाकिस्‍तान सरकार की कैबिनेट ने देश में तत्‍काल इमरजेंसी लगाने के लिए सिफारिश की है। इस संबंध में प्रधानमंत्री शाहबाज घोषणा भी कर सकते हैं।

इससे पहले इस्लामाबाद पुलिस ने शुक्रवार को कहा कि राष्ट्रपति आरिफ अल्वी और गिलगित-बाल्टिस्तान के मुख्यमंत्री खालिद खुर्शीद समेत 10 लोगों को गुरुवार को पीटीआई प्रमुख इमरान खान से मिलने की अनुमति दी गई थी।

डॉन की खबर के मुताबिक, इस्लामाबाद पुलिस ने कहा कि इमरान के चिकित्सक डॉ. फैसल और उनकी कानूनी टीम ने भी पुलिस लाइन गेस्ट हाउस में पीटीआई प्रमुख से मुलाकात की।

आपको बता दें कि गुरुवार को पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने इमरान खान के लिए एक बड़ी राहत में, पूर्व प्रधानमंत्री की नाटकीय गिरफ्तारी को ‘गैरकानूनी’ और ‘अमान्य’ घोषित करार दिया था और अग्रिम जमानत के लिए इस्लामाबाद हाई कोर्ट के समक्ष पेश किए जाने के बाद उनकी तत्काल रिहाई का आदेश दिया था।

उधर, जो बाइडेन प्रशासन ने गुरुवार को कहा कि संयुक्त राज्य अमेरिका पाकिस्तान में स्थिति की निगरानी करना जारी रखेगा। इमरान खान को 9 मई को इस्लामाबाद उच्च न्यायालय परिसर से पाकिस्तान रेंजर्स ने उस वक्त गिरफ्तार कर लिया था, जब वह दो मामलों में अग्रिम जमानत के लिए पहुंचे थे।

एक जवाबदेही अदालत ने अगले दिन उन्हें अल-कादिर ट्रस्ट भ्रष्टाचार मामले में 8 दिन की रिमांड पर राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो को सौंप दिया था। उनकी गिरफ्तारी ने पूरे पाकिस्तान में व्यापक विरोध प्रदर्शन देखा, जिसने शहबाज शरीफ सरकार को राष्ट्रीय राजधानी के साथ-साथ पंजाब, खैबर पख्तूनख्वा और बलूचिस्तान प्रांतों में सेना तैनात करने के लिए प्रेरित किया।

देशव्यापी हिंसक विरोध प्रदर्शन में कम से कम 8 लोगों की मौत हो गई। मुख्य न्यायाधीश उमर अता बंदियाल, न्यायमूर्ति मुहम्मद अली मजहर और न्यायमूर्ति अतहर मिनल्लाह की 3 सदस्यीय शीर्ष अदालत की पीठ ने कल इमरान खान की गिरफ्तारी को गैरकानूनी बताते हुए उनकी तत्काल रिहाई का आदेश दिया। पूर्व पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान देश भर में 120 से अधिक मामलों का सामना कर रहे हैं, जिनमें कथित रूप से देशद्रोह और ईशनिंदा, हिंसा और आतंकवाद को उकसाना शामिल है।

इमरान खान को इस्लामाबाद हाई कोर्ट से बड़ी राहत मिली है। उच्च न्यायालय ने तोशखाना मामले में उनके पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री के खिलाफ आपराधिक कार्यवाही पर रोक लगा दी है। इमरान खान आज कड़ी सुरक्षा के बीच अल-कादिर ट्रस्ट केस में अग्रिम जमानत के लिए इस्लामाबाद उच्च न्यायालय (आईएचसी) के सामने पेश हुए।

इमरान खान फिर से हो सकते हैं गिरफ्तार, कई मामलों में भी चाहिए बेल

पाकिस्‍तान के पूर्व पीएम इमरान खान को अगर अन्य मामलों में शुक्रवार को बेल नहीं मिली तो फिर से गिरफ्तार हो सकते हैं। पाकिस्‍‍‍‍‍तान की एक न्‍‍‍‍‍यूज एजेंसी ने कहा कि हाई कोर्ट ने एक मामले में जमानत दी है, लेकिन अभी अन्‍य मामले बाकी हैं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments