Wednesday, October 27, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutश्यामा सर्राफ के घर, शोरूम में आयकर का छापा

श्यामा सर्राफ के घर, शोरूम में आयकर का छापा

- Advertisement -
  • सदर स्थित खेमचंद पवन कुमार सराफ प्रतिष्ठान की कोठी और करीबियों के यहां भी हुई छापेमारी
  • श्यामा के करीबियों में हड़कंप, साथ कारोबार करने वाले कई हुए अंडर ग्राउंड

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: सदर सर्राफा बाजार स्थित मैसर्स खेमचंद पवन कुमार के यहां गुरुवार सुबह आयकर अधिकारियों ने छापा मारा। छापे की कार्रवाई पवन कुमार उर्फ श्यामा सर्राफ के वेस्ट एंड रोड स्थित कोठी तथा उनके साझीदार धनपत गुप्ता के तेजपाल एन्क्लेव दिल्ली रोड तथा पुत्र राहुल की नई दिल्ली कमला नगर स्थित ससुराल पर एक साथ की गयी। इस कार्रवाई से हड़कंप मचा हुआ है। कई सर्राफा कारोबारी जिनकी गिनती श्यामा के करीबियों में होती है अंडर ग्राउंड हो गए हैं। उनके मोबाइल भी स्वीच आॅफ जा रहे हैं। छापे की कार्रवाई की शुरूआत वेस्ट एंड रोड स्थित कोठी से की गयी।

आसपास के लोगों ने जानकारी दी कि सुबह करीब साढे छह बजे प्राइवेट गाड़ियां अचानक श्यामा की कोठी के सामने पहुंचीं। गेट पर लगी डोर बेल बजायी। जैसे ही गेट खुला दनदनाते हुए अधिकारी अंदर दाखिल हो गए। वहां पहुंचे अफसरों ने उन्हें पहले ही बता दिया था कि आयकर का छापा है।

सदर भडभुजे वाली गली के आसपास रहने वालों ने बताया कि श्यामा की कोठी व प्रतिष्ठान पर आयकर के अफसरों का अमला साथ साथ पहुंचा था, लेकिन प्रतिष्ठान पर कुछ देरी से कार्रवाई शुरू की गयी। माना जा रहा है कि प्रतिष्ठान की चाबियां आने की वजह से यह देरी हुई।

आयकर अधिकारियों के भीतर दाखिल होने के बाद साथ आयी पुलिस फोर्स ने मजबूत घेराबंदी कर ली। प्रतिष्ठान व कोठी में न तो कोई अंदर जा सकता था न ही किसी को बाहर आने की अनुमति दी गयी। पुलिस कर्मियों ने कई लेयर का सुरक्षा घेरा बनाया हुआ था। सुबह करीब आठ बजे कोठी पर काम वाली पहुंची थी, लेकिन बंगले पर पुलिस देखकर वह जब अंदर जाने लगी तो उसको लौटा दिया गया।

श्यामा के यहां छापे की खबर कुछ ही मिनट में शहर के तमाम सर्राफा कारोबारियों तक जा पहुंची। व्यापारी नेताओं ने श्यामा को मोबाइल फोन पर संपर्क का प्रयास किया, लेकिन स्वीच आॅफ का रिप्लाई मिला। इसके बाद करीब 11 बजे मेरठ बुलियन ट्रेडर्स एसोसिएशन के पदाधिकारी व कई व्यापारी व भाजपा नेता सदर स्थित प्रतिष्ठान पर पहुंचे। वहां मौजूद पुलिस कर्मियों ने उन्हें रोक दिया। जमकर धक्का-मुक्की हुई।

बुलियन ट्रेडर्स के महामंत्री विजय आनंद प्रतिष्ठान के भीतर जाने पर अड़ गए। आयकर अधिकारी पवित्र दुबे व अंकित मिश्रा जो लीड कर रहे थे, उनसे जमकर कहासुनी हुई। बाद में आयकर अधिकारी ठंडे पडे प्रतिष्ठान के भीतर जाकर विजय आनंद ने श्यामा व उनके पुत्र राहुल से बात की।

संयुक्त व्यापार संघ अध्यक्ष अजय गुप्ता भी दलबल के साथ सदर बाजार पहुंचे। उन्होंने श्यामा सर्राफा से बातचीत की। अजय गुप्ता ने बताया कि वह इनकम टैक्स की कार्रवाई में बाधा नहीं डाल रहे हैं। अपने व्यापारी साथी से मिले हैं। उनका उत्पीड़न सहन नहीं करेंगे।

अलर्ट पर बुलियन ट्रेडर्स

कार्रवाई के विरोध पर बुलियन ट्रेडर्स ने कारोबारियों को अलर्ट जारी कर दिया है। उन्होंने कहा है कि यदि व्यापारी के साथ किसी प्रकार के उत्पीड़नात्मक कार्रवाई की गयी तो उसका विरोध किया जाएगा। शहरभर के सर्राफा कारोबारी प्रतिष्ठान बंद कर देंगे।

इन स्थानों पर भी हुई छापेमारी

श्यामा सर्राफ के प्रतिष्ठान व वेस्ट एंड रोड स्थित आवास पर छापे के अलावा उनके साझीदार बताए जा रहे दिल्ली रोड तेजपाल एन्क्लेव निवासी धनपत गुप्ता के आवास पर भी सुबह आयकर अधिकारियों का अमला भारी पुलिस फोर्स के साथ पहुंच गया था। इस कार्रवाई से वहां भी हड़कंप मचा हुआ है। इसके अलावा राहुल की नई दिल्ली कमलानगर स्थित ससुराल में भी छापे की कार्रवाई हुई।

लखनऊ, दिल्ली अधिकारियों का ज्वाइंट आपरेशन

लखनऊ और दिल्ली रिजन के आयकर अधिकारियों का यह ज्वाइंट आपरेशन है। दरअसल सर्राफा कारोबारी का इनकम टैक्स रिटर्न दिल्ली भर जाता बताया गया है। जो अधिकारी छापे की कार्रवाई को अंजाम देने के लिए आए थे। उनमें से एक भी अधिकारी मेरठ रिजन से नहीं था। सभी अधिकारी आयकर के दूरदराज के कार्यालयों से बुलाए गए थे।

पैन ड्राइव में कैद जानकारियां

सोने के बडे कारोबारियों जिनकी प्रतिदिन की सप्लाई करीब 10 किलो गोल्ड या इससे ज्यादा की बतायी जाती है। उनकी तमाम जानकारियां आमतौर पर पैन ड्राइव में होती हैं। सूत्र बताते हैं कि छापे कार्रवाई के दौरान मौके पर कुछ गोल्ड तो मिल सकता है या फिर कैश, लेकिन जहां तक कागजात या फिर अन्य कारोबारी सबूत की बात है तो वह सब मौके पर आमतौर पर नहीं मिलता।

करीबी हुए अंडर ग्राउंड

सदर सर्राफा के इस कारोबारी के जो दूसरे सर्राफा कारोबारी करीबी माने जाते हैं जैसे ही आयकर के छापे की जानकारी मिली वो सब अंडर ग्राउंड हो गए। करीब चार करीबी कारोबारी ऐसे बताए जाते हैं। जिनसे प्रतिदिन बहुत भारी भरकम लेन-देन और गोल्ड सप्लाई का काम किया जाता है। वो सभी अंडर ग्राउंड हैं। सुनने में तो यहां तक आया है कि छापे की कार्रवाई तो कहीं अन्य ही की जानी थी। रडार में कोई दूसरे कारोबारी बताए जा रहे हैं।

पंच कल्याणक में भारी भरकम खर्च

बताया जाता है कि जैन समाज के पंच कल्याणक उत्सव में कारोबारी ने मोटी रकम खर्च की थी। हालांकि पंच कल्याणक सरीखे समाज के कार्यक्रम में भारी भरकम रकम खर्च करने की परपंरा समाज की रही है। उम्मीद व अनुमान से कहीं आगे बढ़कर ऐसे आयोजनों में खर्च करने वाले हैं और पूर्व में खर्च किया भी गया है। माना जा रहा है कि इसको लेकर आयकर अधिकारियोें के टारगेट पर आ गए।

तैयार हो रहा है शोरूम

सदर में इन दिनों कारोबारी बड़ा शोरूम तैयार करा रहे हैं। इसके अलावा हनुमान चौक बॉम्बे मॉल को लेकर भी कारोबारी का नाम लिया जाता है। पिछले दिनों वहां सील के बावजूद काम शुरू किया गया।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments