Tuesday, April 23, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutक्षतिग्रस्त हालत में पहुंची कांवड़ मार्ग गंगनहर पटरी

क्षतिग्रस्त हालत में पहुंची कांवड़ मार्ग गंगनहर पटरी

- Advertisement -
  • हर साल पेंचवर्क के नाम पर खर्च होता मोटा पैसा
  • एक ही बारिश में पुरानी हालत में पहुंच जाती है पटरी

जनवाणी संवाददाता |

सरधना: कांवड़ मार्ग गंगनहर पटरी पूरी तरह क्षतिग्रस्त हालत में पहुंच गई है। कहने को हर साल इस पटरी की मरम्मत कराई जाती है। मगर ही कुछ महीने के बाद पटरी की हालत वहीं हो जाती है। मरम्मत के नाम पर हर साल करोड़ों रुपये का खेल होता है।

पिछले कुछ सालों ने मरम्मत के नाम पर सरकारी खजाने से जितना पैसा निकाला गया है, उनमें तो पूरी पटरी नए सीरे से बनकर तैयार हो जाती। फिलहाल खस्ताहाल पटरी राहगीरों के लिए भारी परेशानी का सबब बनी हुई है। पटरी पर हुए गहरे गड्ढों की चपेट में आकर आए दिन सड़क दुर्घटना हो रही है।

कांवड़ मार्ग गंगनहर पटरी पर हर साल बड़ी संख्या में कांवड़िया गुजरते हैं। कांवड़ यात्रा से पहले प्रशासन द्वारा पटरी की मरम्मत कराई जाती है। सड़क की मरम्मत के नाम पर हर साल करोड़ों रुपये खर्च किए जाते हैं। कांवड़ यात्रा संपन्न होते ही पटरी फिर से टूटनी शुरू हो जाती है। क्योंकि पेंचवर्क में जमकर खेल होता है। क्योंकि गड्ढों की सफाई किए बिना उसमें रोड़ी भरकर तारकोल के नाम पर शीरा डाल दिया जाता है।

19 4

जिसका नतीजा यह होता है कि बरसात का मौसम पार होने से पहले पटरी फिर से गड्ढों में तब्दील हो जाती है। पिछले कुछ सालों में पटरी की मरम्मत के नाम पर जितना पैसा खर्च किया गाय है। उतने रुपये में पूरी पटरी फिर से बनकर तैयार हो जाती। मगर फिर मरम्मत के नाम पर होने वाला खेल बंद हो जाता। इसलिए पुराने ढर्रे पर हर साल पटरी की मरम्मत के नाम पर खेल कर दिया जाता है।

वर्तमान में पटरी की हालत इतना खराब है कि जगह जगह गहरे गड्ढे हो गए हैं। जिनकी चपेट में आकर राहगीर दुर्घटना का शिकार हो रहे हैं। सबसे अधिक हादसे रात में हो रहे हैं। क्योंकि चालक जब तक एक गड्ढे से बचकर आगे चलता है, दूसरे गड्ढे में गाड़ी का पहिाया पहुंच जाता है। क्षतिग्रस्त इस सड़क पर अधिकारी ध्यान देने को तैयार नहीं हैं।

सरधना-नानू के बीच में हालत ज्यादा खराब

गंगनहर पटरी पर जगह जगह गहरे गड्ढे हो गए हैं। सबसे अधिक हालत सरधना नानू पुल के बीच खराब है। करीब पांच किमी के इस टुकड़े के बीच सैकड़ों गड्ढे हो गए हैं। जिसके चलते राहगीरों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

अगली बारी खिर्वा रोड की

गंगनहर पटरी की हालत देखते हुए भारी वाहन भी खिर्वा रोड से गुजरने लगे हैं। वर्तमान में खिर्वा रोड पर जमकर बडेÞ वाहन दौड़ रहे हैं। जिसके चलते इस मार्ग की हालत भी जल्द खराब होने वाली है। नवनिर्मित इस सड़क पर कई जगह गड्ढे भी बन चुके हैं।

टोल प्लाजा पर अब नहीं लगेगा जाम

मोदीपुरम: एनएच-58 स्थित सिवाया टोल प्लाजा पर आए दिन लगने वाले जाम से आखिरकार निजात मिल जाएगी। टोल प्लाजा पर दो अतिरिक्त लाइनें बढ़ाई गई है। एक लाइन तो सुचारु हो गई है। जबकि दूसरी लाइन अगले दो सप्ताह में शुरू हो जाएगी। इन लाइनों के चलने से जहां टोल पर जाम से छुटकारा मिलेगा। वहीं, एंबुलेंस और वीआईपी लोगों को भी अब जाम में फंसना नहीं पड़ेगा।

इन लाइनों को सुचारु कराने के लिए टोल प्रबंधन लगातार तैयारी कर रहा था। मेरठ की ओर से जाने वाली लाइन सुचारु हो गई है। जबकि दौराला से मेरठ जाने वाली लाइन पर कार्य चल रहा है। यह लाइन अगले दो सप्ताह में तैयार हो जाएगी। जिसके बाद इस लाइन को भी सुचारु कर दिया जाएगा। इन लाइनों के शुरू होने से टोल पर जाम से निजात मिल जाएगी।

टोल प्लाजा के वाइस प्रोजेक्ट हेड प्रदीप चौधरी का कहना है कि इन लाइनों को सुचारु होने से लोगों को जाम से जहां निजात मिल जाएगी। वहीं, अगले दो सप्ताह में दूसरी लाइन भी सुचारु हो जाएगी। इनके शुरू होने से लोगों को परेशानी नहीं होगी। यह खबर लोगों के लिए राहत भरी है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments