Wednesday, June 19, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsSaharanpurबजाज शुगर मिल से नहीं हुआ भुगतान तो 15 को होगी महापंचायत

बजाज शुगर मिल से नहीं हुआ भुगतान तो 15 को होगी महापंचायत

- Advertisement -

जनवाणी संवाददाता |

नागल: राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन के बैनर तले क्षेत्र के किसानों का बजाज हिंदुस्तान शुगर मिल गांगनोली पर बकाया गन्ना भुगतान की मांग को लेकर शुरू किया गया धरना आज भी जारी रहा, किसानों ने चेतावनी दी कि जब तक गन्ने का भुगतान नहीं होगा तब तक यह धरना जारी रहेगा।

किसानों को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन के कार्यकारी जिलाध्यक्ष चौधरी सुखबीर सिंह ने कहा कि नए पेराई सत्र का आधा सत्र बीत चुका है इसके बावजूद बजाज हिंदुस्तान शुगर मिल द्वारा पिछले पेराई सत्र का भी पूरा भुगतान अभी तक नहीं किया है। जिस कारण किसान भूखा मरने को मजबूर है, उन्होंने कहा कि हम चीनी मिल के साथ किसी तरह का टकराव लेना नहीं चाहते थे मगर चीनी मिल के अधिकारी किसानों का शोषण पर शोषण किए जा रहे हैं जो बर्दाश्त से बाहर हो चुका है। उन्होंने कहा कि एक तरफ किसानों को आर्थिक रुप से तंगहाल है वहीं दूसरी ओर किसानों के पैसे पर ही चीनी मिल के अधिकारी मौज मार रहे हैं।

उन्होंने कहा कि यूं तो भुगतान लेट होने पर चीनी मिल को 14 दिन के बाद बैंक ब्याज किसान को देना होगा मगर क्या यह नियम कायदे चीनी मिल पर लागू नहीं होते जबकि किसानों को देय वसूली के लिए परेशान किया जाता है। वरिष्ठ किसान नेता लोकेश राणा ने कहा कि इस बार हमारा यह धरना अनिश्चितकाल तक जारी रहेगा। सभी किसानों ने विचार विमर्श करके यह निर्णय लिया है कि यदि चीनी मिल के अधिकारी नहीं मानते तो 15 जनवरी को महापंचायत बुलाई जाएगी जिसमें जनपद ही नहीं भारी जनपद के लोग भी शामिल होंगे। तब निर्णय हमारे नेता सरदार वीएम सिंह एवं मौजूद किसानों के हाथ में होगा। चौधरी जितेंद्र सिंह पनियाली ने कहा कि हम कोई भीख नहीं मांग रहे हैं अपने द्वारा डाले गए गन्ने का भुगतान लेना हमारा अधिकार है और उसे हम लेकर रहेंगे।

धरना स्थल पर मुख्य रूप से चौधरी कंवर पाल, ऋषि पाल सिंह, नवाब सिंह, भगत सिंह चौधरी, नवाब सिंह , नवीन त्यागी, लाल्ला ननहेडा, चौधरी मांगेराम, विजय कुमार, अनुज , सुभाष चंद्र आदि भारी संख्या में किसान उपस्थित रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments