Sunday, July 25, 2021
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsBaghpat...आखिर रालोद पुलिस पर क्यों लगा रही यह आरोप, एसपी को सौंपा...

…आखिर रालोद पुलिस पर क्यों लगा रही यह आरोप, एसपी को सौंपा है ज्ञापन

- Advertisement -

दबाव बनाने को जिपं सदस्य के पुत्रों के विरूद्ध कराया झूठा मुकदमा दर्ज

फर्जी मुकदमा दर्ज करने पर रालोद ने जताया रोष

एसपी से निष्पक्ष जांच कराकर मुकदमा निरस्त कराने की मांग


जनवाणी संवाददाता |

बागपत: थाना बालैनी में नवनिर्वाचित जिला पंचायत सदस्य शाहिदा पत्नी फखरूद्दीन के पुत्रों के विरूद्ध कातिलाना हमला करने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया गया है। रालोद ने जिला पंचायत सदस्य के पुत्रों के विरूद्ध फर्जी मुकदमा दर्ज कराने पर रोष व्यक्त किया और फर्जी मुकदमा निरस्त कराने की मांग को लेकर एसपी को एक ज्ञापन सौंपा।

रालोद ने एसपी से इस प्रकरण की निष्पक्ष जांच कराकर फर्जी मुकदमा निरस्त कराने की मांग की है। पार्टी का आरोप है कि भाजपा ओछी राजनीति पर उतर आई है और जिला पंचायत सदस्यों पर दबाव बनाने के लिए पुलिस प्रशासन से मिलकर इस प्रकार की कार्रवाई की जा रही है। रालोद ने चेतावनी दी है कि यदि रालोद जिला पंचायत सदस्यों का उत्पीड़न बंद नहीं किया गया तो पार्टी सड़कों पर उतरने को मजबूर होगी।

जिला पंचायत अध्यक्ष पद कब्जाने के लिए रालोद व भाजपा में घमासान मचा हुआ है। रालोद का आरोप है कि भाजपा जिला पंचायत सदस्यों को अपने पक्ष में लाने के लिए हर प्रकार का हथकंड़ा अपना रही है। पूर्व विधायक बीरपाल राठी का आरोप है कि दबाव बनाने के लिए भाजपा के इशारे पर पुलिस व प्रसानिक अधिकारी रालोद समर्थक जिला पंचायत सदस्यों का उत्पीड़न कर रहे हैं।

उनका आरोप है कि भाजपा के इशारे पर वार्ड 17 से जिला पंचायत शाहिदा के तीन पुत्रों के विरूद्ध थाना बालैनी में कातिलाना हमला करने के आरोप में झूठा मुकदमा दर्ज कराया गया है। इससे पहले प्रशासन ने उनके मकान को तोड़ने की धमकी दी थी और उनको 60 लाख रुपये की रिकवरी के लिए नोटिस भेजा था। पार्टी ने इस प्रकार की उत्पीड़नात्मक कार्रवाई पर रोष व्यक्त किया और चेतवनी दी कि यदि रालोद जिला पंचायत सदस्यों का उत्पीड़न बंद नहीं हुआ तो पार्टी सड़कों पर उतरने को मजबूर होगी।

रालोद ने 13 को बुलाई बैठक
पूर्व विधायक वीरपाल राठी ने बताया कि इस मुद्दे पर रालोद चुप नहीं बैठेगा। उन्होने कहा कि आगामी रविवार को बड़ौत पार्टी कार्यालय पर पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठक बुलाई गई। बैठक में आगे की रणनीति बनाई जाएगी और यदि जिला पंचायत सदस्यों का उत्पीड़न बंद नहीं हुआ तो न चाहते हुए भी पार्टी सड़कों पर उतर कर आंदोलन करने को मजबूर होगी।

जिला पंचायत सदस्य के पुत्रों के विरूद्ध फर्जी मुकदमा दर्ज कराने के विरोध में रालोद कार्यकर्ताओं ने बुधवार को एसपी कार्यालय पर एसपी को एक ज्ञापन देकर इस प्रकरण की निष्पक्ष जांच कराकर फर्जी मुकदमे को निरस्त करने की मांग की। इसके अलावा वार्ड 3 से जिला पंचायत सदस्य महबूब अल्वी तथा वार्ड 12 से सदस्य सुनील कुमार को भी परेशान करने का आरोप लगाया गया। इस अवसर पर पूर्व विधायक वीरपाल राठी, नबाब अहमद हमीद, पूर्व प्रधानाचार्य ओमवीर तोमर , जिला पंचायत सदस्य शाहिदा व विश्वास चौधरी आदि मौजूद थे।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments