Monday, March 8, 2021
Advertisment Booking
Home INDIA NEWS भाजपाई हुए मेट्रोमैन श्रीधरन बोले, केरल को कर्ज से मुक्ति दिलाना प्राथमिकता

भाजपाई हुए मेट्रोमैन श्रीधरन बोले, केरल को कर्ज से मुक्ति दिलाना प्राथमिकता

- Advertisement -
0

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: आगामी 21 फरवरी को भारतीय जनता पार्टी में शामिल होकर राजनीति का हिस्सा बनने के लिए तैयार मेट्रोमैन ई श्रीधरन ने शुक्रवार को कहा मेरा मुख्य लक्ष्य पार्टी को केरल में सत्ता में लाने में मदद करना होगा। उन्होंने कहा कि अगर पार्टी जीतती है तो वह राज्य का मुख्यमंत्री बनने के लिए तैयार रहेंगे और अगर उन्हें यह पद मिलता है तो उनका जोर राज्य में बुनियादी ढांचे को विकसित करने पर रहेगा।

उन्होंने कहा कि अगर भाजपा इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव में जीत हासिल करती है तो पार्टी का ध्यान राज्य में बड़े स्तर पर इन्फ्रास्ट्रक्चर का विकास करना और राज्य को कर्ज के जाल से मुक्ति दिलाने पर होगा।

बता दें कि केरल में अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव हो सकते हैं। मेट्रोमैन के नाम से मशहूर श्रीधरन को बड़ी इन्फ्रास्ट्रक्चर परियोजनाओं को दक्षता के साथ पूरा करने के लिए भी जाना जाता है।

पीटीआई के अनुसार उन्होंने कहा कि अगर पार्टी चाहेगी तो मैं विधानसभा चुनाव लड़ूंगा और अगर पार्टी कहेगी तो मुख्यमंत्री पद पर भी अपनी सेवा देने के लिए प्रस्तुत रहूंगा।

श्रीधरन ने यह भी साफ किया कि उनकी राज्यपाल बनने की कोई इच्छा नहीं है। उन्होंने कहा, यह पूरी तरह से संवैधानिक पद है और इसके पास कोई शक्ति नहीं है। ऐसे में राज्यपाल बन कर मैं राज्य के लिए कोई योगदान नहीं दे पाऊंगा।

उन्होंने कहा, ‘मेरा पहला विचार भाजपा को केरल में सत्ता में लाने का है। अगर भाजपा केरल में सरकार बनाती है, तो ऐसे तीन से चार प्रमुख क्षेत्र हैं जिन पर हम काम काम करना चाहते हैं।

इनमें से एक है बड़े स्तर पर इन्फ्रास्ट्रक्चर को विकसित करना और दूसरा है कि राज्य में उद्योगों को लाना।’ उन्होंने कहा कि कर्ज में डूबे राज्य की वित्तीय स्थिति सुधारने के लिए वित्त आयोग भी गठित किया जा सकता है।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments