Thursday, April 25, 2024
- Advertisement -
HomeUttarakhand NewsHaridwarपोड टेक्सी रूट को लेकर राष्ट्रीय व्यापार मण्डल की बैठक आहूत

पोड टेक्सी रूट को लेकर राष्ट्रीय व्यापार मण्डल की बैठक आहूत

- Advertisement -

जनवाणी संवाददाता |

हरिद्वार: राष्ट्रीय व्यापार मण्डल की बैठक रविवार को ज्वालापुर रेलवे फ़टाक स्थित जिला कार्यालय पर आहूत की गई। बैठक में जिला प्रशासन व पॉड टैक्सी के अधिकारियों पर आरोप लगाया गया की वो मात्र कुछ लोगे के कहने पर पॉड टैक्सी रूट का काम कर रहे हैं। व्यापरियों ने कहा कि रूट पूरा बदला जाना चाहिए। पूरा रूट गंगा किनारे-किनारे होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि इस पूरे मामले की जानकारी मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मिलकर दी जाएगी और पूरा रूट बदलने की माँग की जाएगी। व्यापार मण्डल के शहर अध्यक हरविंदर सिंह ने व्यापारी नेता जेके जिन्दल को शहर उपाध्यक्ष ज्वालापुर घोषित किया। बैठक को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष संजीव चौधरी ने कहा की पॉड टैक्सी रूट को लेकर जिस प्रकार बैठक बुलाई गई और केवल मात्र अपनी हां में हां मिलाने वालों को बुलाया गया था वो जिला प्रशासन व पॉड टैक्सी अधिकारियो की मनसा पर सवालिया निशान खड़ा करता है।

चौधरी ने कहा की मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने व्यापारी वर्ग की बातों को ध्यान में रख कर कमेटी बनाई थी और सभी का ध्यान रखने की बात कही थी पर कुछ अधिकारी व कुछ निजी स्वार्थ रखने वाले लोग कुछ एरिया मात्र मे रूट बदलने की बात कर रहे हैं। पॉड टैक्सी रूट पूरा गंगा किनारे-किनारे ले जाया जाना चाहिए। ज्वालापुर से लेकर हरिद्वार तक सभी व्यापारियो के हित सुरक्षित रहने चाहिए और सभी को एक नज़र से देखा जाना चाहिए। किसी भी व्यापारी का अहित बर्दाश्त नही किया जाएगा।

बैठक को संबोधित करते हुए प्रदेश महामंत्री सुदीश श्रोत्रीय व जिला अध्यक्ष विनीत धिमान ने कहा की व्यापारी सभी बराबर है और सभी के साथ एक जैसा व्यवहार होना चाहिये। रूट पूरा बदला जाना चाहिय। हरिद्वार का व्यापारी पहले से ही मंदी और कोरोना से पीड़ित रहा है ऐसे में पॉड टैक्सी से उसके हित और प्रभावित होगे। इस लिए पॉड टैक्सी का रूट बदला ही जाना चाहिए।

बैठक में मुख्य रूप से शहर अध्यक्ष हरविंदर सिंह, व्यापारी नेता कुलदीप खंडेलवाल अध्यक्ष रेलवे रोड, उपाध्यक्ष राजेश अरोरा, अजय अरोरा, व्यापारी नेता पुष्पेन्द्र गुप्ता, संजीव कुमार, विजय धीमान व अरविन्द कुमार आदि अनेक व्यापारी उपस्तिथ रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments