Thursday, May 30, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutसड़कों को निर्माण की दरकार व्हाइट टाइपिंग बनी बाधा

सड़कों को निर्माण की दरकार व्हाइट टाइपिंग बनी बाधा

- Advertisement -
  • 90 वार्डों में से अधिकतर वार्डों की अभी तक कार्य योजना ही तैयार नहीं

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: नगर निगम में भाजपा की ट्रिपल इंजन सरकार में अभी तक नई सड़कों के निर्माण की शुरुआत नहीं हो सकी है। जिसमें अभी तक निर्माण के शुरू नहीं होने का मुख्य कारण महापौर द्वारा जो व्हाइट टाइपिंग सड़कों का जो प्रस्ताव रखा गया है। वह इन सड़कों के निर्माण में मुख्य रूप से बाधा बना हुआ है। निगम के 90 वार्डों में से अधिकतर वार्डों में निर्माण कार्यों के संबध में अभी तक कार्य योजना भी तैयार नहीं हो सकी है। जिसके चलते शहर की सड़कों के निर्माण का कार्य अधर में लटका हुआ है।

नगर निगम में निकाय चुनाव के बाद भाजपा के महापौर हरिकांत अहलूवालिया एवं पार्षदों का शपथ ग्रहण समारोह एवं पहली बोर्ड बैठक को हुए काफी समय बीत चुका है। उसके बावजूद शहर में अभी तक विकास की योजनाए शुरू नहीं हो सकी हैं। चुनाव से पूर्व का निगम के खाते में काफी पैसा जमा था, जिससे पहली बोर्ड बैठक के बाद ही अधिकतर वार्डों में विकास कार्यों की शुरुआत कराई जा सकती थी, लेकिन अभी तक विकास कार्य शुरू नहीं हो सके हैं। निगम में कितना पैसा है, उसका अभी तक रिकॉर्ड चेक भी कराया जा रहा है।

वर्तमान में करोड़ों रुपये निगम के खाते में होने के बावजूद अभी तक 90 में से किसी वार्ड में निर्माण कार्य शुरू नहीं हो सका है। जिसमें बताया जा रहा है कुछ वार्डों के विकास कार्यो की कार्य योजना ही अभी तक तैयार हो सकी है। जबकि महापौर हरिकांत अहलूवालिया चाहते हैं कि सभी वार्डों में एक साथ निर्माण कार्य की शुरुआत हो। महापौर द्वारा पहली बार शहर में व्हाइट टाइपिंग सड़क निर्माण का जो प्रस्ताव रखा है, उनमें किन सड़कों को इसमें शामिल किया जायेगा, किन सड़कों को हटाया जायेगा वह अभी स्पष्ट नहीं हैं।

जिसके चलते भी शहर की सड़कों को निर्माण की दरकार होने के बावजूद निर्माण शुरू नहीं हो सका है। शहर की जनता टूटी-फूटी सड़कों पर चल रही है, जबकि निगम के खाते में करोड़ों रुपया पड़ा हुआ है। जिसमें सड़कों पर निर्माण कार्य अभी तक शुरू नहीं होने के दो मुख्य कारण बताए जा रहे हैं।

24 8

जिसमें एक तो व्हाइट टाइपिंग सड़क एवं दूसरा अधिकतर वार्डों में निर्माण कार्य संबंधी कार्य योजना तैयार नहीं हो सकी है। यदि व्हाइट टाइपिंग सड़कों की स्थिति स्पष्ट हो जाये और दूसरे सभी वार्डों के निर्माण कार्यों की कार्य योजना पूरी हो जाये तो उसके बाद ही निर्माण कार्य शुरू हो सकेगा। फिलहाल शहर को विकास की दरकार हैं। किसी अलग से किसी प्रयोग की नहीं।

योजनाओं का लाभ लेने को कराना होगा आधार कार्ड सत्यापन

मेरठ: उप श्रम आयुक्त मेरठ क्षेत्र, मेरठ राजीव कुमार सिंह ने बताया कि उत्तर प्रदेश भवन और अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के अन्तर्गत पंजीकृत निर्माण श्रमिकों के लिए कई योजनाएं संचालित की जा रही है। जिसके अन्तर्गत निर्माण कामगार मृत्यु, विकलांगता सहायता एवं अक्षमता पेंशन योजना, निर्माण कामगार मृत्यु एवं दिव्यांगता सहायता योजना, मातृत्व, शिशु एवं बालिका मदद योजना, सन्त रविदास शिक्षा प्रोत्साहन योजना, पुत्री विवाह अनुदान योजना, कन्या विवाह सहायता योजना आदि संचालित की जा रही है।

जिसके तहत निर्माण की विभिन्न प्रक्रियाओं में जैसेकि-वेल्डिंग का कार्य, बढ़ाई का कार्य, कुआं खोदना, रोलर चलाना, छप्पर डालने का कार्य, राजमिस्त्री का कार्य, पुताई का कार्य, सडक निर्माण, प्लम्बरिंग आदि में विगत 12 माह में न्यूनतम 90 दिवस तक कार्य करने वाला कोई भी निर्माण श्रमिक जन सेवा केन्द्र (सीएससी) के माध्यम से पंजीयन करा सकता है। और संचालित योजना के आवेदन प्रस्तुत लाभ प्राप्त कर सकता है।

साथ ही वर्तमान में बोर्ड द्वारा संचालित निर्माण कामगार मृत्यु विकलांगता सहायता एवं अक्षमता पेंशन योजना, मृत्यु एवं दिव्यांगता सहायता योजना, मातृत्व, शिशु एवं बालिका मदद योजनाओं के अन्तर्गत स्वीकृत हुए आवेदनों के सापेक्ष सावधि बचत पत्र (एफडी) बनाये जाने की कार्यवाही राष्ट्रीयकृत बैंक के माध्यम से श्रम विभाग की ओर से कराई जा रही है। इसी क्रम में सचिव, उत्तर प्रदेश, भवन और अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड लखनऊ के पत्र में निर्देशित किया गया है।

उत्तर प्रदेश, भवन और अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के अन्तर्गत पंजीकृत निर्माण श्रमिकों के आधार कार्ड सत्यापन, पारिवारिक विवरण एवं नवीनीकरण के कार्य कराये जाये। उन्होंने मंडल के समस्त पंजीकृत निर्माण श्रमिकों को सूचित किया कि विभाग की ओर से संचालित योजनाओं का लाभ लेने के लिए अपना आधार कार्ड सत्यापन एवं फैमली आईडी कार्यालय उप श्रम आयुक्त, श्रम भवन, बेगम ब्रिज रोड, मेरठ के माध्यम से किसी भी कार्य दिवस में उपस्थित होकर अनिवार्य रूप से बोर्ड के पोर्टल पर दर्ज कराना सुनिश्चित करें।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments