Friday, July 19, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutमेरठ पहुंची ओलंपियाड मशाल, स्वागत में उमड़ी भीड़

मेरठ पहुंची ओलंपियाड मशाल, स्वागत में उमड़ी भीड़

- Advertisement -
  • भारत को पहली बार मिला ओलंपियाड में शतरंज प्रतियोगिता की मेजबानी करने का अवसर

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: क्रांतिधरा के लिए यह एक ऐसा पल था, जिसे मेरठ वासी सारी उम्र याद रखेंगे। पहली बार भारत को ओलंपियाड में शतरंज प्रतियोगिता की मेजबानी करने का अवसर मिला। इस मौके पर शतरंज मशाल पूरे देश का भ्रमण कर रही है और शनिवार को यह 1857 की क्रांति के गवाह रहे क्रांति स्थल पर पहुंची। इस दौरान मशाल का जोरदार स्वागत किया गया, साथ ही रंगारंग कार्यक्रम भी आयोजित हुए। मेरठ से यह मशाल गाजियाबद के रास्ते दिल्ली होते हुए आगरा पहुंचेगी।

शनिवार को औघड़नाथ मंदिर में हरिद्वार से पहुंची ओलंपियाड मशाल का राज्य मंत्री सोमेन्द्र तोमर ने जोरदार स्वागत किया गया। उन्होंने कहा कि यह मेरठ के लिए बड़े गौरव की बात है जब ओलंपियाड मशाल यहां पहुंची है। यह पहला अवसर है जब इतने बड़े आयोजन में मेरठ का नाम भी जुड़ा है।

187 देश एक छत के नीचे होंगे जमा

28 जुलाई से तमिलनाडु के महाबालेश्वर शहर में 44वीं ओलंपियाड शतरंज प्रतियोगिता शुरू होने जा रही है। प्रतियोगिता की मेजबानी करने का अवसर भारत को पहली बार मिला है। इस दौरान पूरी दुनिया के 187 देशों के प्रतिनिधि भारत में एक छत के नीचे एक दूसरे से मुकाबला करेगें। इस आयोजन को लेकर प्रधानमंत्री व केन्द्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने काफी प्रयास किया था

जिसका नतीजा अब सामने है। जिला पंचायत अध्यक्ष गौरव चौधरी ने कहा कि यह दिन मेरठ के लिए बेहद गौरव का दिन है। उन्होंने राज्य मंत्री सोमेंद्र तोमर समेत सभी आयोजन कर्ताओं को धन्यवाद देते हुए कहा कि इस आयोजन के बाद युवाओं में शतरंज के प्रति भी लगाव पैदा होगा। अभी तक यह खेल उत्तर प्रदेश में ज्यादा लोकप्रिय नहीं है, लेकिन अब यहां के युवा भी इस खेल में अपना भविष्य तालाशने के लिए आगे आएंगे।

राज्यमंत्री ने ग्रैंडमास्टर का किया स्वागत

कार्यक्रम में भारतीय शतरंज के ग्रैंड मास्टर आकाश भी कार्यक्रम में शामिल हुए। वह तमिलनाडु के रहने वाले है और इस समय देश के 75 जिलों में चल रही मशाल यात्रा के साथ सफर कर रहे है। राज्यमंत्री सोमेन्द्र तोमर ने कहा कि 1857 की क्रांति का साक्षी बने मेरठ को ओलंपियाड की मशाल का स्वागत करने का अवसर मिला यह सौभाग्य की बात है।

24 18

उन्होंने तमिलनाडु के रहने वाले भारतीय शतरंज के ग्रैंड मास्टर जी आकाश का क्रांतिधरा पर पहुंचने के लिए धन्वाद किया। साथ ही जी आकाश के साथ शतरंज की बिसात पर भी हाथ अजमाए।

रंगारंग कार्यक्रमों ने बांधा समां

ओलंपियाड टार्च के स्वागत के लिए आयोजित कार्यक्रम में रंगारंग ने समां बांध दिया। ओघड़नाथ मंदिर समिति द्वारा आयोजित भक्ति गीतों पर नाट्य प्रस्तुत किया गया। इस दौरान कार्यक्रम स्थल पर मौजूद दर्शक भी झूमने को मजबूर हो गए।

25 16

कार्यक्रम में आॅल इंडिया चैस फेडरेशन के अध्यक्ष डा. संजय कपूर, एमएलसी सरोजनी अग्रवाल, केन्द्रीय मंत्री संजीव बालियान, कैंट विधायक अमित अग्रवाल, एमएलसी धर्मेंद्र यादव, जिला पंचायत अध्यक्ष गौरव चौधरी, जिलाधिकारी दीपक मीणा, एसएसपी प्रभाकर चौधरी, आरएसओ जीडी बारीकी, अरुण कुमार गर्ग प्रिंसिपल एसडी सदर समेत बड़ी संख्या में आम जनता व खिलाड़ी मौजूद रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments