Thursday, April 25, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutहर रोज रिकॉर्ड तोड़ रही सर्दी, ठंड @ 4.6 डिग्री सेल्सियस

हर रोज रिकॉर्ड तोड़ रही सर्दी, ठंड @ 4.6 डिग्री सेल्सियस

- Advertisement -
  • मेरठ में शीतलहर का प्रकोप जारी, लगातार बढ़ रही हाड़ कंपाने वाली ठंड

जनवाणी संवाददाता |

मोदीपुरम: मौसम सर्द बना हुआ है। दिन व रात के तापमान में गिरावट हो रही है साथ ही शीत लहर का प्रकोप शहरवासियों को ठिठुरने पर मजबूर कर रहा है। शनिवार की रात न्यूनतम तापमान 4 डिग्री से कुछ ऊपर रहा। सुबह के समय घना कोहरा छाए रहने के कारण विजिबिलिटी शून्य रही। जिस कारण हाइवे पर वाहन चालकों को लाइट जलाकर चलना पड़ा। मौसम वैज्ञानिकों की माने तो अभी राहत के आसार दिखाई नहीं दे रहे हैं। नए साल के पहले दिन से ही सर्दी लगातार पिछले कई वर्षों के रिकॉर्ड तोड़ रही है।

रविवार को भी दिन भर चली शीतलहर के चलते शहरवासी कांपते रहे। न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे बना हुआ है। शनिवार की रात सीजन में दूसरी बार सबसे ठंडी रात दर्ज की गई। रविवार सुबह भी ठंड से लोगों को राहत नहीं मिली। घना कोहरा छाया रहा। दोपहर के समय गुनगुनी धूप निकली तो शहरवासियों ने धूप का आनंद लिया। परंतु, शीत लहर चलने के कारण ठंड से राहत नहीं मिली। दिन ढलते ही सर्दी ने फिर से कि ठिठुरने पर मजबूर कर दिया। लोग जल्द ही घरों में कैद हो गए।

13 7

मौसम कार्यालय पर दिन का अधिकतम तापमान 13.6 डिग्री व रात का न्यूनतम तापमान 4.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। अधिकतम आर्द्रता 97 एवं न्यूनतम आर्द्रता 73 दर्ज की गई। हवा सुबह चार किमी तो शाम को दो किमी दर्ज की गई। सरदार वल्लभ भाई पटेल कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक डा. यूपी शाही का कहना है कि सोमवार को भी मौसम सर्द रहेगा।

सुबह के समय कोहरा छाए रहने की संभावना है। ठंड के बढ़ने से लोग बीमारी का शिकार होने लगे हैं। प्रतिदिन ठंड बढ़ती ही जा रही है। जिसके चलते लोगों ने घरों से निकलना भी बंद कर दिया हे। बढ़ती ठंड से आम जनमानस परेशानी में घूम रहा है। लोग ठंड से बचने के लिए अलाव का सहारा लेते हुए नजर आ रहे हैं।

शहर में प्रदूषण की स्थिति और भी खतरनाक

शहर में प्रदूषण की स्थिति भी खतरनाक स्तर पर पहुंच गई है। जिसके चलते लोगों को परेशानी से जूझना पड़ रहा खासकर अस्थमा के मरीजों को बेहद परेशानी हो रही है। ये रही प्रदूषण की स्थित मेरठ में 384, मुजफ्फरनगर में 288, गाजियाबाद में 338, जयभीमनगर में 391, गंगानगर में 382 तथा पल्लवपुरम में 380 रहा।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments