Thursday, April 25, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutपहली छमाही में लक्ष्य का 94 प्रतिशत से अधिक राजस्व की वसूली

पहली छमाही में लक्ष्य का 94 प्रतिशत से अधिक राजस्व की वसूली

- Advertisement -
  • नगर आयुक्त अमित पाल शर्मा ने बैठक में और तेजी लाने के दिए निर्देश

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: सोमवार को राजस्व वसूली की समीक्षा करते हुए नगर आयुक्त अमित पाल शर्मा ने इसमें तेजी लाने और लक्ष्य पूरा करने के निर्देश दिए। नगर निगम के सभागार में आयोजित समीक्षा बैठक के दौरान अवगत कराया गया कि शासन की ओर से वर्तमान वित्तीय वर्ष में 55 करोड़ की डिमांड रखी गई थी। जिसे नगर निगम के अधिकारियों ने पूर्व में 62 करोड़ कर लिया था।

नगर आयुक्त ने इस लक्ष्य को सीधे 100 करोड़ तक ले जाने के निर्देश जारी किए। उन्होंने पहली छमाही की समीक्षा करते हुए पाया कि शास्त्रीनगर जोन में 15 करोड़ 62 लाख 37 हजार के लक्ष्य के सापेक्ष 12 करोड़ 44 लाख 39 हजार रुपये की कर वसूली की है। कंकरखेड़ा जोन ने 15 करोड़ 55 लाख नौ हजार के लक्ष्य के सापेक्ष 13 करोड़ 34 लाख तीन हजार और मुख्यालय जोन ने आठ करोड़ 80 लाख 96 हजार के लक्ष्य के सापेक्ष सात करोड़ 81 लाख 61 हजार रुपये की वसूली की है।

तीनों जोन से लक्ष्य के सापेक्ष 94.25 प्रतिशत की वसूली कर ली गई है। इस बैठक के दौरान अक्टूबर माह में कुल लक्ष्य का 10 प्रतिशत से अधिक वसूल किए जाने के संबंध में निर्देश दिए गए। बैठक में इस तथ्य पर भी चर्चा की गई कि 2004 से चले आ रहे गृह कर की दरों में 18 साल से अभी तक वृद्धि नहीं की जा सकी है। इसके लिए स्व कर फार्म का वितरण अभी तक 20 प्रतिशत के करीब हो सका है।

इसी प्रकार जीआईएस सर्वे का काम भी डेढ़ वर्ष की अवधि में करीब 50 प्रतिशत ही हो पाया है। नगर आयुक्त ने इन दोनों कामों में तेजी लाने के लिए संबंधित अधिकारियों के साथ विस्तार से चर्चा की। बैठक में अपर नगर आयुक्त ममता मालवीय, मुख्य करण निर्धारण अधिकारी अवधेश कुमार समेत समस्त जोनल अधिकारी, कर अधीक्षक और राजस्व निरीक्षक आदि मौजूद रहे।

…तो टूट जाएगी रावण दहन की 150 वर्ष पुरानी परंपरा!

श्री रामलीला कमेटी पंजीकृत मेरठ शहर के पदाधिकारियों द्वारा सोमवार को विशेष परिस्थितियों में सनातन धर्म मंदिर पर एक आपातकालीन प्रेसवार्ता बुलाई गई। वार्ता का आयोजन मनोज गुप्ता राधा गोविंद वालों की अध्यक्षता में किया गया। जिसमें अवगत कराया गया कि 20 सितंबर को संस्था पदाधिकारी एवं सदस्य द्वारा नगर आयुक्त अमित पाल शर्मा को अवगत कराया गया था कि आगामी पांच अक्टूबर को दशहरा के पर्व पर रावण दहन का कार्यक्रम तथा दशहरा मेला रामलीला ग्राउंड दिल्ली रोड पर आयोजित किया जाएगा।

इतना ही नहीं पदाधिकारियों द्वारा दशहरा पर्व के लिए वहां पर साफ सफाई की व्यवस्था किए जाने के लिए अनुरोध भी किया गया था। रामलीला कमेटी पंजीकृत मेरठ शहर के पदाधिकारी व स्थानीय पार्षद पूनम गुप्ता, पूर्व पार्षद राकेश कुमार शर्मा, पंकज गोयल तथा अन्य पदाधिकारियों के साथ पिछले दो दिन से अपने स्तर पर सफाई व्यवस्था कराई जा रही है, लेकिन नगर निगम की उदासीनता के चलते आज भी रामलीला मैदान दिल्ली रोड में जलभराव व कीचड़ की भरमार है।

जलभराव व कीचड़ के कारण वहां पर मच्छरों की भरमार है, कूड़े के पहाड़ लगे हुए हैं। नगर आयुक्त को पानी निकलवाने, कीचड़ हटाने, मिट्टी डलवाने, स्टेज की मरम्मत, बैरिकेडिंग, लाइट व डेंस फॉकिंग के लिए अनुरोध किया गया था। मगर हफ्ता बीत जाने के बाद भी किसी प्रकार की व्यवस्था मैदान में नहीं की गई है। सफाई व्यवस्था न हो पाने के कारण रामलीला मैदान दिल्ली रोड पर पिछले 150 वर्षों से अधिक समय से चली आ रही रावण दहन की परंपरा व दशहरे मेले के आयोजन को विशेष परिस्थितियों में स्थानांतरित करने पर कल शाम 4 बजे सफाई व्यवस्था देखकर विचार किया जाएगा।

सफाई ना किए जाने की अवस्था में चार अक्टूबर शाम 4 बजे बैठक कर पदाधिकारियों द्वारा पुन: मीटिंग कर रावण दहन व दशहरा मेले के कार्यक्रम स्थल पर निर्णय लिया जाएगा। इस सभा में अध्यक्ष मनोज गुप्ता राधा गोविंद मंडप, महामंत्री मनोज अग्रवाल खद्दर वाले, कोषाध्यक्ष योगेंद्र अग्रवाल बबलू, मुख्य संयोजक राकेश गर्ग, संयोजक उत्सव शर्मा, दशहरा मेला आयोजक राकेश शर्मा, विपुल सिंघल, विशाल बिंदल, अमित, उमाशंकर, सुभाष, राजेंद्र अग्रवाल प्लास्टिक, पंकज गोयल पार्षद उपस्थित रहे।

नगर निगम की ओर से दिल्ली रोड स्थित रामलीला ग्रांउड में भरे पानी को निकालने के लिए पंप लगाया गया हैं। पिछले सप्ताह हुई बारिश की वजह से वहां कीचड़ की स्थिति बनी हुई है। पानी को सुखाने का प्रयास किया जा रहा हैं, लेकिन आसपास के इलाकों से बार-बार वहां पानी आ रहा है।
-इंद्र विजय, सहायक नगर आयुक्त, नगर निगम, मेरठ

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments