Friday, February 3, 2023
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeDelhi NCRश्रद्धा हत्याकांड: आज होगा आफताब का नार्को टेस्ट, साकेत कोर्ट ने दी...

श्रद्धा हत्याकांड: आज होगा आफताब का नार्को टेस्ट, साकेत कोर्ट ने दी है अनुमति

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: श्रद्धा हत्याकांड में आरोपी आफताब का नार्को टेस्ट बृहस्पतिवार को रोहिणी स्थित डॉ. भीमराव अंबेडकर अस्पताल में किया जाएगा। नार्को का प्री-सत्र मंगलवार को एफएसएल में हुए पॉलिग्राफ टेस्ट के दौरान हो गया था। पॉलिग्राफ टेस्ट की रिपोर्ट एक दो दिन में आ जाएगी। हालांकि, आफताब ने पूछताछ में स्वीकार किया है कि उसी ने श्रद्धा की हत्या की है। उसे इसका कोई अफसोस भी नहीं है।

दिल्ली पुलिस के अनुसार आफताब का नार्को टेस्ट डॉ. नवीन कुमार की देखरेख में सात सदस्यीय टीम दूसरी मंजिल पर ओटी नंबर दो में करेगी। बृहस्पतिवार सुबह 10 बजे के बाद टेस्ट शुरू होगा। साकेत कोर्ट ने नार्को टेस्ट की अनुमति दी है। पुलिस ने पांच दिसंबर को भी नार्को टेस्ट के लिए सुरक्षित रखा हुआ है।

उधर, श्रद्धा की हत्या में आरोपी आफताब की हैवानियत का खुलासा होने के बाद से उसकी दूसरी गर्लफ्रेंड सदमे में है। उसे अभी भी यकीन नहीं हो रहा कि आफताब ऐसा कर सकता है। श्रद्धा मर्डर केस में आफताब की नई गर्लफ्रेंड ने बताया कि श्रद्धा मर्डर या उसके टुकड़ों से उसका कोई लेना-देना नहीं है। लड़की ने बताया कि जब वह आफताब से मिलने उसके घर आती थी, तो उसे अंदाजा भी नहीं था कि आफताब ने किसी का कत्ल किया है और उसके टुकड़े भी किये हैं।

मई में श्रद्धा के मर्डर के बाद आफताब ने इस लड़की को डेट करना शुरू किया था। दोनों की मुलाकात उसी बम्बल ऐप पर हुई थी, जिसके जरिए श्रद्धा और आफताब मिले थे। आफताब की नई प्रेमिका अक्टूबर में दो बार आफताब के उसी घर आई थी जहां उसने श्रद्धा के शव के टुकड़े कर फ्रिज में रखा था। आफताब ने जो अगूंठी श्रद्धा को दी थी उसको श्रद्धा की हत्या के बाद दूसरी गर्लफ्रेंड को दे दिया था।

श्रद्धा हत्याकांड मामले में आफताब की मनोचिकित्सक महिला दोस्त ने पुलिस को पूछताछ में बताया है कि वह आफताब के घर दो बार गई थी, लेकिन उसे एक बार भी नहीं लगा कि घर में शव के टुकड़े रखे हुए हैं। उसे श्रद्धा की हत्या की जानकारी नहीं थी। आफताब ने महिला को श्रद्धा की अंगूठी गिफ्ट में दी थी जिसे पुलिस ने बरामद कर लिया था।

पुलिस के अनुसार, आफताब ने 18 मई को श्रद्धा की हत्या कर शव के टुकड़े कर दिए थे। सिर व धड़ को करीब छह माह तक फ्रिज में रखे थे, इन्हें 18 अक्तूबर को छतरपुर के जंगल में फेंका गया था। पुलिस को अभी तक सिर व धड़ नहीं मिला है। श्रद्धा की हत्या करने के बाद आफताब ने महिला दोस्त से डेट करना शुरू कर दिया था। दोनों की मुलाकात उसी बंबल डेटिंग एप से हुई थी, जिससे श्रद्धा व आफताब मिले थे।

महिला अक्तूबर में दो बार आफताब के छतरपुर स्थित किराये के फ्लैट पर आई थी, लेकिन उसे भनक तक नहीं लगी कि श्रद्धा के शव के टुकड़े घर में रखे हुए हैं। आफताब ने 12 अक्तूबर को उसे अंगूठी गिफ्ट की थी। उसे पता नहीं था कि अंगूठी किसकी है। श्रद्धा की हत्या के 12 दिन बाद दोनों 30 मई को संपर्क में आए थे।

पुलिस पूछताछ में महिला ने बताया कि उसने आफताब को कभी डर में नहीं देखा। आरोपी उसे मुंबई वाले घर के बारे में बताया करता था। उसका व्यवहार हमेशा सामान्य लगा। उसका काफी केयरिंग नेचर था। उसे कभी नहीं लगा कि उसे मनोविकार है। उसके पास कई तरह के परफ्यूम हैं। वह उसे अक्सर परफ्यूम गिफ्ट किया करता था। आफताब सिगरेट पीने का आदि था।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments