Tuesday, April 23, 2024
- Advertisement -
HomeNational News...तो ऐसे जीत दर्ज़ किये कार्तिकेय शर्मा

…तो ऐसे जीत दर्ज़ किये कार्तिकेय शर्मा

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: हरियाणा में राज्यसभा की दो सीटों पर शुक्रवार देर रात भाजपा के कृष्ण लाल पंवार और भाजपा-जजपा समर्थित निर्दलीय प्रत्याशी कार्तिकेय शर्मा को विजेता घोषित किया गया। कांग्रेस के दिग्गज नेता अजय माकन मात खा गए। कांग्रेस ने भीतरघात से बचने के तमाम प्रयास किए लेकिन वे एक वोट से मात खा गए।

शुक्रवार को मतदान के बाद पांच बजे से मतगणना शुरू होनी थी, लेकिन जजपा नेताओं और निर्दलीय उम्मीदवार कार्तिकेय शर्मा ने कांग्रेस के दो विधायक किरण चौधरी और बीबी बत्रा के मतों पर आपत्ति दर्ज आयोग से अवैध करार देने की मांग की थी। कार्तिकेय के समर्थन में भाजपा और दूसरी तरफ से कांग्रेस चुनाव आयोग पहुंची।

हरियाणा राज्यसभा चुनाव में कुल वोट 89 पड़े। इनमें वैध मत 88 पाए गए। पंवार को जीत के लिए 31 वोट चाहिए थे जबकि कांग्रेस को 30 मत। कांग्रेस का एक वोट रद्द हुआ तो 29 रह गए। वहीं कार्तिकेय को 28 वोट मिले, लेकिन वैध मत की संख्या 88 होने के कारण कृष्ण लाल पंवार के पहली प्राथमिकता के 1.66 फीसदी वोट कार्तिकेय को मिलने के कारण वह जीत गए। कांग्रेस के पोलिंग एजेंट बीबी बत्रा ने कहा-कुलदीप बिश्नोई ने पार्टी के प्रत्याशी को वोट नहीं डाला। इस वजह से माकन की हार हुई। यदि वह कांग्रेस प्रत्याशी को वोट देते तो हम अवश्य जीतते।

हरियाणा राज्यसभा चुनाव में भाजपा और निर्दलीय विधायकों में बड़ा समझौता हुआ था। छह निर्दलीय विधायकों ने भाजपा प्रत्याशी कृष्ण लाल पंवार को वोट दिया, जबकि भाजपा के 15 विधायकों ने निर्दलीय प्रत्याशी कार्तिकेय शर्मा के पक्ष में मतदान किया। विश्वसनीय सूत्रों का दावा है कि यह सब इसलिए किया गया ताकि निर्दलीय विधायकों पर खरीद फरोख्त के आरोप न लग सकें।

बताया जा रहा है कि पहले यह तय हुआ था कि भाजपा के प्रत्याशी को भाजपा के 31 विधायक वोट करेंगे। लेकिन सुखविलास होटल में बैठक में निर्दलीय विधायक इस बात पर अड़ गए कि वे कृष्ण लाल पंवार को वोट करेंगे न कि निर्दलीय कार्तिकेय शर्मा को। देर रात उच्च पदाधिकारियों के साथ बैठक के बाद भाजपा ने अपनी रणनीति बदलते हुए फैसला लिया कि भाजपा के 15 विधायक निर्दलीय कार्तिकेय को वोट करेंगे ओर बलराज कुंडू को छोड़कर 6 निर्दलीय विधायक भाजपा प्रत्याशी कृष्ण लाल पंवार को वोट करेंगे।

एक निर्दलीय विधायक ने बताया कि उन्होंने सीएम मनोहर लाल को बता दिया था कि वे भाजपा के साथ हैं, लेकिन निर्दलीय विधायक को वोट देंगे तो उन पर खरीद फरोख्त के आरोप लग सकते हैं। इसलिए वे भाजपा को वोट देंगे न कि निर्दलीय प्रत्याशी को। इस बैठक के बाद भाजपा ने अपनी रणनीति में बदलाव किया।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments