Wednesday, June 19, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsBijnorगन्ना उपायुक्त ने किसानों को दिए बीमारी से बचाव के सुझाव

गन्ना उपायुक्त ने किसानों को दिए बीमारी से बचाव के सुझाव

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

धामपुरः सहकारी गन्ना समिति क्षेत्र में गन्ने की फसल पर रैटरॉट बीमारी का प्रकोप होने सेे विभागीय अधिकारियों मे हड़क मचा है। गन्ना उप आयुक्त अमर सिंह ने क्षेत्र के कई गांवों में भ्रमण कर किसानों को रेडरॉट बीमारी से गन्ने की फसल को बचानेे के सुझाव दिए।

गुरुवार को उप गन्ना आयुक्त अमर सिंह एवं जिला गन्ना अधिकारी यशपाल सिंह ने गन्ने की रैटरॉट से आंशिक रूप से प्रभावित ग्रामों कोडीपुरा, गज्जूपुरा, गजरौला, चकसहजानी, धामपुर हुसैनपुर, भूरापुर आदि का निरीक्षण किया। इस दौरान शुगर मिल के उपाध्यक्ष एम आर खान, महाप्रबंधक गन्ना कुलदीप शर्मा, उप महाप्रबंधक गन्ना ओपी वर्मा, ज्येष्ठ गन्ना विकास निरीक्षक धामपुर अमित कुमार पांडे एवं क्षेत्रीय फील्ड स्टाफ दिनेश राजपूत, संजीव कुमार, कुंवरपाल सिंह, राजीव कुमार, गन्ना पर्यवेक्षक आदि उपस्थित रहे। गन्ना आयुक्त द्वारा निरीक्षण के दौरान रैडरॉट की रोकथाम हेतु किसानों को निम्न सुझाव दिए गए। उन्होंने बताया कि गन्ने की यह एक भयंकर बीमारी है।

कृषक भाई प्रभावित क्षेत्रों में गन्ने की बुवाई न करके फसल चक्र अपनाएं। प्रभावित गन्ने के पौधे की जड को जड़ से उखाड़ कर 5 से 10 ग्राम ब्लीचिंग पाउडर डालकर गड्ढों में बंद कर देंं। गन्ने की बुवाई से पूर्व एमएच आठ से 54 डिग्री सेल्सियस पर दो आंख वाले बीज को उपचारित करने के बाद ही बुवाई करें। गन्ने की रोग रोधी अन्य प्रजातियों से ही गन्ना फसल की बुवाई करें।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments