Sunday, July 25, 2021
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsBaghpatकोरोना खात्मे को खिचड़ी का वितरण कर यज्ञ हुआ

कोरोना खात्मे को खिचड़ी का वितरण कर यज्ञ हुआ

- Advertisement -
  • नगर के गांधी बाजार में हुआ कार्यक्रम, व्यापारियों ने लिया हिस्सा

जनवाणी संवाददाता |

बागपत: तेजी से फैल रही कोरोना बीमारी के चलते व्यापारियों ने भी कदम आगे बढ़ाया है। नगर के गांधी बाजार में सुबह दस बजे के करीब खिचड़ी का वितरण किया गया। उसके बाद शाम को यज्ञ कर ईश्वर से कोरोना को समाप्त कर लोगों को स्वस्थ करने की कामना की।

जिस तरह से कोरोना बीमारी फैल रही है उससे हर कोई परेशान हो चुका है। व्यापारियों का व्यापार भी ठप हो गया है। बीमारी को खत्म करने के लिए हर कोई कुछ न कुछ कर रहा है। नगर के गांधी बाजार स्थित अग्रवाल किराना स्टोर पर शनिवार को सुबह दस बजे के करीब युवा व्यापारी अमित अग्रवाल ने बीमारी को खत्म करने व गरीबों को भोजन कराने के लिए खिचडी का प्रसाद वितरण किया।

उन्होंने कहा कि बीमारी को देखते हुए गरीबों की सेवा करनी चाहिए, ताकि कोई भी भूखा पेट न सोए। उसके बाद स्वास्थ्य केन्द्र में मरीजों व स्टाफ को खिचड़ी का वितरण किया। बाजार में आने जाने वाले को खिचड़ी का वितरण किया। साथ ही ईश्वर से बीमारी को जल्द खत्म करने की मांग की।

इस मौके पर आलोक जैन, कपिल जैन, संजय रूहेला, कमल वशिष्ठ, सलमान, नरेश, ललित गुलयानी आदि मौजूद रहे। वहीं देर शाम गांधी बाजार में संयुक्त व्यापार वेलफेयर एसोसिएशन द्वारा फिरोजी जैन की दुकान के पास कोरोना महामारी, ब्लैक व व्हाईट फंगस को खत्म करने के लिए पंडित नीरज शास्त्री ने यज्ञ किया गया, जिसमें सभी ने आहुति देकर ईश्वर से बीमारी को खत्म करने की प्रार्थना की।

वहां दर्जनों व्यापारियों ने आहुति दी और विधि विधान के साथ यज्ञ कराया गया। उसके बाद प्रसाद का वितरण किया गया। इस मौके पर अध्यक्ष नंदलाल डोगरा, राजीव गुप्ता, विनोद गुप्ता, संजय सभासद, सुभाष गुप्ता, अमित अग्रवाल, सुजीत लखेरा, प्रवीन जैन, प्रदीप गुप्ता, दीपक सिंघी, लोकेश गुप्ता, बोबी, विजय गुप्ता, आलोक जैन, उत्सव गुप्ता, सतीश गुप्ता, संदीप गुप्ता, मनीष गर्ग, सौरभ गुप्ता, शिवम गुप्ता, शुभम गुप्ता, राजेश गुलयानी, सचिन जैन, राजेन्द्र शर्मा आदि मौजूद रहे। वहीं काठा गांव के शिव मंदिर में सुंदर कांड पाठ के समापन पर हवन व भंडारा किया और सभी ने कोरोना बीमारी को समाप्त करने की प्रार्थना की, ताकि बीमारी की चपेट में कोई न आ सकें।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments