Tuesday, March 2, 2021
Advertisment Booking
Home Uttar Pradesh News Meerut आईपीएल-14: आज सजेगा खिलाड़ियों का बाजार, 292 क्रिकेटर होंगे शामिल

आईपीएल-14: आज सजेगा खिलाड़ियों का बाजार, 292 क्रिकेटर होंगे शामिल

- Advertisement -
0
  • 292 क्रिकेटर नीलामी में होंगे शामिल जिसमें 164 भारतीय, 3 एसोसिएट 
  • आठ फ्रेंचाइजी टीमों को भरने हैं 61 स्थान
  • अब तक 82 आईपीएल मैचों में 22 की औसत से 1505 रन बनाए हैं मैक्सवेल ने

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: आईपीएल-14 के लिए बृहस्पतिवार को जब यहां खिलाड़ियों का बाजार सजेेगा तो ऑस्ट्रेलिया के ग्लेन मैक्सवेल और इंग्लैंड के ऑलराउंडर मोइन अली पर बड़ी बोली लगने की उम्मीद है।

नीलामी के लिए 292 खिलाड़ी शामिल होंगे जिनमें से 164 भारतीय और 125 विदेशी हैं। तीन एसोसिएट खिलाड़ी भी किस्मत आजमाएंगे। आठ फ्रेंचाइजी टीमों को 61 स्थान भरने हैं।

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को सबसे ज्यादा 11 और सनराइजर्स हैदराबाद को सबसे कम तीन खिलाड़ियों का चयन करना है। कोविड-19 महामारी के कारण आईपीएल पिछले साल संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में हुआ था। अब इसका आयोजन भारत में होगा जिससे सभी का ध्यान बिग हिटर और धीमी गति गेंदबाजों पर लगा होगा जिसमें मैक्सवेल और मोइन पूरी तरह से फिट बैठते हैं।

हालांकि मैक्सवेल का टूर्नामेंट में रिकॉर्ड इतना अच्छा नहीं है, उनका औसत 22 का है और उन्होंने 82 मैच खेलकर 1505 रन बनाए। अंतिम बार वह पंजाब के लिए खेले थे। स्मिथ को लेने मेें भी होड़ रहेगी। मोइन पिछले सत्र में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के लिए खेले थे।

टी20 में दुनिया के नंबर एक बल्लेबाज इंग्लैंड के डेविड मलान पर भी निगाह रहेगी। उनका स्ट्राइक रेट 19 टी20 मैचों में करीब 150 का है। कुछ टीम इस 33 साल के खिलाड़ी पर उनके 1.5 करोड़ के आधार मूल्य से ज्यादा की बोली लगाना पसंद करेंगी।

मलान को पंजाब किंग्स अपने पास मौजूद राशि और शीर्ष क्रम में आक्रामकता की कमी को देखते हुए चुन सकता है। हालांकि वह भारतीय हालात में धीमी गेंदबाजों के खिलाफ कैसा खेलते हैं, यह चर्चा का विषय है।

भारतीय खिलाड़ियों में तीन ‘कैप्ड’ खिलाड़ी काफी अहम हैं जो केदार जाधव, अनुभवी ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह और तेज गेंदबाज उमेश यादव हैं। इनके अलावा हनुमा विहारी भी दौड़ में होंगे। सनराइजर्स या राजस्थान को शीर्ष स्तर पर उमेश के अनुभव को देखते हुए उन्हें रखने में कोई परेशानी नहीं होगी।

इसी तरह केदार और हरभजन पहली बोली में भले नहीं बिके लेकिन जब फ्रेंचाइजी टीम अपनी संतुलित टीम बना लेंगी तो उनके चुनने की संभावना है।

विष्णु सोलंकी ने सैयद मुश्ताक अली टूर्नामेंट के आठ मैचों में 53.40 की औसत से 267 रन बनाए। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 128.36 का रहा। इसमें से 219 रन उन्होंने आखिरी पांच मैच में बनाए। उन्होंने टूर्नामेंट में 21 चौके और 12 छक्के जड़े।

लुकमान मेरीवाला: तेज गेंदबाज लुकमान सैयद मुश्ताक में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले दूसरे गेंदबाज रहे। उन्होंने आठ मैचों में 6.52 की इकोनॉमी से 15 विकेट लिए। इसमें एक पारी में पांच विकेट भी शामिल है।

केदार देवधर: बड़ौदा के केदार सैयद मुश्ताक के दूसरे उच्चतम स्कोरर रहे। उन्होंने 69.80 की औसत से 349 रन बनाए। उनका स्ट्राइक रेट 113.68 का रहा। उन्होंने टूर्नामेंट में 35 चौके और 11 छक्के लगाए।

मोहम्मद अजहरुद्दीन: केरल के ओपनर अजहरुद्दीन ने सैयद मुश्ताक में टूर्नामेंट इतिहास का दूसरा सबसे तेज शतक जड़ा। उन्होंने 37 गेंदों पर शतक जड़ा और 53.50 की औसत और 194.54 के स्ट्राइक रेट से 214 रन बनाए। इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने टी-20 में 19 मैचों में 144.80 की स्ट्राइक रेट से 404 रन बनाए हैं।

चेन्नई की टीम पर रहेगी निगाह: नीलामी में चेन्नई सुपर किंग्स पर भी सभी की निगाह रहेगी जिसका पिछला सत्र काफी खराब रहा। टीम टूर्नामेंट के इतिहास में पहली बार प्लेऑफ में जगह नहीं बना सकी। धोनी और मुख्य कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने अपनी टीम में युवाओं के बजाय अनुभव को अहमियत दी है।

इसका उदाहरण रोबिन उथप्पा हैं जिन्होंने कम से कम पांच सत्र में अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है लेकिन ट्रेडिंग विंडो के दौरान चेन्नई ने उन्हें राजस्थान रॉयल्स से पूर्ण-नकद करार के तहत लिया।

फ्रेंचाइजी के करीबी एक सूत्र ने कहा,‘धोनी किस तरह के खिलाड़ी चुनते हैं, यह देखना होगा। हमेशा उन्हीं खिलाड़ियों को दबाव भरे हालात से निपटने का अनुभव होता है जो मध्यम स्तर के सीनियर खिलाड़ी होते हैं। यह मायने नहीं रखता कि क्रिकेट जगत में बतौर खिलाड़ी उसका रूतबा कैसा है।’

नूर और केनसे सबसे युवा 

अफगानिस्तान के बाएं हाथ के रिस्ट स्पिनर नूर अहमद (16 साल 45 दिन) सबसे युवा खिलाड़ी हैं। उन्होंने अब तक अपने देश के लिए एक भी मैच नहीं खेला। उन्होंने हाल ही में ऑस्ट्रेलिया की घरेलू लीग बिग बैश में मेलबर्न रेनगेड्स की ओर से छह मैच खेले जिसमें दो विकेट लिए।

वहीं 16 साल के नगालैंड के लेग-स्पिनर खरीवित्सो केनसे सबसे युवा भारतीय खिलाड़ी हैं। कारपेंटर के बेटे केनसे ने सैयद मुश्ताक में अपनी गेंदबाजी से सबको प्रभावित किया था। उन्होंनेचार मैचों में सात विकेट लिए थे। इन दोनों का आधार मूल्य 20 लाख रुपए है।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments