Saturday, June 22, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutसीएनजी बसों के शेड्यूल पर भारी स्टाफ की मनमर्जियां

सीएनजी बसों के शेड्यूल पर भारी स्टाफ की मनमर्जियां

- Advertisement -
  • 90 बसों में 48 को रात्रि और 42 को दिन में संचालित करने की व्यवस्था को लग रहा पलीता

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: मेरठ सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विस लिमिटेड (एमसीटीएसएल) के अंतर्गत संचालित होने वाली सीएनजी बसों की सेवा में सुधार के लिए बनाया गया शेड्यूल कारगर नहीं हो पा रहा है। यात्रियों को नियमित रूप से बसें मिलने के लिए की गई इस व्यवस्था पर चालकों की मनमानी भारी पड़ रही है। बसों को अधिकारियों के अनुसार संचालित न करके स्टाफकर्मी अपनी सुविधा के अनुसार चला रहे हैं।

अभी हाल ही में सीएनजी बसों के संचालन प्रभारी सचिन सक्सेना ने बसों के दिन और रात में संचालन के लिए शेड्यूल बनाकर संचालन कराने के आदेश जारी किए हैं। जिसमें प्रयास किया गया कि यात्रियों को प्रमुख मार्गों पर हर 15 मिनट बाद बसें उपलब्ध कराई जा सके। सीएनजी से संचालित कल 90 बसों में से 48 रात्रि कालीन और 42 दिन में संचालित सेवा में शामिल करके शेड्यूल बनाया गया। व्यवस्था की गई कि मोदीनगर-मोदीपुरम बाईपास मार्ग पर 30 बसें संचालित की जाएगी। इनमें 18 दिन और 12 रात्रि में चलाई जाएगी।

Untitled 1 copy 4

किठौर और सरधना मार्ग पर 20-20 में 10-10 दिन और 10-10 रात्रि में चलाई जाएंगी। मुल्हैड़ा में दो, खानपुर में एक, खेड़ा में दो, हर्रा में तीन बसें रात्रि कालीन सेवा में रखी गई। जबकि सिवाया में दो बसें दिन और एक रात्रि सेवा में लगाई गई। रार्धना में एक बस भोला सतवाई में दो बस रात्रि कालीन सेवा में लगाई गई हैं। पिठलोकर में एक बस दिन और एक रात की सेवा में शामिल की गई। करनावल में तीनों बसें रात्रि कालीन सेवाओं से संबंधित रहेंगी। जबकि बहरामपुर में जाने वाली बस दिन में संचालित की जाएगी।

महानगर बस सेवा के अधिकारियों की ओर से जारी किए गए इस शेड्यूल से पूर्व मेरठ महानगर के विभिन्न मार्गों पर संचालित हो रही बसों को डिपो से बल्क में निकालकर संचालित कराया जा रहा था। यह शेड्यूल लागू होने से यात्रियों में बेहतर सुविधा की उम्मीद जागी, लेकिन संचालन का यह बदलाव कुछ स्टाफकर्मियों को रास नहीं आ रहा है। जिसके चलते उन्होंने बसों को अपनी सुविधा के अनुसार चलाने का काम जारी रखा है। बताया गया है कि इस समय देहात क्षेत्र की ओर जाने वाली बसों की संख्या न के बराबर कर दी गई है। इसके बजाय अधिकांश बसों को मोदीनगर-मोदीपुरम बाईपास मार्ग पर ही दौड़ाया जा रहा है।

सीएनजी बसों के संचालन के संबंध में शेड्यूल बनाया गया है। जिसको करीब एक सप्ताह तक चलाया गया, लेकिन इसमें कुछ व्यवहारिक कठिनाई सामने आई है। जिसके संबंध में उच्चाधिकारियों को एक रिपोर्ट प्रेषित की गई है। इस समय आरएम मेरठ और एमसीटीएसएल एमडी का पद खाली चल रहा है। पद पर अधिकारी के आगमन के बाद उनकी अनुमति लेकर सीएनजी बसों का संचालन शेड्यूल के अनुसार कराया जाएगा।
-सचिन सक्सेना, सीएनजी बस संचालन प्रभारी, एमसीटीएसएल, मेरठ महानगर

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments