Sunday, July 25, 2021
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsShamliशामली में 856 युवाओं ने उत्हसाह से कराया पहले दिन वैक्सीनेशन

शामली में 856 युवाओं ने उत्हसाह से कराया पहले दिन वैक्सीनेशन

- Advertisement -
  • गन्ना मंत्री सुरेश राणा ने किया थानाभवन में वैक्सीनेशन का शुभारंभ
  • कलक्ट्रेट और वीवी इंटर कॉलेज में वैक्सीनेश सेंटरों का निरीक्षण

जनवाणी ब्यूरो |

शामली: उत्तर प्रदेश के गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग विभाग के कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा ने जनपद शामली में 18 प्लस आयु के युवाओं का वैक्सीनेशन का थानाभवन सीएचसी पर शुभारंभ किया। उन्होंने वैक्सीनेशन कराने वाले युवाओं का उत्साह वर्धन किया।

बाद में कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा ने शामली पहुंच कर जिलाधिकारी जसजीत कौर के साथ कलक्ट्रेट तथा वीवी इंटर कॉलेज में बनाए गए वैक्सीनेशन सेंटरों का निरीक्षण करते हुए अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए। पूरे जनपद में 18 से 44 वर्ष आयु के 1000 वैक्सीनेशन की प्रथम डोज के सापेक्ष 856 ने वैक्सीनेशन कराया। जनपद में वैक्सीनेशन का प्रतिशत 85.60 प्रतिशत रहा।

मंगलवार को उत्तर प्रदेश के गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग विभाग के कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा ने जनपद शामली में 18 प्लस आयु के युवाओं का वैक्सीनेशन का थानाभवन सीएचसी पर शुभारंभ किया। थानाभवन सीएचसी पर पर 89 युवाओं ने उत्साह पूर्वक वैक्सीनेशन कराया।

जिसके बाद कैबिनेट मंत्री शामली कलक्ट्रेट पहुंचे और वैक्सीनेशन का जायजा लिया और आवश्यक व्यवस्थाएं देखी। कलक्ट्रेट में पत्रकारों के वैक्सीनेशन के लिए विशेष सेंटर बनाया गया था, इस दौरान कैबिनेट मंत्री ने वैक्सीनेशन कराने वाले पत्रकारों से भी वार्ता की।जिसके बाद गन्ना मंत्री और जिलाधिकारी ने वीवी इंटर कॉलेज में चल रहे 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के अभिभावकों को लगाई जा रही वैक्सीनेशन की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। सेंटर पर बच्चों के अभिभावकों को बड़े उत्साह के साथ कोविड-19 वैक्सीनेशन कराते देख प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि वैक्सीनेश के बाद भी गाइड लाइन का पालन जरुरी है क्योंकि सतर्कता ही सुरक्षा है इसलिए 2 गज दूरी, मास्क है जरूरी मंत्र का पालन सभी को करना है।

मुख्य चिकित्साधिकारी डा. संजय अग्रवाल एवं जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. राजकुमार सागर ने बताया कि जनपद में 18 से 44 वर्ष आयु के लोगों के लिए मंगलवार को 1000 लोगों को प्रथम डोज लगाने का लक्ष्य निर्धारित था, जिसके सापेक्ष 856 लोगों ने वैक्सीन की डोज लगवाई है।

निरीक्षण के समय जिलाधिकारी जसजीत कौर, एसडीएम शामली संदीप कुमार, सीएमओ डा. संजय अग्रवाल, सीएचसी चिकित्साधीक्षक डा. रमेश चंद्रा समेत अन्य अधिकारीगण मौजूद रहे।

पहले ही दिन अव्यवस्थाओं से जूझते रहे युवा

जनपद शामली में 18 प्लस आयु के युवाओं का वैक्सीनेशन का इंतजार मंगलवार को समाप्त हो गया। कोरोना संक्रमण से मुकाबले के लिए वैक्सीनेशन के लिए बनाए गए 12 सेंटर उत्साह के साथ युवा वर्ग पहुंचा। लेकिन पहले ही दिन युवाओं को अव्यवस्थाओं का सामना करना पड़ा।

शामली सीएचसी और वीवी इंटर कॉलेज को अभिभावक स्पेशल टीकाकरण केंद्र बनाए गए थे, जिन पर 18 प्लस आयु के युवा बड़ी संख्या में पहुंचे लेकिन वहां उनका वैक्सीनेशन नहीं हो सका। इन केंद्रों पर उन अभिभावकों का टीकाकरण किया जिनके बच्चों की आयु 12 वर्ष से कम थी। जिसके कारण युवाओं को परेशानी का सामना करना पड़ा। राजकीय महिला पॉलिटेक्निक में अंकित कुमार मित्तल निवासी बड़ा बाजार ने सबसे पहले वैक्सीनेशन कराया।

हारेगा कोरोना, जीतेगी मानवता: सुरेश राणा

18 वर्ष से 44 वर्ष के लोगों के वैक्सीनेशन शुरू होने पर युवाओं ने प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री का आभार जताया है। उप्र सरकार ने मुख्यमंत्री के नेतृत्व में कोरोना से बचाव के लिए अदभुत व्यवस्था की है। मार्च 2020 में कोरोना आने पर हमारे पास टेस्टिंग की कोई व्यवस्था नहीं थी। मुख्यमत्री के कुशल प्रबंधन से लगातार केंद्र सरकार के सहयोग तमाम व्यवस्थाएं प्रदेश में उपलब्ध है।

उन्होंने कहा कि आज प्रदेश में सर्वाधिक 3.5 लाख टेस्ट प्रतिदिन हो रहे है। टीकाकरण में नम्बर वन पर है। चरणबद्ध तरीके से टीकाकरण में आगे बढ़ रहे हैं। जनप्रतिनिधियों, मीडिया, समाजसेवियों के द्वारा जागरुकता फैलाई जा रही है। प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री पूरी गंभीरता से कोरोना के खात्मे के लिए लगे हुए है। महामारी को दूर करने की हम सबकी नैतिक, सामुहिक जिम्मेदारी है। सभी के प्रसास से कोरोना हारेगा मानवता जीतेगी।

कोविन पोर्टल पर जरूर ले एप्वाइंटमेंट

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. संजय अग्रवाल ने बताया कि एक जून से कोविड-19 टीकाकरण के सत्र में 18 से 45 वर्ष तक की आयु वाले व्यक्तियों को कॉविड टीकाकरण कराया जा रहा है। कोविड-19 टीकाकरण कराने से पूर्व संबंधित पोर्टल (कोविन.जीओवी.इन) या आरोग्य सेतु ऐप पर पंजीकरण कर स्थान, दिनांक एवं समय लेना अनिवार्य होगा।

सीएमओ ने कि यदि पंजीकरण स्थान एवं समय का पूर्व में एप्वाइंटमेंट नहीं लिया गया है, तो किसी भी दशा में लाभार्थी का कोविड-19 टीकाकरण नहीं किया जाएगा। जनपद में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शामली एवं वीवी इंटर कॉलेज शामली पर केवल अभिभावक (जिनके बच्चे 12 वर्ष से कम आयु वाले हैं) हेतु स्पेशल सत्र आयोजित किया जा रहा है। यहां पर 12 वर्ष से अधिक आयु वाले बच्चों के अभिभावक एवं अन्य लाभार्थी रजिस्ट्रेशन न करें।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments