Tuesday, May 28, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh Newsअपने मुद्दों को लेकर चलें युवा: जयंत चौधरी

अपने मुद्दों को लेकर चलें युवा: जयंत चौधरी

- Advertisement -

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: राष्ट्रीय लोकदल की ओर से रविवार को युवा संसद का आयोजन किया गया। जिसमें पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी ने युवाओं का आह्वान किया कि वे अपने मूलभूत मुद्दों को लेकर राजनीति में सक्रिय भागीदारी निभाएं। डाबका कट के निकट साईं धाम मैदान के निकट आयोजित युवा संसद में कई जिलों से आए युवाओं के साथ-साथ गठबंधन से जुड़े विभिन्न राजनीतिक दलों के विधायकों और वरिष्ठ नेताओं ने भाग लिया।

इस कार्यक्रम में मुख्य वक्ता चौधरी जयंत सिंह रहे। उन्होंने क्रांति धरा मेरठ और यहां के युवाओं की राजनीतिक आंदोलन में भागीदारी के इतिहास की सराहना की। उन्होंने कहा कि जिस समय केंद्र सरकार कृषि से संबंधित तीन काले कानून लेकर आई, तो मेरठ ने अपनी भागीदारी से कानून को वापस लेने के लिए केंद्र सरकार को बाध्य कर दिया।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने पश्चिम उत्तर प्रदेश के लोगों को दिल्ली जाने से रोकने के लिए सड़कों में कीलें तक ठुकवा दी। लेकिन 2024 के चुनाव में पश्चिम उत्तर प्रदेश के लोगों को राजनीतिक भागीदारी के साथ दिल्ली जाने से कोई नहीं रोक पाएगा। उन्होंने युवाओं का आह्वान किया कि अपने मुद्दों को प्रमुखता से उठाएं। अपने सभी वोटों को डलवाएं, और राजनीति में सक्रिय भागीदारी निभाएं। जयंत चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने 10 साल के कार्यकाल का हिसाब किताब देने की बजाय देश और युवाओं का ध्यान इधर-उधर भटकने का प्रयास कर रहे हैं।

जयंत चौधरी ने कहा कि बिहार में गठबंधन का एक प्रयोग हुआ। इसी प्रयोग को आगे बढ़ाना है। जिसमें मेरठ को अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभानी है। उन्होंने कहा कि 150 सांसदों को सदन से बाहर निकाल कर मनमाने कानून लागू किए गए हैं। इसी का नतीजा है कि ट्रक ड्राइवर को हड़ताल करनी पड़ी। जिससे अर्थव्यवस्था पर सीधा असर पड़ा है। जयंत चौधरी ने कहा कि लोकतंत्र में विपक्ष की एक महत्वपूर्ण भूमिका होती है। कोई भी कानून बनाया जाए उसमें सभी की रैली जाती है लेकिन भारतीय जनता पार्टी लोकतंत्र नहीं बल्कि तानाशाही चाहती है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments