Thursday, April 25, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutनशेड़ी ने पत्नी को पिलाया तेजाब, हालत गंभीर

नशेड़ी ने पत्नी को पिलाया तेजाब, हालत गंभीर

- Advertisement -
  • पुलिस ने लिया नशेड़ी को हिरासत में, आरोपी की मां ने थाने में दी तहरीर

जनवाणी संवाददाता |

फलावदा: थाना क्षेत्र के गांव खाता में नशेड़ी पति ने पत्नी को जबरन तेजाब पिलाकर मारने का प्रयास किया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने महिला को गंभीर अवस्था में मेरठ अस्पताल में भर्ती करा दिया। पुलिस ने नशेड़ी पति को थाने लाकर हवालात मे बंद कर दिया। घटना के संबंध में आरोपी की मां ने थाने में तहरीर दी है।

क्षेत्र के गांव खाता निवासी मनोज शराब पीने का आदि है। उसकी पत्नी और बच्चे शराब पीने का विरोध करते है। इस बात से गुस्सा होकर शराबी पति ने पत्नी संगीता को जबरन तेजाब पिला दिया। इतना ही नहीं बच्चों के विरोध करने पर नशेड़ी ने बच्चों के साथ भी मारपीट की। सूचना मिलने पर दारोगा शिवचरण फोर्स के साथ गांव पहुंच गए। दारोगा ने बताया गंभीर अवस्था में महिला को मेडिकल में भर्ती कराया गया है।

21 7 scaled

पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया है। घटना के संबंध में शराबी की मां भगवान देवी पत्नी लखीराम ने थाने में तहरीर देते हुए बताया कि उसका पुत्र शराब पीने का आदी है। आए दिन शराब पीकर घर में उत्पात व मारपीट करता रहता है। बुधवार देर रात को उसके पुत्र ने शराब के नशे में अपनी पत्नी संगीता के छाती पर बैठकर जबरन टॉयलेट साफ करने के लिए रखा तेजाब पिला दिया।

संगीता की हालत बिगड़ गई। गंभीर अवस्था में संगीता को मेडिकल में भर्ती कराया गया है। घटना के संबंध में भगवान देवी ने पुत्र मनोज को नामजद करते हुए तहरीर दी है। जिसमें यह भी का आरोप है कि पांच वर्ष पूर्व भी उसके पुत्र ने अपने पिता लखीराम को मारपीट कर घायल कर दिया था। जिससे उसकी मौत हो गई थी। शराबी की मां ने पुलिस को बताया कि अपने पुत्र की हरकतों से परेशान होकर वह रिपोर्ट दर्ज कराना चाहती है।

सिपाही के खिलाफ मुकदमे को डीएम से मिले राज्यमंत्री

मेरठ: एक टेम्पो चालक को पीटने वाले सर्विलांस सेल के एक सिपाही के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के लिये राज्यमंत्री दिनेश खटीक को डीएम और एसएसपी से मिलना पड़ा। इसके बाद भी समाचार लिखे जाने तक मुकदमा दर्ज नहीं हुआ था। गत चार जून को गंगानगर निवासी बिरजू अपने टेम्पो से सामान लेकर जा रहा था। तभी एक कार से उसकी टक्कर हो गई। कार सर्विलांस सेल का सिपाही आकाश चला रहा था।

आरोप है कि सिपाही ने बिरजू की पिटाई कर जातिसूचक शब्द के साथ गाली भी दी। बिरजू बाद में सिपाही की शिकायत करने गंगा नगर थाने गया तो उसे भगा दिया गया। परेशान बिरजू सीधे राज्यमंत्री दिनेश खटीक से मिला और गंगा नगर पुलिस की शिकायत की। इस बात को लेकर राज्यमंत्री ने इंस्पेक्टर गंगानगर से सिपाही के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा तो इंस्पेक्टर ने राज्यमंत्री की बात को गंभीरता से नहीं लिया।

बताया जाता है कि गुरुवार की रात इस प्रकरण को लेकर राज्यमंत्री डीएम दीपक मीणा से मिले। बाद में एसएसपी प्रभाकर चौधरी भी वहां पहुंच गए। राज्यमंत्री ने सिपाही के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा और नाराजगी जाहिर की।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments