Friday, May 31, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutजच्चा-बच्चा की मौत पर एएनएम निलंबित

जच्चा-बच्चा की मौत पर एएनएम निलंबित

- Advertisement -
  • ब्यूटी पार्लर की आड़ में चल रहा था डिलीवरी सेंटर, सीएमओ ने किया सरधना अटैच

जनवाणी संवाददाता |

रोहटा: ब्यूटी पार्लर की आड़ में चलाए जा रहे डिलीवरी सेंटर में जच्चा व बच्चा की मौत की घटना को गंभीरता से लेते हुए सीएमओ ने इस मामले की आरोपी बताई जा रही एएनएम को निलंबित कर उन्हें सरूरपुर से हटाकर सरधना सेंटर पर अटैच कर दिया।

  • ये था पूरा मामला

रोहटा ब्लॉक के गांव दमगढ़ी निवासी नईमा पत्नी जावेद आंगनबाड़ी कार्यकत्री है तथा मायके में ही रहती है। इसी ने ही गर्भवती आंगनबाड़ी कार्यकत्री नईमा पत्नी जावेद को प्रसव पीड़ा होने पर सोमवार को मीरपुर स्थित ब्यूटी पार्लर की आड़ में चलने वाले अवैध डिलीवरी चलने वाली मधु उर्फ मंजू से परिजनों ने संपर्क किया,जो सरूरपुर में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर एएनएम के रूप में भी तैनात है। जहां उसने नॉर्मल डिलीवरी की बात कह कर जच्चा को भर्ती कर लिया। जहां कुछ समय बाद डिलीवरी के दौरान नवजात बच्चे की मौत हो गई।

04 13

जबकि अधिक रक्तस्राव होने पर नईमा की हालत गंभीर हो गई थी। जिसे उक्त एएनएम ने बाद मे मेरठ ले जाने के लिए बोला, लेकिन उसकी उपचार के दौरान अधिक रक्तस्राव होने के कारण मौत हो गई थी। इस पूरे प्रकरण को लेकर पीड़ित के परिजनों ने स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारियों से मामले की शिकायत की थी। सीएमओ ने मामले को गंभीरता से लेते हुए आरोपी एएनएम के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई कर दी।

अरसे से चला रहा था अवैध सेंटर

ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सरूरपुर पर काफी समय से जमी एएनएम मंजू उर्फ मधु रोहटा ब्लॉक के गांव मीरपुर में ब्यूटी पार्लर की आड़ में अवैध गर्भपात केंद्र और डिलीवरी सेंटर काफी समय से संचालित कर रही थी। मामले में संज्ञान लेते हुए तत्काल प्रभाव से सीएमओ अखिलेश मोहन ने उक्त एएनएम मधु उर्फ मंजू को तत्काल प्रभाव भाव से निलंबित कर दिया।

विभाग की टीम पहुंची आंगनबाड़ी के घर

उधर, इस प्रकरण के बाद स्वास्थ्य विभाग किरकिरी होने के बाद मंगलवार को सीएचसी चिकित्सा अधिकारी डा. महक सिंह टीम के साथ आंगनबाड़ी कार्यकत्री नईमा के घर पहुंचे और उन्होंने पीड़ित परिवार वालों से बातचीत की। शादी उनके बयान दर्ज करते हुए अपनी रिपोर्ट अधिकारियों को सौंप दी। इसके अलावा उन्होंने हादसे पर दुख जताते हुए जांच के बाद सख्त कार्रवाई का भी भरोसा परिवार वालों को दिलाया।

हत्या की एफआईआर की मांग

उधर, इस संबंध में मृतक ा नईमा के पिता गांव दमगढ़ी निवासी नूर मोहम्मद पुत्र सलमुद्दीन थाने पर तहरीर देते हुए उक्त एएनएम के खिलाफ लापरवाही और जानबूझकर गैर कानूनी तरीके से डिलीवरी करने का आरोप लगाते हुए का हत्या की रिपोर्ट दर्ज करने के लिए तहरीर देकर मांग की है। हालांकि पुलिस ने संबंध में तहरीर के बाद जांच की बात कहकर तहरीर रख ली और मुकदमा दर्ज करने से इनकार कर दिया। पीड़ित डीएम व सीएमओ से भी इस मामले में कानूनी कार्रवाई की मांग की है।

जांच कमेटी का गठन

इस प्रकरण में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की किरकिरी होने के बाद सीएमओ अखिलेश मोहन ने बताया कि तीन सदस्यीय कमेटी गठित कर दी गई है। जो जांच रिपोर्ट सौंपेगी जिसके बाद विभागीय कार्रवाई अलग से की जाएगी। फिलहाल एएनएम को निलंबित कर दिया गया है और सरधना से अटैच किया गया है। प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डा. महक सिंह ने कहा कि मामले की जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी। वहीं, इस संबंध में आरोपी से गिरी सीपीएम मीनू चौधरी का कहना है कि उन्हें कोई सफाई नहीं देनी है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments