Sunday, November 28, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutसीएम के कार्यक्रम में 50 हजार लोगों के बैठने की होगी व्यवस्था

सीएम के कार्यक्रम में 50 हजार लोगों के बैठने की होगी व्यवस्था

- Advertisement -

जनवाणी संवाददाता |

मोदीपुरम: सरदार वल्लभ भाई पटेल कृषि एवं प्रौद्योगिक विवि में 11 नवंबर को आयोजित होने वाले दिव्यांग खिलाड़ियों के सम्माान समारोह कार्यक्रम में 50 हजार की तादाद में लोगों के बैठने की व्यवस्था की गई है। कार्यक्रम की तैयारियों को अंतिम रुप दिया जा रहा है। कार्यक्रम में जहां खिलाड़ियों को शामिल होने के लिए निमंत्रण दे दिया गया है। वहीं, समारोह की सुरक्षा भी चाक चौबंद होगी।

समारोह की तैयारियों को लेकर जहां जनपद का पुलिस और प्रशासनिक अमला जुटा हुआ है। वहीं, भाजपाई भी इस सम्मान समारोह में लगे हुए है। समारोह स्थल की तैयारियों का जायजा लेने के लिए मेरठ जोन के एडीजी राजीव सब्बरवाल, एसएसपी प्रभाकर चौधरी, डीएम के. बालाजी, एसडीएम सरधना संदीप पटेल पहुंचे।

अधिकारियों ने मंच से लेकर पंडाल तक की सभी व्यवस्थाओं की जानकारी ली। इसके बाद सुरक्षा को चाक चौबंद रखने के लिए भी अधिकारियों ने मंत्रणा की है। अधिकारियों के अनुसार समारोह में 50 हजार लोगों के बैठने की व्यवस्था की गई है।

250*600 फीट का पंडाल लगाया गया है। कार्यक्रम में हेलीपेड और लंच की व्यवस्था को लेकर अधिकारियों द्वारा फुल प्रूफ प्लान तैयार किया गया है। सुरक्षा से लेकर साफ-सफाई तक को बेहतर एवं दुरुस्त करने के लिए अधिकारियों ने अपने अधीनस्थों को साफ दिशा-निर्देश दे दिए हैं।

सुरक्षा व्यवस्था होगी चाक चौबंद

मुख्यमंत्री के कार्यक्र म के लेकर सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता बंदोबस्त किए गए है। अधिकारियों ने जहां खुफिया तंत्र एलआईयू को एलर्ट कर दिया है। वहीं, कार्यक्रम स्थल के पास सुरक्षा व्यवस्था के कड़े बंदोबस्त किए गए है। मंच स्थल पर जहां चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त होगा। वहीं, पंडाल में भी सुरक्षा के लिहाज से कड़े इंतजाम रहेंगे।

भाजपा जिलाध्यक्ष ने दिया विधायकों को टारगेट

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के 11 नवंबर को कृषि विवि में आयोजित होने वाले दिव्यांग खिलाड़ियों के सम्मान समारोह कार्यक्रम को लेकर जिलाध्यक्ष विमल शर्मा ने पल्लवपुरम में अपने आवास पर विधायकों और महामंत्रियों की बैठक ली।

बैठक में जिलाध्यक्ष ने सभी को इस कार्यक्रम को सफल बनाने का आह्वान किया और प्रत्येक विधायक को अपनी विधान सभा से अधिक से अधिक तादाद में लोगों को लाने का आह्वान किया। जिलाध्यक्ष विमल शर्मा ने बताया कि दूर से आने वाले लोगों के लिए बसों और पास से आने वाले लोगों के लिए ट्रैक्टर का इंतजाम किया गया है।

सभी विधायकों को टारगेट दे दिया गया है। 11 नवंबर को आयोजित होने वाला यह कार्यक्रम ऐतिहासिक होगा और इस कार्यक्र म में लाखों की तादाद में लोग पहुंचेंगे। कार्यक्रम में राज्यमंत्री दिनेश खटीक, विधायक संगीत सोम, विधायक जितेंद्र सतवाई, विधायक सतबीर त्यागी, महामंत्री अंकुर मुखिया, महामंत्री हरीश चौधरी, महामंत्री समीर चौहान, महामंत्री भंवर सिंह आदि मौजूद रहे।

काश! कुछ और दिन पहले आये होते सीएम

सीएम के स्वागत की तैयारी में जुटे अधिकारी

रविवार को भी खुले रहे सरकारी कार्यालय

सीएम के दौरे का ही असर है कि रविवार को भी सभी सरकारी कार्यालय खुले रहे और अधिकारी कार्यालय पहुंचकर विभागीय कार्य पूरे करने में लगे रहे। इसके अलावा शहर की वीआईपी सड़कों को भी गड्ढा मुक्त करने का अभियान चलता रहा। सीएम यहां 11 नवंबर को आ रहे हैं। जिसके चलते शहर की व्यवस्था को चाक चौबंद किया जा रहा है।

प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ का आगामी 11 नवंबर को मेरठ में कार्यक्रम प्रस्तावित है। वह यहां कृषि विवि में पैरा ओलंपिक खिलाड़ियों को सम्मानित करेंगे। मुख्यमंत्री के दौरे को लेकर प्रशासन भी अलर्ट मोड पर है। जिलाधिकारी भी विभागीय अधिकारियों के बैठक लेकर उन्हें दिशा निर्देश देने में लगे हैं।

शनिवार को भी जिलाधिकारी के. बालाजी ने अधिकारियों के साथ बैठक की और सीएम के कार्यक्रम की तैयारी के निर्देश दिये। रविवार को भी एमडीए, जिलापूर्ति, कलक्ट्रेट समेत तमाम कार्यालयों में चहल पहल देखने को मिली।

अधिकारी अपने दफ्तरों की ओर दौड़ते नजर आये। डूडा कार्यालय में भी अधिकारी पहुंचे और यहां योजनाओं को लेकर पूरी तैयारी की। यहां पीएम आवास संबंधी व अन्य योजनाओं से संबंधी फाइलों को तैयार किया गया और उनका अधूरा कार्य पूरा किया जा रहा।

जिलापूर्ति कार्यालय में भी सीएम के कार्यक्रम को लेकर तैयारी चलती रही। यहां अधिकारी उनके कार्यक्रम की व्यवस्था बनाने में जुटे रहे।

सड़कें हुई  चकाचक, भरे गये गड्ढे

सीएम के कार्यक्रम का ही असर है कि लोगों को यहां गड्ढा मुक्त सड़कें नसीब हो रही हैं। पिछले कुछ माह की बात करें तो शहर की सड़कों में एक भी सड़क ऐसी नहीं बची थी यहां गड्ढा न हो। यहां अब सीएम का कार्यक्रम क्या तय हुआ सड़कों के हालात भी सुधरने सही हो गये हैं।

रविवार को ही शहर की अधिकांश वीआईपी रोड में शामिल एमडीए के सामने वाली रोड, शास्त्रीनगर पीएवीएस के सामने वाली रोड, ईस्टर्न कचहरी रोड समेत कई मार्गों पर गड्ढों को भर दिया गया है।

यहां सड़कों की हालत को सुधारा जा रहा है। शहर के अन्य मार्गों पर भी गड्ढों को भरा जा रहा है।

नगरायुक्त ने किया शहर की व्यवस्था का निरीक्षण

सीएम के कार्यक्रम को लेकर नगरायुक्त मनीष बंसल भी अलर्ट मोड में नजर आये। रविवार सुबह ही वह सहायक नगरायुक्त ब्रजपाल सिंह के साथ गाड़ी लेकर राउंड पर निकल गये। उन्होंने इस दौरान अतिक्रमण करने वालों को हड़काया और अधिकारियों को सड़कों से अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिये।

सर्किट हाउस के सामने उन्होंने दुकान वालों को अतिक्रमण हटाने के लिये कहा। इसके अलावा उन्होंने हापुड़ रोड, गढ़ रोड समेत कई मार्गों से अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिये। उनके निर्देश मिलने के बाद नगर निगम की टीम ने पीवीएस के सामने से भी अतिक्रमण हटाया और दुकानदारों से सड़कों को कब्जामुक्त कराया।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments