Monday, January 24, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsBaghpatवैदिक सिद्धांतों को आत्मसात कर याज्ञिक बने: डॉ सत्यपाल

वैदिक सिद्धांतों को आत्मसात कर याज्ञिक बने: डॉ सत्यपाल

- Advertisement -
  • अग्रवाल मंडी टटीरी कस्बे में जिला आर्य प्रतिनिधिसभा द्वारा कार्यक्रम का आयोजन

जनवाणी संवाददाता |

बागपत: जिला आर्य प्रतिनिधि सभा बागपत एवं आर्य समाज अग्रवाल मंडी टटीरी के संयुक्त तत्वाधान में आर्य महासम्मेलन एवं सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में सांसद को सम्मानित किया और वैदिक सिद्धांतों को आत्मसात करें व याज्ञिक बनें।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि गुरुकुल कांगड़ी के कुलाधिपति पूर्व केंद्रीय राज्य मंत्री एवं सांसद डॉ सत्यपाल सिंह ने कहा कि सभी वैदिक सिद्धांतों को आत्मसात करें एवं प्रतिदिन यज्ञ का संकल्प लें, जिससे परिवारों में संस्कारित जीवन जीने की परंपरा बने एवं यज्ञ से वातावरण प्रदूषण से मुक्त होगा शुद्ध प्राणवायु मिलेगी।

आर्य समाज के संस्थापक महर्षि देव दयानंद ने जन कल्याण के लिए वैदिक सिद्धांतों की पुनर्स्थापना के लिए आर्य समाज की स्थापना की है हम सब का कर्तव्य है हम स्वयं जीवन में संस्कारों को ग्रहण कर आर्य बने। सुप्रसिद्ध भजन उपदेशक सहदेव बेधड़क ने ईश्वर स्तुति के भजनों से वातावरण को मंत्र मुक्त कर दिया। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रांतीय अध्यक्ष धीरज सिंह व संचालन आर्य समाज के प्रधान अभिमन्यु गुप्ता एवं प्रांत उप मंत्री रिपुदमन आर्य एवं संयोजक आर्य भूषण आर्य ने संयुक्त रूप से किया।

आचार्य यशवीर सिंह ने कहा सभी आर्यों को ओम पताका अपने घर पर लगानी चाहिए। दैनिक यज्ञ एवं स्वाध्याय अवश्य करना चाहिए। सभा प्रधान धीरज सिंह ने कहा कि हमें आपसी मतभेद भुलाकर आर्य समाज के उत्थान के लिए मिलजुल कर कार्य करना चाहिए। इस अवसर पर जिला मंत्री मनोज आर्य, कोषाध्यक्ष मनोज आर्य, मंत्री संदीप आर्य, उपाध्यक्ष सुरेश जिंदल, पंकज गुप्ता, श्रीपाल आर्य, वीरेंद्र, अनिल कुमार, वरिष्ठ मंत्री मुकेश कुमार, विद्यासागर, सतवीर, सदस्य वीर सिंह बाबू, अनूप सिंह, सांसद प्रतिनिधि ठाकुर प्रदीप सिंह, जितेंद्र धामा, गन्ना समिति बागपत के चेयरमैन कृष्णपाल, ओमपाल आर्य आदि मौजूद रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments