Saturday, May 25, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutबिल्डर का कारनामा, पशुचर की जमीन पर कब्जाकर बेचे प्लाट

बिल्डर का कारनामा, पशुचर की जमीन पर कब्जाकर बेचे प्लाट

- Advertisement -
  • नगर निगम ने थाने पर कार्रवाई के लिए लिखा, लेकिन नहीं दर्ज हुई रिपोर्ट

जनवाणी संवाददाता |

मोदीपुरम: पल्लवपुरम में बिल्डर का एक और कारनामा सामने आया है। पशुचर की जमीन पर कब्जा कर लिया। कई बार चेतावनी देने पर भी जमीन पर कब्जा नहीं हटाया गया, जिसके बाद कार्रवाई कर नगर निगम ने कब्जा हटवाया, रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए पल्लवपुरम थाने पर तहरीर दी गई, लेकिन अभी दर्ज नहीं हुई है।

मोदीपुरम के पल्हैड़ा स्थित पशुचर की भूमि खसरा संख्या-181 पर अवैध कब्जा कर बिल्डर दौराला निवासी एसके बिल्डर्स संजय कुमार पुत्र ओमवीर सिंह व पार्टनर कविंद्र सिंह पुत्र जिले सिंह निवासी श्रद्धापुरी कंकरखेड़ा ने नगर निगम की इस भूमि पर अवैध कब्जा कर लिया है। यह बिल्डर अवैध रुप से कब्जा कर यहां पर सरकारी जमीन को भी बेच रहे हैं। इस मामले को लेकर कई बार नगर निगम ने चेतावनी भी दी थी

लेकिन फिर भी नहीं माने, जिसके बाद टीम ने मौके पर पहुंचकर कब्जे को हटाया। हटाने के बाद फिर से बिल्डर ने कब्जा किया है। इस मामले में नगर निगम के संपत्ति अधिकारी ने पल्लवपुरम थाने पर तहरीर देते हुए बिल्डर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने की मांग की है, लेकिन अभी तक पल्लवपुरम पुलिस ये रिपोर्ट दर्ज नहीं की है, जिसके बाद बिल्डर के हौसले बुंलद हो रहे हैं और वह लगातार सरकारी भूमि को बेच रहा है।

करोड़ों में बेच जा रही जमीन

दौराला निवासी बिल्डर्स संजय प्रधान पल्लवपुरम की उदय सिटी कालोनी में अवैध रूप से कालोनी काटकर बेच रहा है। यहां पर बिल्डर से 50 से अधिक अवैध दुकाने भी बना दी है। किसान से सस्ते पैसों में लेकर बिल्डर जमीन बेचने में लगा हुआ है। धीरे धीरे कालोनी का विस्तार भी किया जा रहा है। करोड़ों रुपये की जमीन को बेचा जा रहा है, बिल्डर्स ने यह भी नहीं देखा कि सरकारी पशुचर की भी जमीन है, उसे भी महंगे दामों में बेच दिया है।

नहीं है कोई नक्शा पास

ग्राहकों को गुमराह कर बिल्डर बिना एमडीए से नक्शा स्वीकृ़त कराये ही प्लाट बेच रहा है। यहां पर प्लाट के दाम भी लगातार बढ़ाए जा रहे हैं। खास बात यह है कि बिल्डर संजय ने पहले भी माउंट लिट्रा स्कूल के पास में सरकारी भूमि पर अवैध कालोनी काट दी है। कई बार उसका ध्वस्तीकरण भी हो गया, फिर भी काम नहीं रोका गया और एमडीए के अधिकारियों और स्थानीय प्रशासन से सेटिंग कर बिल्डर लगातार कालोनी काटकर मोटा मुनाफा कमा रहा है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments