Tuesday, July 27, 2021
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutखुशियां मनाए ध्यान से, कहीं संक्रमण साथ न आए

खुशियां मनाए ध्यान से, कहीं संक्रमण साथ न आए

- Advertisement -
  • ईद का एक दिन शेष, बाजारों में उमड़ी भीड़ 
  • कोरोना नियम ताक पर, बिना मास्क के बाजारों में घूम रहे लोग

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: कल ईद का त्योहार है। जिसे लेकर बाजारों में काफी भीड़ दिखाई दे रही है। व्यापारियों ने भी ग्राहकों को लुभाने के लिये तरह तरह के आॅफर शुरू किये हुए हैं। जिनका लोग जमकर लाभ उठा रहे हैं, लेकिन इस खुशी के त्योहार पर लोगों को अभी सावधानी बरतनी होगी, जोकि कहीं दिखाई नहीं पड़ रही है।

कहीं ऐसा न हो कि खुशी के मौके पर लोग संक्रमण घर न ले आये। हालांकि इससे पिछले कई माह से आर्थिक नुकसान उठा रहे व्यापारियों को जरूर थोड़ी राहत देखने को मिलेगी।

ईद के त्योहार को लेकर बाजारों में अच्छी खासी चहल-पहल देखने को मिल रही है। पिछले कई माह से कोराना की मार झेल रहे दुकानदारों को थोड़ी राहत मिल रही है, लेकिन बाजारों में इतनी भीड़ एकत्र होना भी खतरे की ओर इशारा करती है।

बाजारों के खुलने से पूर्व व्यापार संघों की ओर से बड़े बड़े दावे किये गये कि दुकानों पर भीड़ एकत्र नहीं होने देंगे। मास्क के बिना दुकान में प्रवेश नहीं दिया जायेगा, लेकिन सभी बाजरों में इसके विपरीत ही हालात है। जहां देखों वहां भीड़ नजर आ रही है। कोई दुकान ऐसी नहीं है जहां लोगों की भीड़ न हो।

सारे नियम हुए तार-तार

ईद को लेकर भगत सिंह मार्केट, लालकुर्ती बाजार और आबूलेन बाजार में काफी भीड़ है। इस भीड़ ने कोराना के सारे नियमों को तक पर रख दिया है। लालकुर्ती और भगत सिंह मार्केट की बात करें तो यहां लोग खरीदारी करने दूर-दूर से आ रहे हैं और किसी के पास भी मास्क नहीं है।

ज्यादातर लोग बिना मास्क के ही खरीदारी करने पहुंच रहे हैं और दुकानदार बिना किसी रोक-टोक के उन्हें दुकानों में भी आने दे रहे हैं। किसी भी दुकान पर कोरोना के नियमों का पालन नहीं किया जा रहा है। बाजार खुलने से पहले व्यापार संघों ने बड़े दावे किये थे कि दुकान के बाहर सैनिटाइजर और मास्क उपलब्ध कराया जायेगा, लेकिन किसी दुकान पर यह व्यवस्था देखने को नहीं मिल रही है। सभी बाजारों में ऐसा ही हाल नजर आ रहा है।

दुकानदारों ने भी शुरू किए आॅफर

उधर, दुकानदारों ने ग्राहकों को लुभाने के लिए तरह तरह के आॅफर शुरू किये हुए हैं। आबूलेन, सदर बाजर में बड़े-बड़े शोरूमों ने एक से बढ़कर एक आॅफर निकाल रखे हैं। कोई 70 प्रतिशत तो कई 50 प्रतिशत तक की छूट के साथ आॅफर दे रहा है।

इसके अलावा इलेक्ट्रोनिक्स, कपड़ा बाजार, चादर, रेडीमेंट गारमेंट्स सभी पर कोई न कोई आॅफर निकाला गया है। जिससे लोग बाजारों की ओर टूट रहे हैं। उधर, आने वाले दिनों की बात करें कल ईद है और इसके बाद रक्षाबंधन भी अगस्त माह में ही पड़ेगा। जिसको लेकर बाजारों में खूब रोनक दिखाई पड़ रही है।

ऐसे में दुकानदारों के साथ साथ खरीदारी करने आने वालों की भी जिम्मेदारी बनती है कि वह बाजार में जाए तो अपनी सुरक्षा खुद करें। मास्क पहने, सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें लेकन ऐसा कुछ बाजारों में नजर नहीं आ रहा है।

अवैध रूप से कमेला रोड पर लग रही बकरा पैंठ

ईद को लेकर कमेला रोड पर बकरा पैंठ लगी हुई है। जहां सुबह से शाम तक बकरे बेचने आने वालों और खरीदने वालों की भीड़ लगी हुई है। यहां बकरा पैंठ तो अवैध रूप से लग ही रही है। साथ ही अवैध रूप से पैंठ लगवाने वाले ठेकेदार भी निकलकर सामने आ रहे हैं। यह ठेकेदार यहां बकरा बेचने आने वालों से एक बकरे की बिक्री पर 200 से 500 रुपये वसूल रहे हैं और यह सब कार्य यहां पुलिस की नाक के नीचे चल रहा है। जिसको कोई रोकने वाला नहीं है।

बकरा ईद को लेकर कमेला रोड पर अवैध रूप से बकरा पैंठ लगा दी गई है। यहां हजारों की संख्या में लोगों की भीड़ बकरे खरीदने पहुंच रही है और कोई यहां रोकने वाला नहीं है। कोरोना नियमों की खुलेआम धज्जियां उड़ाई जा रही हैं, लेकिन कोई कुछ कहने को तैयार नहीं है। हद तो तब हो गई जब यहां पैंठ लगवाने वाले ठेकेदार भी खुलकर सामने आ गए।

जानकारी के अनुसार यहां रिजवान कुरैशी नाम का एक युवक अवैध रूप से बकरा पैंठ लगवा रहा है। वह एक बकरे की बिक्री पर 200 रुपये से 500 रुपये की वसूली कर रहे हैं। यह कार्य जब हो रहा है जब पास में ही पुलिस चौकी स्थित है, लेकिन सारा खुले खुलेआम चल रहा है।

पैंठ में हजारों की संख्या में लोग बकरे खरीदने पहुंच रहे हैं, जो न तो कोरोना नियमों का पालन कर रहे हैं और अवैध रूप से पशु भी बेच रहे हैं। पैंठ लगवाने वाला युवक बसपा सरकार में मंत्री रहे एक नेता का भतीजा बताया जा रहा है।

पैंठ में प्रतिबंधित पशुओं की हो रही बिक्री

प्रशासन की ओर से पैंठ की अनुमति नहीं है उसके बावजूद खुलेआम बकरा पैंठ लग रही है। बकरे के अलावा इस पैंठ में भैंस और कटरा तक बेचा जा रहा है, लेकिन इसे कोई रोकने वाला नही है। मेरठ समेत पूरे प्रदेश में रात दस बजे के बाद सभी बाजार बंद होने के आदेश हैं, लेकिन लिसाड़ी क्षेत्र स्थित कमेला रोड पर पूरी रात बाजार खुल रहा है। यहां आधी रात 12 बजे तक बकरों की खरीदारी खुलेआम हो रही है, लेकिन इस ओर प्रशासन का कोई ध्यान नहीं है। प्रतिबंधित पशुओं की भी बिक्री हो रही है, लेकिन पुलिस इसे देखते हुए भी अनजान बनी हुई है।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments