Thursday, January 27, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutबाहरी दे रहे कोरोना का दर्द

बाहरी दे रहे कोरोना का दर्द

- Advertisement -
  • गुरु, शुक्र और शनि तीनों दिन मेरठ पर रहे भारी, मृतकों की संख्या चार पहुंची

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: विदेश या फिर दूसरे राज्यों की ट्रेवल हिस्ट्री लोगों के लिए मुसीबत बढ़ा रही है। दूसरे राज्यों से यात्रा कर लौटे लोग कोरोना वायरस के वाहक बनते जा रहे हैं। बड़ी संख्या में यात्रा से लौटे लोग संक्रमित पाए जा रहे हैं।

इनके संपर्क में आने वाले भी पॉजिटिव मिल रहे हैं। इससे स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ गई है। पॉजिटिव पाए जाने पर यात्रियों के नमूने को जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजा जा रहा है।

एसपी सिटी विनीत भटनागर मुंबई (महाराष्ट्रा) गए थे, वहां से कोरोना पॉजिटिव होकर लौटे। सदर में जो फैमिली कोरोना पॉजिटिव निकली है, उसकी ट्रेवल हिस्ट्री भी केरल से घूमकर लौटना बताया गया।

इस तरह से विदेश या फिर दूसरे राज्यों से घूमकर लौटे लोग ही कोरोना संक्रमित हो रहे हैं। मेरठ में करीब 1038 से ज्यादा कोरोना के सक्रिय मरीज हैं। इनमें करीब 150 लोग यात्रा से लौटने के बाद संक्रमित पाए गए हैं। इनके संपर्क में आए करीब 297 लोग भी पॉजिटिव मिले हैं। बाकी यात्री व उनके संपर्क में आने वाले कोरोना के शिकार बने हैं। सबसे ज्यादा दिल्ली, केरल, उत्तराखंड, पंजाब, मुंबई से लौटे यात्री ही पॉजिटिव मिल रहे हैं।

विवि हॉस्टल में दो पॉजिटिव, कई को बुखार

चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय में शनिवार को कोरोना के टेस्ट हुए जिसमें आरके हॉस्टल और दुर्गा भाभी में एक छात्र और छात्रा के संक्रमित पाए जाने के बाद हड़कंप मच गया

। वहीं, आरके हॉस्टल के सात छात्रों को बुखार होने की वजह से उन्हें आइसोलेट किया गया है। वहीं, इसे लेकर शनिवार को छात्रों ने हंगामा किया। उनका कहना है या तो हॉस्टल बंद किया जाए और इन बीमार छात्रों को घर भेजा जाए, या तो सभी का ठीक से उपचार कराया जाए।

कोविड के चलते 16 तक बंद रहेंगे सभी डिग्री कॉलेज

कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए शनिवार को शासन की ओर से विश्वविद्यालय व उससे संबंधित कॉलेजों में 16 जनवरी तक के लिए अवकाश घोषित कर दिया गया है।

इस यदि किसी कॉलेज में परीक्षा संचालित की जा रही हैं तो वह यथावत रहेंगी।

कोरोना से राहत नहीं, मवाना के मरीज की मौत, 560 संक्रमित
जनपद में सक्रिय मरीजों का आंकड़ा 1581, होम आइसोलेश में 1564

जनपद में कोरोना वायरस का खतरा लगातार बढ़ता ही जा रहा है। केस बढ़ने के साथ ही मौत का आंकड़ा भी बढ़ने लगा है। शनिवार को एक और मरीज ने उपचार के दौरान दम तोड दिया और मरने वालों की संख्या चार हो गई।

शुक्रवार को जिले में जहां 405 नए संक्रमित मिले थे, वहीं, शनिवार को 560 नए केस सामने आए हैं। अब कोरोना के सक्रिय मरीजों का आंकड़ा 1581 पहुंच गया और होम आइसोलेशन की संख्या 1564 है। मृतक मवाना का निवासी था।

गुरुवार से एक और शुक्रवार को दो मरीजों की मौत हुई थी। तीनों दिन केस और मौत के मामले में मेरठ पर भारे रहे।

संक्रमितों की संख्या रोजाना सैकड़ों में बढ़ रही है। जिससे जिले के हालात पहले की तरह ही खराब होते जा रहे हैं।

बता दें कि, गुरुवार को जहां कोरोना ने तिहरा शतक लगाया था, वहीं शुक्रवार को 400 के पार आंकड़ा पहुंचा था। शनिवार को यह संख्या और बढ़ी और आंकड़ा पांच सौ को भी पार कर गया। ऐसे में संक्रमण बड़े स्तर पर फैलने के खतरे के संकेत मिल रहे हैं।

इस बार बच्चों के संक्रमित होने की संख्या भी डरावनी होती जा रही है। सर्विलांस अधिकारी डा. अशोक तालियान ने बताया कि शनिवार को 6253 सैंपल की जांच रिर्पोट आई। जांच में 560 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है।

नए संक्रमितों में 329 पुरुष, 231 महिला और 24 बच्चे शामिल हैं। अब जिले में कुल सक्रिय मरीज 1581 हो गए हैं और होम आइसोलेशन में 1564 हैं। 7103 लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। 16 मरीजों को ठीक होने के बाद घर भेज दिया गया है।

शहरी क्षेत्र में मिल रहे कोरोना के अधिक केस

कोरोना का कहर शहर में ही नहीं बल्कि देहात में बरपा रहा है। कोरोना के ज्यादा संक्रमित शहरी क्षेत्र में मिल रहे हैं जबकि देहात क्षेत्र में इसकी संख्या कम है।

शनिवार को सीएचसी/पीएचसी वार जारी किए गए स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों में इस बात की पुष्टि हुई है। शहरी क्षेत्र की जय भीम नगर, नंगला बट्टू, पुलिस लाइन, राजेंद्र नगर, कैंट, लल्लापुरा, रजबन, संजय नगर, कसेरू बक्सर, साबुन गोदाम, ब्रह्मपुरी व पलहेड़ा में संक्रमित ज्यादा मिले हैं। वहीं, देहात में दौराला और अब्दुल्लापुर में ज्यादा नए केस मिले हैं।
कोरोना अपडेट

नए संक्रमित मरीज 560

सैंपल जांच को भेजे 7103

सैंपल जांच की रिपोर्ट 6253

अस्ताल में भर्ती मरीज 17

होम आइसोलेशन केस 1564

कुल सक्रिय मरीज 1581

मृतकों की संख्या 01

ठीक हुए मरीज 16

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments